close

दमोह

दमोहमध्य प्रदेश

दमोह में प्रियंका की हुंकार, काम से ज्यादा घोटालों की सरकार, 3 साल में 21 रोजगार, मप्र बड़े बदलाव की ओर

Priyanka Gandhi Vadra

दमोह / मध्यप्रदेश के बुंदेलखंड क्षेत्र के दमोह में कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने भाजपा सरकार को घेरते हुए कहा कि 18 साल से सत्ता में है लेकिन यहां काम से ज्यादा घोटाले हो रहे है खाली पद भरे नही जा रहे शर्मनाक है तीन साल में केवल 21 लोगों को रोजगार दिया है देश की संपत्ति बड़े बड़े उद्योगपति मित्रों को कोड़ियो के दाम पर बेची जा रही है इससे रोजगार कैसे मिलेंगे।

उन्होंने भीड़ भरी आमसभा में मोजूद लोगों को इंगित करते हुए सबाल किया और कहा सरकार और नेताओं से आपकी क्या उम्मीद रहती है? इसका एक ही जवाब आता है हमारे जीवन में मुश्किलें काफी है मेरा दावा है मध्यप्रदेश बड़े बदलाव के लिए तैयार है और 225 महिने में 250 घोटाले करने वाली सरकार जा रही हैं और भारी बहुमत से कांग्रेस सरकार आ रही हैं।

कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी ने कहा नोटबंदी और जीएसटी का जिक्र करते हुए कहा इसने छोटे छोटे दुकानदारों की कमर तोड़ दी और कोरोना से किसी को राहत नहीं मिली हर चीज पर जीएसटी लगाई गई बच्चों की किताब कॉपियां हो यूनिफॉर्म हो इलाज सीमेंट हो या अन्य जरूरत की कोई चीज अछूता नहीं रही। उन्होंने कहा हमारी मांग है कि देश में जातिगत जनगणना हो जिससे सभी को उसका हक मिल सके बिहार में जातिगत जनगणना हुई 84 फीसदी लोग एससी एसटी और ओबीसी के निकले लेकिन नौकरियों में बड़े पदों पर क्या स्थिति है, इन समुदायों का प्रतिनिधित्व क्या है? जितना अधिकार है उतना प्रतिनिधित्व नहीं है।

उन्होंने बीजेपी सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा सरकारी कर्मचारियों की ओल्ड पेंशन और किसानों की कर्जामाफी के लिए पैसे नहीं है लेकिन लेकिन अडानी जैसे उद्योगपतियो के हजारों करोड़ों का कर्ज माफ करने के लिए पैसे कहा से आते है? आप खुद 8 हजार करोड़ के हवाई जहाज में घूम रहे है आपने दिल्ली में एक बड़ा हॉल बनाया इसमें 27 हजार करोड़ रुपए आपने खर्च कर दिए।

उन्होंने कहा एक तरफ महंगाई से लोग बेहाल है बेरोजगार युवा रोजगार के लिए भटक रहे है बजट कम करके मनरेगा को कमजोर बनाया जा रहा है पेट्रोल डीजल खाद महंगा कर किसानों की कमर तोड़ दी है जिससे रोजगार के अवसर बंद हो गए। उन्होंने कहा चुनाव से एन पहले अपने लाभ के लिए लाड़ली बहना योजना लाई गई जबकि कांग्रेस ने महिलाओं को आरक्षण का लाभ दिया जिससे गांव गांव तक महिलाओं को प्रतिनिधित्व मिला हमें जागना होगा।

कांग्रेस महासचिव ने कहा संसद में महिला आरक्षण लाकर मोदी सरकार इवेंटबाजी करती है उससे से सवाल पूछना होगा क्योंकि सच यह है कि महिला आरक्षण 10 साल तक लागू नहीं होने वाला।

