close
भोपालमध्य प्रदेश

आयकर टीम की छापेमारी फैथ बिल्डर्स और उसकी कंपनी के 10 ठिकानों पर कार्यवाही जारी

  • आयकर टीम की छापेमारी फैथ बिल्डर्स और उसकी कंपनी के 10 ठिकानों पर कार्यवाही जारी

भोपाल – मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल सहित प्रदेश में फेथ बिल्डर्स और उसकी सहायक कंपनियों के 10 ठिकानों पर आयकर विभाग की टीम ने आज सुबह एक साथ छापेमार कार्यवाही की है और उनके ऑफिस और अन्य जगह मिले दस्तावेजों की जांच कर रही है।

बताया जाता है इनके साथ 112 बेनामी कंपनियों के जुड़े होने की खबर है फेथ ग्रुप से इस दौरान तमाम कई कंपनियां और भी जुड़ी और अपना पैसा भी उन्होंने लगाया है।बताया जाता है आयकर की टीम इन्ही सब बिंदुओं को खगाल रही है ।

भोपाल में अब तक की यह सबसे बड़ी इनकम टैक्‍स की छापेमारी बताई जा रही है चूकि कोरोना काल मे आयकर विभाग की यह कार्यवाही खास मायने रखती है क्योंकि इस समय आईटी ने रेट को रोका हुआ है आईटी की यह जांच फेथ ग्रुप के मालिक राघवेंद्र सिंह तोमर के घर और कार्यालयों पर की जा रही है।

बताया जाता है राघवेंद्र सिंह मध्यप्रदेश कैडर के एक आईपीएस के नजदीकी रिश्तेदार भी है। जिनके भोपाल के अलावा इंदौर सहित कमोवेश 10 ठिकानों पर आज आयकर की टीमों के एक साथ छापेमार कार्यवाही की है।

फेथ ग्रुप और कई फर्मो से जुड़े है राघवेंद्र सिंह तोमर जिनके कई राजनेताओं से रिश्ते भी उजागर हो सकते हैं बताया जाता है कुछ आईएएस और आईपीएस का संबंध भी इस कंपनी के इस छापेमार कार्यवाही से सामने आ सकता हैं,

खास बात है कोरोना के संकट काल में रोक के बाद आईटी का छापा पड़ने से कई सबाल उठना लाजिमी हैं। हाल में फेथ बिल्डर्स ने भोपाल में 200 करोड़ की लागत से क्रिकेट अकेडमी का निर्माण किया था।

बताया जाता है आयकर विभाग की तभी से इनपर नजर थीं इसके साथ ही पिछले साल ईडी में एक शिकायत की गई थी कि फेथ बिल्डर्स और उसकी प्रमोटर कंपनियों में भोपाल के कई बड़े अफसरों का पैसा लगा है ईडी ने इसकीं जांच प्रत्यक्ष कर बोर्ड से करवाई थी जिसमें 500 करोड़ की बड़ी राशि का पता चला था बताया जाता है यह रिटायर्ड अधिकारियों का पैसा है जो इन कंपनियों में निवेश हुआ था।

कांग्रेस का आरोप हैं कि कोरोना काल में समय बिताने वाले प्रदेश सरकार के एक मंत्री के करीबी रिश्ते भी इस कंपनी के मालिक से रहे है । कांग्रेस को बैठे बिठाये बीजेपी पर हमला करने का मौका मिल गया प्रदेश प्रवक्ता के के मिश्रा ने ट्वीट कर निशाना भी साधा हैं।

Leave a Response

error: Content is protected !!