close
राजस्थान

राजस्थान की सत्ता को पटरी पर लाये सचिन पायलट

  • राजस्थान की सत्ता को पटरी पर लाये सचिन पायलट…

  • कहा पार्टी से बड़ा कोई नही लेकिन सम्मान भी जरूरी…

  • हाईकमान ने सामंजस्य के लिये कमेटी बनाई…

जयपुर– राजस्थान में पिछले 33 दिनों से चल रही सत्ता की उठा-पटक में आखिरकार ब्रेक लग ही गया….वजह साफ है बागी हुए सचिन पायलट का वापिस अपने घर लौट आना…दरअसल कोंग्रेस अध्यक्ष सोनिया गाँधी, राहुल गांधी और प्रियंका गांधी से हुई पायलट की मुलाकात में राज्य में चल रही मनमानी और उनको नजरअंदाज किये जाने को लेकर हो रही परेशानियों को साँझा किया….

जिसपर गांधी परिवार ने सभी पहलुओं पर जांच करने का उन्हें भरोसा दिया और पायलट खेमे की शिकायतें सुनने के लिए एक समिति भी गठित कर दी गयी है….इस सब वाक्या में प्रियंका गांधी संकट मोचन बन कर सामने आई।

भव्य स्वागत से भावुक हुए पायलट, कहा संघर्ष किया तब पार्टी सत्ता में आई-

दिल्ली से राजस्थान की राजधानी जयपुर आये पायलट का कोंग्रेस कार्यकर्ताओ ने भव्य स्वागत किया अपने आत्मीय स्वागत से पायलट भावुक हो गये और इस बीच उन्होंने कहा कि हमने पार्टी को जिस मुकाम पर पहुचाया है फिर जब हमें ही नजरअंदाज किया जाए तो दुख होता है पीड़ा होती है….

अशोक गहलोत इस पार्टी के बहुत ही वरिष्ठ नेता है और उनसे मुझें कोई शिकायत नही है लेकिन कोई भी आदमी पार्टी से बड़ा नही होता…

गहलोत जी और मैंने कार्यकर्ताओ ने संघर्ष किया धरना प्रदर्शन किया लाठियां खाई जेल गये आज जब पार्टी सत्ता में है जनहित में सभी की बात सुनी जाना चाहिये आम लोगों को जो वायदे हमने किये उन्हें पूरा करना हमारी जिम्मेदारी है …जिसके बाद पार्टी राजस्थान में सत्ता में आई है….

उन्होंने यह भी कहा कि राजनीति में बयानबाजी सोच-समझकर होनी चाहिए और उसकी भाषा भी मर्यादित होनी चाहिए पायलट ने जयपुर लौटने पर मीडिया से बातचीत में यह भी कहा कि पार्टी में अपनी बात रखने की पूरी आजादी होना चाहिये ।

जिससे जो विधायक या कार्यकर्ता किसी बजह से परेशान है उन्हें अपनी बात रखने का मौका मिल सके पायलट ने कहा कि पार्टी में सभी का सम्मान होना भी बहुत जरूरी है।

पायलट और विधायक जयपुर पहुंचे –

फिलहाल सचिन लौट कर अपनी पार्टी में दोबारा आ गये है वही 14 अगस्त को होने वाले विधानसभा सत्र में सभी विधायक और मंत्री एक साथ दिखाई देंगे …पायलट खेमे के विधायक फिलहाल जयपुर में आ गए है लेकिन कांग्रेस के अन्य विधायक अब भी जोधपुर में ही डेरा जमाए हुए है…

वह भी कल जयपुर आ जायेंगे सचिन की वापसी से कांग्रेस में सभी लोग बहुत खुश है। और 14 अगस्त को शुरू हो रहे विधानसभा सत्र में अब कांग्रेस पूरी ताकत से भरी दिखाई देगी।

तीन सदस्यीय कमेटी का गठन –

इधर सचिन पायलट की शिकायतों को दूर करने और पायलट और अशोक गहलोत के बीच खाई को भरने के लिये कांग्रेस हाईकमान ने तीन सदस्यीय कमेटी का गठन किया है जिसमे प्रियंका गांधी अहमद पटेल और के सी वेणुगोपाल को रखा गया हैं।

Leave a Response

error: Content is protected !!