close
छत्तीसगढ़रायपुर

छत्तीसगढ़ के सुकमा के जंगलों में नक्सली और सुरक्षा बलों के बीच मुठभेड़

  • छत्तीसगढ़ के सुकमा के जंगलों में नक्सली और सुरक्षा बलों के बीच मुठभेड़

  • 4 नक्सली ढेर…

  • झीरम घाटी नक्सली हमले की जांच बस्तर पुलिस करेगी कोर्ट ने एनआईए की आपत्ति खारिज की…

रायपुर – छत्तीसगढ़ के सुकमा जिले के जगरजुड़ा के जंगल मे नक्सलियों और सुरक्षा बलों के बीच हुई मुठभेड़ में 4 नक्सली ढेर ही गये हैं जिनसे हथियार भी बरामद हुए हैं इसकीं पुष्टि सुकमा के एसपी शलभ सिन्हा ने की हैं।

पुलिस को खबर मिली थी कि सुकमा के जगरजुड़ा के अंदरूनी वन क्षेत्र में नक्सलियों का मूमेंट है और वह किसी वारदात की नियत से यहां इकट्ठा हुए हैं इस खबर के बाद स्थानीय पुलिस ने कोबरा 201, सीआरपीएफ और डीआरजी बल का संयुक्त ऑपरेशन शुरू किया और जंगली इलाके में अपनी घेराबंदी शुरू कर दी|

इस बीच नक्सलियों ने सुरक्षा बलों पर फायरिंग शुरू की तो सयुक्त टीम ने भी जबाबी कार्यवाही शुरू कर दी कुछ समय बाद जब दूसरी तरफ से शांति हुई तो सुरक्षा बलों ने जंगल की सर्चिंग शुरू की और उन्हें 4 नक्सलियों के शव मिले जिनके पास से 3 थ्री नॉट थ्री बंदूकें और एक भरमा बंदूक बरामद हुई ।

एसपी शलभ सिन्हा ने बताया कि सुरक्षा बलों ने काफी मशक्कत के बाद 4 नक्सलियों को मार गिराया हैं और उनके पास से 4 बंदूकें और कारतूस भी बरामद हुए हॉ फिलहाल सुरक्षा बल जंगल की सर्चिंग कर अन्य नक्सलियों की खोजबीन कर रहे हैं।

इधर स्पेशल कोर्ट ने एनआईए की उस आपत्ति को खारिज कर दिया है जिसमें झीरम घाटी में कांग्रेस नेताओं की नक्सलियों व्दारा की गई हत्या की जांच के लिए बस्तर पुलिस पर रोक लगाई गई थी कोर्ट ने कहा है कि इस बड़ी घटना की राजनीतिक पहलू की जॉच और आवश्यक कार्यवाही बस्तर पुलिस कर सकती हैं।

जैसा कि 25 मई 2013 को चुनाव अभियान के तहत प्रचार प्रसार के बाद जब कांग्रेस का काफिला लौट रहा था तो झीरम घाटी में उसपर विस्फोटक हमला हुआ था जिसमें कांग्रेस से कई प्रमुख नेताओं की मौत हो गई थी। इस मामले में बस्तर के दरभा पुलिस थाने में एफआईआर दर्ज हुई थी।

Leave a Response

error: Content is protected !!