close
ग्वालियरमध्य प्रदेश

भिंड मे चुनावी माहौल गर्म, सीएम ने पूर्व कलेक्टर को बताया ईमानदार, सिंधिया भी जी तोड प्रचार में जुटे, दलित के यहां बनाई रोटी

Team India Wins 4th Test Vs England
ग्वालियर/भिंड। भिंड के अटेर विधानसभा चुनाव अपने पूरे शवाब पर है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह और कांगे्रस के संभावित सीएम उम्मीदवार ज्योतिरादित्य सिंधिया के लिए ये चुनाव नाक का बाल बना हुआ है। मुख्यमंत्री तीन दिनों से भिंड में डेरा डालकर करीब 13 चुनावी सभाओं को संबोधित कर चुके है। कनावर की सभा में मुख्यमंत्री ने चुनाव आयोग के निर्देश पर हटाए गए कलेक्टर इलैया राजाटी  की जमकर तारीफ की। उन्होंने कहा कि वे दावे के साथ कह सकते है कि पूर्व कलेक्टर निहायती, ईमानदार और शरीफ व्यक्ति थे। लेकिन कांगे्रस के लोगो को जब कोई मुद्दा नहीं सूझा तो उन्होनें कलेक्टर के खिलाफ शिकायते कर दी। उन्होनें कहा कि पूर्व कलेक्टर इलैया राजाटी ने भिंड के विकास के लिए कई काम किए।
सीएम शिवराज सिंह ने कहा कि कांगे्रस ने एवीएम को जबरन मुद्दा बनाया है। जबकि इन्ही ईवीएम से पंजाब में कांगे्रस और आप दिल्ली में चुनाव जीत चुकी है। मुख्यमंत्री अपने लक्की रथ के साथ चुनाव प्रचार में हिस्सा ले रहे है। वहीं पूर्व केंद्रीय मंत्री और सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने भी जिले में कई चुनावी सभाओं को संबोधित किया है। इस मौके पर उनके साथ पूर्व केंद्रीय मंत्री कमल नाथ भी मंच साझा कर रहे है। कमलनाथ ने कांगे्रस प्रत्याशी हेमंत कटारे को जिताने की अपील करते हुए कहा कि भाजपा के साढे 13 साल के कार्यकाल में कोई भी उद्योग धंधा नहीं आया है। वहीं ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि कांगे्रस ने राजीव गांधी विद्युतीकरण योजना से सब कुछ दिया और शिवराज बिजली के तारों में करंट तक नही दे पाए, अब जनता उन्हें इसका सबक सिखाएगी।
वहीं ज्योतिरादित्य सिंधिया ने तोरकापुरा में ना सिर्फ एक दलित परिवार के यहां खाना खाया बल्कि अपने हाथो से रोटियां भी बनाई। यहां भाजपा से अरविंद भदौरिया और कांगे्रस के दिवंगत नेता सत्यदेव कटारे के बेटे हेमंत चुनाव लड रहे है। सीएम को अगले साल होने वाला विधानसभा चुनाव नजर आ रहा है वहीं कांगे्रस अपनी पतली हालत को एक बार फिर ठीक करने की कोशिश में है। इसलिए साफ-सुथरी छवि के नेता सिंधिया को प्रचार की कमान देकर आगे किया जा रहा है।​
Alkendra Sahay

The author Alkendra Sahay

A Senior Reporter

Leave a Response

error: Content is protected !!