close
ग्वालियरमध्य प्रदेश

दावों के बावजूद भिण्ड में जमकर हिंसा

Team India Wins 4th Test Vs England

ग्वालियर/भिण्ड – चुनाव आयोग और सरकार के तमाम दावों के बावजूद भिण्ड के अटेर उप चुनाव में जमकर हिंसा हुई। कई मतदान केंद्रो पर कांगे्रस और भाजपा के समर्थको के बीच टकराव होते रहे, तो गोअर कला में दोनो दलों के समर्थको के बीच फायरिंग और लाठी चली जिसमे आधा दर्जन लोग घायल हो गए। इसी तरह साकरी में कांगे्रस प्रत्याशी हेमंत कटारे की गाडी में तोडफोड हुई। यहां मतदान को लेकर कटारे और पीठासीन अधिकारी के बीच कथित बूथ कैप्चरिंग को लेकर तीखी बहस हुई। कटारे ने जिला निर्वाचन अधिकारी से इस बात की शिकायत की है।

उन्होंने निर्वाचन आयोग को भी बूथ कैप्चरिंग और पुलिस मौजूदगी में उन पर हमला करने की शिकायतें भेजी है। इसी तरह रातों-रात बदले गए 6 थाना प्रभारियों और आंध्रप्रदेश के मुख्य निर्वाचन पद अधिकारी भवंरलाल को लेकर भाजपा ने शिकायत की है। भिंड जिले की अटेर विधानसभा क्षेत्र में रविवार को उपचुनाव की वोटिंग हुई। सुबह से शाम तक वोटिंग के बीच भाजपा एवं कांग्रेस प्रत्याशियों तथा उनके समर्थकों में जगह-जगह झड़प व झगड़े होते रहे।

इस झगड़े में एक जगह दोनों पक्षों के बीच फायरिंग भी हुई जिसमें राजकुमार गुर्जर नामक व्यक्ति घायल हो गया। वहीं भाजपा एवं कांग्रेस प्रत्याशी तथा पार्टी नेता भिंड के अलावा भोपाल व दिल्ली में निर्वाचन अधिकारियों को एक-दूसरे के खिलाफ लिखित में शिकायतें करते रहे। दोनों ही दलों ने एक दूसरे पर फर्जी वोटिंग और उपद्रव के आरोप लगाए।

कांग्रेस ने एक दर्जन से पोलिंग बूथों पर फर्जी वोटिंग और कई पुलिस अफसर व कर्मचारियों द्वारा भाजपा के पक्ष में वोटिंग कराने के आरोप लगाए वहीं भाजपा ने 75 लोगों के अलावा 50 से अधिक सरकारी कर्मचारियों के खिलाफ निर्वाचन आयोग को शिकायत कर कहा कि ये लोग कांग्रेस प्रत्याशी के लिए वोट डलवा रहे हैं। प्रारंभिक सूचना के आधार पर अटेर में 60 प्रतिशत से अधिक वोटिंग हुई है।

प्रशासनिक एवं राजनीतिक सूत्रों के मुताबिक दिनभर चले हंगामें के कारण पिछड़े व दलित वर्ग के अधिकांश वोटर वोट डालने नहीं निकल पाए हैं। जबकि इस क्षेत्र में बघेल, पाल, जाटव, लोधी व अन्य पिछड़ी जाति की वोट संख्या 35 से 40 हजार है और यही वोट इस क्षेत्र में निर्णायक भूमिका निभाता है।

वोटिंग के बाद भी दोनों ही दल अपनी जीत को लेकर मजबूत दावा नहीं कर पा रहे हैं। जहां कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अरूण यादव ने भाजपा पर सरकारी मशीन का दुरूपयोग कर फर्जी वोटिंग का आरोप लगाया है। वहीं भिंड के प्रभारी और मप्र के कैबिनेट मंत्री उमाशंकर गुप्ता ने निर्वाचन अधिकारी भंवरलाल पर कांग्रेसी कार्यकर्ता की तरह वोटिंग कराने का आरोप लगाया है।

 

Alkendra Sahay

The author Alkendra Sahay

A Senior Reporter

Leave a Response

error: Content is protected !!