प्रियंका गांधी ने छत्तीसगढ़ सरकार की तारीफ करते हुए कहा मैने मुख्यमंत्री (भूपेश बघेल) से पूछा था कि प्रदेश ने क्या स्थिति है तो उन्होंने बताया कि हम जीत रहे है बड़े कोनफीडेंस से कह रहे है तो उन्होंने कहा हमने काम किया है लोगों को रोजगार दिया किसानों का कर्जा माफ किया है। लेकिन मध्यप्रदेश में शिवराज सरकार की पिछली घोषणाओं का क्या हुआ,2018 में जगा था लाखों रोजगार देंगे यह समझते है खोखली घोषणाएं करदो जाति धर्म की बात करलो नैया पार हो जायेगी काम करने की ज़रूरत नहीं है मैं अपने पिता के साथ अमेठी के एक गांव में गई थी वहां की जनता ने सड़क नही बनने पर मेरे पिता को डांट दिया कहा आपको सड़क बनाने को कहा था सड़क नही बनी जब सड़क बन जाएं तब आना वहां के लोग मेरे पिता को प्यार करते थे लेकिन उनकी भी जबाबदेही थी और जनता जागरूक थी।

कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी ने कहा कर्नाटक राजस्थान छत्तीसगढ़ और हिमाचल प्रदेश में कांग्रेस सरकार सरकारी कर्मचारियों को पुरानी पेंशन दे रही है इन प्रदेश की महिलाओं को पैसे भी मिल रहे है धान का समर्थन मूल्य 2400 रुपए की दर से दे रहे है हम जो गारंटी दे रहे है वह मध्यप्रदेश में भी देंगे।

read more
दमोहमध्य प्रदेश

मप्र के दमोह में मां पिता बेटे की हत्या, दबंग गांव से भगाना चाहते थे दलित परिवार को

Damoh police investigate at village

दमोह/ मध्यप्रदेश के दमोह में दबंगों ने हमला बोलते हुए एक दलित परिवार के तीन लोगों की गोलियों से भूनकर हत्या कर दी, बताया जाता है दबंग इन्हें आतंक के बल पर गांव से भगाने की फिराक में थे गांव में व्याप्त दहशत को देखते हुए भारी पुलिस बल तैनात किया गया हैं जबकि पुलिस ने मामला दर्ज कर एक आरोपी को गिरफ्तार करने के साथ अन्य आरोपियों की तलाश शुरू कर दी हैं।

दमोह जिले के गांव देवरान में रहने वाले घमंडी अहिरवार के पड़ोस में रहने वाला दबंग पटेल परिवार के करीब एक दर्जन से अधिक हथियार बंद लोगों ने उनके घर पर हमला बोल दिया ताबड़तोड़ फायरिंग में घमंडी अहिरवार उसकी पत्नी राजप्यारी और बड़ा बेटे मानक लाल अहिरवार की गोली लगने से मौत हो गई जब इनके दो अन्य बेटे बचाव के। लिए आगे आए तो आरोपियों ने अनपर भी हमला बोल दिया जिससे मुकेश के पैर में गोली लगी जबकि छोटा बेटा वहां से जान बचाकर भाग गया। घर की दीवार और आसपास करीब तीन दर्जन गोलियों के निशान पाए गए है जिससे साफ होता है हमलावर पूरी तैयारी से आएं थे।

घटना की खबर मिलने पर कमिश्नर मुकेश शुक्ला आईजी अनुराग कलेक्टर कृष्ण चेतन्य एसपी डीआर तेनीवार सहित भारी पुलिस फोर्स और एफ एस एल की टीम देवरान गांव पहुंच गई और उन्होंने जांच पड़ताल शुरू कर दी।

