close

ईरान

ईरान

ईरान में भीड़ के बीच दो धमाके, 103 लोगों की मौत 140 घायल, जनरल सुलेमानी की बरसी पर इकट्ठा थे लोग

Terrorist attack in IRAN
  • ईरान में भीड़ के बीच दो धमाके, 103 लोगों की मौत 140 घायल,

  • रिमोट कंट्रोल से किए ब्लॉस्ट,

  • पूर्व जनरल सुलेमानी की बरसी पर इकट्ठा थे लोग

कैमरन/ ईरान के कैमरन शहर में पूर्व जनरल कासिम सुलेमानी की चौथी बरसी पर उनके मकबरे पर इकट्ठा लोगों के बीच 10 सेकेंड के अंतर से दो जोरदार धमाके हुए, ब्लॉस्ट की इस घटना में 103 लोगों की मौत हो गई जबकि 140 लोग घायल हो गए हैं , जिसमें कई की हालत गंभीर हैं। समझा जाता है यह धमाके रिमोट कंट्रोल से किए गए।

ईरान के कैमरन शहर में बुद्धवार को पूर्व जनरल कासिम सुलेमानी की बरसी पर उनके मकबरे पर उन्हें श्रद्धांजलि देने जन सैलाव इकट्ठा था तभी दो तेज धमाके हुए जिसमें 103 लोगों की मौत हो गई जबकि 140 लोग घायल हो गए है। बीबीसी ने ईरान के सरकारी मीडिया के हवाले से बताया कि यह धमाके रिबोल्यूशरी गार्डस (ईरानी सेना) के पूर्व जनरल कासिम सुलेमानी के मकबरे पर हुए पुलिस के मुताबिक यह फियादीन हमला हो सकता हैं इसकी जांच की जा रही हैं।

कैमरन के लोकल मीडिया ने अल अरबिया टीवी को जानकारी दी है कि बुद्धवार को हुआ यह पहला धमाका सूटकेस में रखें बम में हुआ जिसे रिमोट से ब्लॉस्ट किया गया दूसरा धमाका इसके ठीक दस सेकेंड बाद हुआ दूसरे धमाके की फिलहाल कोई पुष्ट जानकारी सामने नहीं आई है रिपोर्ट के मुताबिक जब सिक्योरिटी फोर्स घटना स्थल पर पहुंचने लगी तभी भीड़ के बीच दूसरा धमाका हुआ।

पुलिस ने मौके पर जांच शुरू कर दी है पुलिस अफसरों का कहना है यह फियादीन हमला भी हो सकता है जो रिमोट कंट्रोल से किए गए दोनों ब्लॉस्ट के बीच 10 सेकेंड का अंतर था पहला धमाका जनरल सुलेमान की दरगाह से करीब 700 मीटर की दूरी पर हुआ जबकि दूसरा धमाका सिक्योरिटी चैक पोस्ट के करीब हुआ।

जैसा कि सुलेमानी ईरान की इंटेलीजेंस यूनिट के हेड थे और यह यूनिट ग्राउंड मिशन को अंजाम देती थी सन 2020 में सुलेमानी को अमेरिका और इजराइल ने मिलकर बगदाद में एक मिसाइल अटैक में मार दिया था।

 

Image source: Twitter
read more
error: Content is protected !!