close
इंदौरमध्य प्रदेश

मुख्यमंत्री ने देवास के खातेगांव में संक्रमण से बर्बाद फसलों का लिया जायजा

  • मुख्यमंत्री ने देवास के खातेगांव में संक्रमण से बर्बाद फसलों का लिया जायजा

  • मुआवजे का किसानों को दिया भरोसा…

  • इंदौर में सुपर स्पेशलिटी अस्पताल का लोकार्पण और देवगुराड़िया में बॉयो संयंत्र का किया शिलान्यास…

इंदौर– मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आज मालवा निमाड़ क्षेत्र का दौरा करने के साथ इंदौर में 402 बिस्तर के सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल का लोकार्पण किया तो देव गुराड़िया में 550 टन क्षमता वाले बायो मेथेनाइजेशन प्लांट का शिलान्यास किया इससे पहले मुख्यमंत्री देवास के खातेगांव पहुंचे और वहां किसानों की संक्रमण से बर्बाद फसल का जायजा भी लिया।

प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान आज देवास के खातेगांव में पहुंचे और वहां संक्रमण की बजह से खराब हुई फसल का जायजा लिया, इस मौके पर मुख्यमंत्री ने कहा कि यदि मेरे किसान परेशान है तो मैं सुकून से कैसे रह सकता हूँ उन्होंने कहा जिन किसानों की फसलें बर्बाद हुई है उन्हें मुआवजा मिलेगा उन्होंने बताया कि 6 सितंबर को किसानों के खातों में फसल बीमा योजना की राशि आ जायेगी उससे प्रदेश के 19 लाख किसान लाभान्वित होंगे जिसके लिये सरकार 4500 करोड़ की राशि जारी कर रही हैं।

इसके उपरांत मुख्यमंत्री इंदौर पहुंचे जहां एक भव्य आयोजन में उन्होंने सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल का लोकार्पण कर इंदौर को एक बड़ी सौगात दी बताया जाता है 237 करोड़ की राशि से निर्मित यह अस्पताल 402 बिस्तरों का है जहां कार्डिक न्यूरो नेफ्रोलॉजी सहित सभी स्पेशल विभागों से सुसज्जित तो है ही बल्कि बड़ी बात है यहां ऑर्गन ट्रांसप्लांट की भी सुविधा होगी।

मुख्यमंत्री ने स्वच्छता अभियान में इंदौर को देश में चौथी बार पहला स्थान मिलने पर खुशी जाहिर करते हुए नगरवासियों को बधाई दी और कहा इसमें जिला प्रशासन नगर निगम के अधिकारियो की मेहनत के साथ स्थानीय जनता का महत्वपूर्ण योगदान हैं।

इस मौके पर मुख्यमंत्री ने कहा इंदौर और आसपास के जिलो को आज स्वास्थ्य के क्षेत्र में बड़ी सुविधा मिली और मुझे खुशी है कि यहां अब हर बीमारी को दूर करने वाला अस्पताल आम लोगों को मिला है जिसमें हर व्यक्ति अपना इलाज करा सकेगा और उसे अब मुंबई दिल्ली का रुख नही करना पड़ेगा। इस मौके पर बीजेपी के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय मंत्री तुलसी सिलावट महापौर सहित अन्य नेता और प्रशासनिक अधिकारी भी मौजूद थे।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने इस मौके पर देवगुराड़िया के ट्रेपिंग ग्राउंड पर बनने वाले मेथेनाइजेशन प्लांट का शिलान्यास भी किया 2.5 लाख करोड़ से बनने वाला यह 550 टन क्षमता का उपक्रम एशिया में बायो सीएनजी उत्पादन करने वाला सबसे बड़ा प्लांट होगा जो 17500 किलो सीएनजी का रोजाना उत्पादन करेगा जो ऑटो बसों और अन्य वाहनों में उपयोग में लाई जायेगी बताया जाता है यह प्लांट फरवरी 2021 तक बनकर तैयार हो जायेगा।

Leave a Response

error: Content is protected !!