close
दिल्लीदेश

राहुल गांधी के बयान को लेकर भाजपा सांसदों का हंगामा, माफी मांगने की मांग लोकसभा राज्यसभा स्थगित

Parliament house
Parliament house

नई दिल्ली/ कांग्रेस नेता राहुल गांधी के ब्रिटेन की केब्रिज यूनिवर्सिटी और अन्य बयानो को लेकर आज भाजपा सांसदों ने लोकसभा और राज्यसभा में जमकर हंगामा किया और सदन की कार्यवाही नही चलने दी जिससे सदन कल तक के लिए स्थगित कर दिया गया। बीजेपी सांसदों की मांग थी कि राहुल गांधी लंदन में दिए गए बयान के लिए माफी मांगे। इधर कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे का आरोप है बीजेपी अडानी मुद्दे से ध्यान भटकाने के लिए ऐसा कर रही हैं।

बीजेपी सांसदों ने राहुल गांधी के लंदन में दिए बयान को मुद्दा बनाते हुए आज लोकसभा और राज्यसभा दोनों सदनों में जमकर हंगामा किया और राहुल गांधी से तुरंत माफी मांगने की मांग की भाजपा इसको लेकर केंद्रीय मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि राहुल गांधी ने लंदन में भारत को बदनाम करने की कोशिश की है और भारत के लोकतंत्र को बचाने वह बाहर के देशों से आव्हान कर रहे है उनका यह बयान बिलकुल गलत और झूठा है वह इस संसद के सदस्य है उन्हे यहां आकर माफी मांगना चाहिए। जबकि राज्यसभा में बीजेपी नेता पियूष गोयल ने हंगामे के बीच राहुल गांधी से माफी मांगने की मांग करते हुए कहा उन्होंने संसद सेना चुनाव आयोग प्रेस सुरक्षा को लेकर गलत बयान दिया जिसके लिए उन्हें छोड़ा नहीं जा सकता।

इधर कांग्रेस अध्यक्ष और राज्यसभा में विपक्ष के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने मोदी सरकार और बीजेपी पर तीखा हमला करते हुए कहा कि सब देख रहे है आज देश में डिक्टेटरशिप चल रही है अडानी मामले में विपक्ष की मांग जेपीसी के गठन की है लेकिन मोदी सरकार हमारी मांग नही मान रही बीजेपी जो हंगामा कर रही है वह केवल अडानी और आज के ज्वलंत मुद्दो से ध्यान हटाने के लिए कर रही है लेकिन कांग्रेस भी विक्रम और बेताल की तरह मोदी सरकार और बीजेपी का पीछा नहीं छोड़ने वाली।

लंदन में केब्रीज यूनिवर्सिटी और अन्य कार्यक्रमों और इंटरव्यू में कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने कहा था कि भारत में विपक्ष को संसद में बात नहीं करने दी जाती माइक बंद कर दिए जाते है केंद्रीय एजेंसियों पर सरकार का कब्जा है मीडिया मोदी सरकार के साथ है और भारत में लोकतंत्र खतरे में हैं उन्होंने कहा कि भारत विश्व का सबसे बड़ा लोकतंत्र है यदि वह खतरे में आता है तो उसका प्रभाव अमेरिका और ब्रिटेन के साथ दुनिया के अन्य लोकतांत्रिक देशों पर भी पड़ेगा।

Tags : Politics

Leave a Response

error: Content is protected !!