close
Uncategorized

मासूम प्रदुम्न की हत्या स्कूल के छात्र ने की थी सीबीआई ने किया खुलासा, आरोपी गिरफ़्तार, हरियाणा पुलिस पर उठे सवाल

Elephant killed his owner
  • मासूम प्रदुम्न की हत्या स्कूल के छात्र ने की थी सीबीआई ने किया खुलासा,
  • आरोपी गिरफ़्तार, हरियाणा पुलिस पर उठे सवाल

गुरुग्राम – 7 वर्षीय मासूम प्रदुम्न हत्याकांड में अब नया मोढ आ गया है और इस मामले की जाँच कर रही सीबीआई के मुताबिक प्रदुम्न का कत्ल रायल इन्टरनेशनल स्कूल के ही 11 वीं कक्षा के एक छात्र ने किया था जिसे सीबीआई ने गिरफ़्तार कर लिया है बताया जाता है परीक्षा की तारीख बड़ाने के लिये इसने प्रदुम्न की हत्या की थी। लेकिन सीबीआई की इस कार्यवाही से हरियाणा पुलिस की कार्यवाही पर सबाल उठ रहे है जिसने बस कन्डेक्टर अशोक को इस हत्याकांड का दोषी बताया था और सीखचों के पीछे भेज दिया। तो क्या हरियाणा पुलिस ने फ़र्जी तथ्यों के आधार पर हत्या आरोपी की झूठी कहानी गढी?

सीबीआई ने इस हत्या का सनसनी खेज खुलासा किया है उसने दावा किया कि प्रदुम्न की हत्या रायल इन्टरनेशनल स्कूल के कक्षा 11 के एक छात्र ने की थी, जिसे सीबीआई ने धारा 302 के तहत गिरफ़्तार कर लिया है जिसने सीबीआई की पूछताछ में अपना गुनाह स्वीकार कर लिया हैं और छात्र ने कहा है कि स्कूल की परीक्षाओं को केन्सिल कराने के लिये उसने ही चाकू से प्रदुम्न का गलाकाट कर हत्या की है जिससे स्कूल बंद हो जाये और परीक्षाएं टल जाये। बताया जाता है सीसीटीवी फ़ुटेज से आरोपी छात्र की पहचान हुई है। सीबीआई के मुताबिक उक्त छात्र ने प्रदुम्न की हत्या सोच समझ कर की है।

सीबीआई ने नावांलिग होने से उक्त आरोपी छात्र को जुबेनाइल होम में रखा है जिसे आज जुबेनाइल जस्टिस बोर्ड के सामने पेश किया गया । सीबीआई जिसका रिमांड ले रही है। सीबीआई के प्रवक्ता अभिषेक दयाल ने बताया कि आरोपी छात्र एक दिन पहले ही नया चाकू लेकर आया था और वारदात के सबूत सीसीटीवी के फ़ुटेज से सीबीआई को मिले है।

8 सितम्बर को मासूम प्रदुम्न की गला काटकर हत्या की घटना को अंजाम दिया गया था और हरियाणा पुलिस ने अपनीे जाँच में स्कूल के बस कन्डेक्टर अशोक को हत्या का आरोपी बताकर गिरफ़्तार किया था। पुलिस के मुताबिक अशोक टायलेट में कुछ आपत्ति जनक कार्य कर रहा था इस बीच प्रदुम्न आ गया उसने देख लिया और अपनी पोल खुलने के डर से अशोक ने उसकी हत्या कर दी थी इस घटना के बाद गुरूग्राम या हरियाणा ही नही पूरे देश में सनसनी फ़ैल गई थी वही म्रत बच्चे के मातापिता और परिवार पर कहर टूंट गया था। परन्तु आज जब सीबीआई ने पूरा मामला ही पलट दिया तो हरियाणा पुलिस की कहानी और जाँच संदिग्ध हो जाती है। फ़िर सबाल उठते है कि पुलिस ने किसके दबाव में ऐसा केस बनाया। क्या पुलिस ने असली कातिल को बचाने की कोशिश की और क्यों और किसके इशारे पर ? अब क्या सीबीआई हरियाणा पुलिस की भूमिका की भी जाँच करेगी?

पुलिस ने प्रदुम्न की हत्या मामले में जिस अशोक को पकड़ा उसकी पत्नि ममता का कहना है कि उसके पति को पुलिस ने बुरी तरह पीटा उल्टा लटकाया और जबरन हत्या की वारदात कबूलने के लिये दबाव बनाया। वही सीबीआई के खुलासे से अशोक के परिवार में खुशी है उन्होने उसपर भरोसा भी जताया।

इधर प्रदुम्न के पिता वरुण ठाकुर का कहना है कि उन्हें शुरू से ही आशंका थी क्यों कि पुलिस की थ्योरी किसी की समझ में नही आ रही थी।इसीलिये हमने सीबीआई जाँच की मांग की थी और आज सीबीआई ने इस मामले में नया खुलासा किया है उन्होंने सीबीआई की जाँच पर पूरा विश्वास भी व्यक्त किया हैं।

जबकि हरियाणा के डीजीपी बी. एस. संधू ने पुलिस की भूमिका के सवाल पर कहा कि सीबीआई जो जाँच कर रही है और जो भी सामने आयेगा उसके आधार पर हम कार्यवाही करेंगे। जबकि केंद्रीय महिला एवं बाल विकास मंत्री मेनका गांधी ने हरियाणा पुलिस की कार्यवाही पर सवाल उठाते हुएं दोषी पुलिस अफ़सरों पर कड़ी कार्यवाही की बात कही हैं।

Alkendra Sahay

The author Alkendra Sahay

A Senior Reporter

Leave a Response

error: Content is protected !!