close
ग्वालियरमध्य प्रदेश

चंबल का पवित्र जल और पीताम्बरा पीठ की माटी लेकर अयोध्या जायेंगे पवैया

  • आज वर्षों की साध और सपना पूरा हो रहा है …

  • चंबल का पवित्र जल और पीताम्बरा पीठ की माटी लेकर अयोध्या जायेंगे पवैया

ग्वालियर– बजरंग दल के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष और पूर्व मंत्री जयभान सिंह पवैया सोमवार की सुबह अयोध्या के लिए रवाना होंगे। यहां वे 5 अगस्त को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगुवाई में राम मंदिर निर्माण के लिए हो रहै भव्य भूमिपूजन कार्यक्रम के साक्षी बनेंगे।

इस मौके पर वे चंबल नदी का जल कलश और दतिया स्थित पीतांबरा पीठ मंदिर के सिद्ध स्थल की पवित्र माटी को भी अपने साथ ले जा रहे हैं पवैया यह राम जन्मभूमि न्यास के अध्यक्ष महंत नृत्य गोपाल दास को सौंपेंगे।

श्री पवैया ने कहा आज वर्षों की साध और बहुप्रतीक्षित सपना पूरा हो रहा है मन मे भावनाओं का ज्वार उठ रहा है आज लंबे इतिहास की मंगल घड़ियां आई हैं लेकिन हमें 1528 से आज तक के बलिदानियों को भी नही भूलना चाहिये, जिन्होंने राममंदिर के लिये खुद को उजाड़ लिया। उन्होंने बताया पूज्य महंत नृत्य गोपालदास के आदेश से वे भी इन अमूल्य क्षणों के साक्षी बनेंगे।

उनका कहना है कि 1992 में बाबरी विध्वंस के दौरान वह भी आडवाणी जोशी अशोक सिंघल सहित अन्य प्रणेताओं के नेतृत्व में एक कार सेवक के रूप में अयोध्या में मौजूद थे उन्होंने कहा वह विध्वंश किसी मस्जिद का नही था औरंगजेब और उनके सेनापति जैसे आक्रांताओं की गलत कारगुजारी और उनके पराभव का अंत था।

6 दिसंबर 92 की ढांचे को गिराने के दौरान अयोध्या में कारसेवकों का नेतृत्व करने वाले लालकृष्ण आडवाणी और मुरली मनोहर जोशी को भूमि पूजन का न्यौता नही मिलने पर पवैया ने कहा इस बात को तूल ना दे इसको जाति धर्म राजनीति से तोलकर नही देखिये वहां जो भी रहेगा वह रामभक्तों के प्रतिनिधि के रूप में होगा।

वीडियो देखें

Alkendra Sahay

The author Alkendra Sahay

A Senior Reporter

Leave a Response

error: Content is protected !!