close
ग्वालियरमध्य प्रदेश

ग्वालियर में विशेष चोर गैंग सक्रिय, दो दर्जन चोरियों के बाद भी पुलिस के हाथ खाली

thief cctv footage
thief cctv footage
  • ग्वालियर में विशेष चोर गैंग सक्रिय,

  • दो दर्जन चोरियों के बाद भी पुलिस के हाथ खाली

ग्वालियर – मध्यप्रदेश के ग्वालियर के पॉश इलाकों और प्रमुख बाजारों में आजकल चोरों का एक ऐसा शातिर गिरोह सक्रिय है जो महंगा सामान चोरी नही करता बल्कि केवल नगदी पर हाथ साफ कर रहा है अभी तक इन चोरों ने करीब दो दर्जन चोरियों को अंजाम दिया लेकिन फिलहाल पुलिस अभी तक वह एक भी आरोपी को पकड़ना तो दूर इस चोर गैंग का कोई सुराग भी नही लगा पाई हैं।

कहा-कहा हुई चोरी?

ग्वालियर के हरीशंकरपुरम, चेतकपुरी, माधवनगर, सिटी सेंटर, इंदरगंज में पिछले दिनों यह चोर गैंग सक्रिय हुआ हरीशंकर पुरम में एक दफ्तर में इसने रात के वक्त बगल में लकड़ी के दरवाजे के ताले की कुंडी तोड़कर चोरी की कोशिश की और वहां रखी लकड़ी की अलमारियों को खंगाला लेकिन उसमें पैसे नही थे वही दफ्तर में रखे कंप्यूटर, एलईडी टीवी एवं अन्य महंगे सामान को चोरों ने हाथ नही लगाया और बेरंग बापस हो लिये, इसी तरह चेतकपुरी में एक मेडीकल की दुकान को चोरों ने निशाना बनाया और दुकान के गल्ले में रखे करीब 50 हजार रुपये पर हाथ साफ कर दिया और किसी चीज को चोरों ने हिलाया भी नही।

ठाठीपुर थाना क्षेत्र के ताराभाई कालोनी में रहने वाले टेक्नीशियन गिर्राज तिवारी के घर में चोरों ने 50 हजार नगदी सहित सोने चांदी के जेवरातों की चोरी की घटना 1 नवंबर रात की हैं। इस घटना में जो सीसीटीवी फुटेज मिले है उसमें दो चोर नजर आ रहे हैं।

पूर्व सांसद के घर चोरी

जबकि पूर्व सांसद रामसेवकसिंह बाबूजी के माधवनगर स्थित घर मे 16 नवंबर की रात चोरों ने धावा बोला और 25 लाख नगदी और 5 लाख कीमत के जेवरों को चुरा ले गए झांसी रोड थाना पुलिस कॉलोनी में सीसीटीवी फुटेज खगाल रही है वही उसे कुछ फिंगर प्रिंट्स भी मिले है।लेकिन अभी तक पुलिस को चोरों का कोई सुराग नहीं मिला। खास बात है चोरों ने केवल 17 मिनट में इस बड़ी चोरी की वारदात को अंजाम दिया। जिस समय चोरी की घटना हुई उस समय बिजली गुल होने से कॉलोनी के अधिकांश सीसीटीवी कैमरे बंद थे एक कैमरा चालू था जिसमें रात 12.15 बजे चोर नजर आये। और 12.32 पर माल लेकर चोर रफूचक्कर हो गये।

थाने से सिर्फ 100 मीटर की दूरी पर चोरी

अब पिछली रात इंदरगंज में इन्होंने खुलेआम पुलिस को चुनोती दे दी, थाने से सिर्फ 100 मीटर की दूरी पर स्थित परिकल्प टॉवर में इन शातिर चोरों ने धावा बोला और इस अपार्टमेंट की पहले और दूसरे माले पर एक साथ 9 दफ्तरों को निशाना बनाया यहां भी चोरों ने वही पुरानी कहानी दोहराई, और डीपी सिंह एडवोकेट, एडवोकेट प्रदीप गुप्ता,बीएन कंसल्टेंट बाजोरिया आर्किटेक्ट शर्मा एंड संस, सीए जेसवानी, वर्मा एकाउंट्स, रेपिडो बाइक सर्विस की दुकानों और दफ्तरों के ताले तोड़े और केवल चोरों ने नगदी चोरी की और महंगे सामान को छुआ तक नही।

सुबह सबसे पहले एडवोकेट डीपी सिंह अपने ऑफिस पहुंचे फायले बिखरी थीं टेबल की दराज में रखें 50 हजार रुपये गायब थे लेकिन उनके मुताबिक उनका लेपटॉप और मोबाइल चोर नही ले गये। इसके अलावा अन्य दुकानों और दफ्तरों की भी चोरों ने खानातलाशी ली और 2 से 5 हजार की रकम सहित चोर करीब 1.40 लाख की नगदी चोरी कर ले गए। यहां लगें सीसीटीवी कैमरे के फुटेज में दो चोर नजर आ रहे है लेकिन दोनों ही अपना चेहरा कपड़े से लगभग पूरी तरह ढके है जिससे उनके चेहरे साफ़ तौर पर दिखाई नही दे रहे वही उंसके आधार पर पुलिस खोजबीन कर रही हैं।

सीसीटीवी फुटेज सामने आये

अभी तक जो सीसीटीवी फुटेज सामने आये है उसमें दो चोर साफ तौर पर दिखाई दे रहे है, जो कपड़े से मुंह बांधे है और उनके हाथों में ताला तोड़ने के लिये सब्बल और लोहे का आंकड़ा साफ दिखाई दे रहा है लेकिन इन चोरों के सिर्फ नगद और कुछ जगह जेवरातों की चोरी करने से कई शंकाएं जन्म लेती है जो चोरों के तौर तरीके उनकी अति सावधानी के साथ खुद को सेफ रखने की तरतीव भी सामने आती हैं। मोबाइल लेपटॉप कंप्यूटर और अन्य सामान चोरी नहीं करना उनके बचाव का बड़ा कारण है क्योंकि मोबाइल और लैपटॉप चोरी के बाद बेचते है तो उनका आईएमईआई , और आईपी एड्रेस से उनके पकड़े जाने का खतरा बन जाता हैं।

चूंकि चोर अधिकांश जगह सिर्फ नगदी चुरा रहे हैं इसलिये जहां चोरों ने नगदी और जेवरात चुराऐं उन्हीं लोगों ने पुलिस में रिपोर्ट की और जिन दफ्तरों या अन्य जगहों पर चोर महंगा सामान या अन्य कोई चीज नही ले गये उन लोगों ने किसी तरह की रिपोर्ट पुलिस में नही की होगी । इससे साफ होता है कि इस महिने के पहले हफ्ते से हो रही यह चोरी की वारदातें कई अधिक हो सकती है।

Tags : Crime
Alkendra Sahay

The author Alkendra Sahay

A Senior Reporter

Leave a Response

error: Content is protected !!