इधर प्रत्यक्षदर्शी मृतक मानकलाल की पत्नी शीतल ने बताया कि मंगलवार की सुबह 7 बजे हमारे पड़ोस में रहने वाला कद्दू पटेल हमारे घर आया और उसने मेरे ससुर घमंडी से कहा कि वह यह घर खाली करके गांव छोड़कर चला जाए तो पिताजी ने उससे कहा उनका परिवार क्यों जाएगा इस पर बहस हो गई कुद्दू पटेल गाली गलोच करने लगा तो उसके ससुर ने कहा वह पुलिस में रिपोर्ट करने जायेंगे तब पटेल हमारे घर से चला गया शीतल ने बताया कि गांव में पटेल परिवार दबंग है इनके डर की वजह से हमारे ससुर और अन्य लोग जब पुलिस थाने इनकी शिकायत करने जाने की तैयारी कर रहे थे तभी कुददू पटेल का बेटा जगदीश घनश्याम सौरभ और परिवार सहित काफी लोग बंदूके लेकर आ गए और उन्होंने घर में आकर ताबड़तोड़ फायरिंग शुरू कर दी जिससे मेरे ससुर सास और पति नीचे गिर गए तब भी आरोपी नही माने उन्होंने उनके ऊपर भारी पत्थर पटक दिए इस बीच मेरे देवर बचाने आए तो आरोपियों ने इनपर भी हमला बोल दिया जिसमें एक देवर मुकेश के पैर में गोली लगी जबकि छोटा जान बचाकर भागा।पीड़ित पक्ष का आरोप है कि यह लोग पूरे परिवार को खत्म करने की फिराक में थे।

इस तिहरे हत्याकांड से दमोह सहित देवरान सहित आसपास के गांवों में दहशत देखी जा रही है जबकि सुरक्षा की दृष्टि से इलाके में भारी पुलिस बल तैनात कर दिया गया है। जबकि पीड़ित पक्ष और उनके समाज के लोगों ने मृतकों के शव को मुख्य मार्ग पर रखकर चक्काजाम किया और आरोपियों को शीघ्र गिरफ्तार करने की मांग की बाद में पुलिस और प्रशासन के अधिकारियों के आश्वासन के बाद यह जाम समाप्त हुआ।

जबकि आईजी अनुराग के मुताबिक घटना की तफ्तीश की जा रही है जांच में जो भी तथ्य सामने आयेंगे कड़ी कार्यवाही होगी उनके मुताबिक एक आरोपी जगदीश पटेल को गिरफ्तार कर लिया गया है शेष आरोपियों को भी जल्द पकड़ लिया जाएगा उनके अनुसार घायल युवक को अस्पताल में भर्ती कराया गया है जिसकी हालत ठीक है। उन्होंने बताया इसके अलावा शासन के नियमानुसार पीड़ित पक्ष की जो भी मदद होगी प्रशासन करेगा। लेकिन जानकारी यह भी आई है कि पुलिस ने जगदीश के अलावा घनश्याम सौरभ और मनीष पटेल को भी गिरफ्तार कर लिया हैं।

इधर इस तिहरे हत्याकांड को लेकर कांग्रेस ने बीजेपी सरकार को घेरा है पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने सोशल मीडिया पर अपने बयान में इस घटना पर गहरा दुख जताते हुए पूरे मामले की उच्च स्तरीय जांच की मांग की है जबकि बसपा प्रमुख मायावती ने कहा कि इस घटना की जितनी निंदा की जाए कम हैं सरकार आरोपियों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्यवाही करे।

read more
दमोहभोपालमध्य प्रदेश

दमोह में कांग्रेस के टंडन की जीत, बीजेपी में छिड़ा घमासान, पार्टी में छुपे जयचंदों ने हराया

Rahul Lodhi and Ajay Tondon

भोपाल/ दमोह – मध्यप्रदेश के दमोह उपचुनाव में बीजेपी को मुंह की खानी पड़ी उसके उम्मीदवार राहुल सिंह लोधी चुनाव में बुरी तरह परास्त हो गये उन्हें कांग्रेस के प्रत्याशी अजय टंडन ने 17 हजार से अधिक वोटों से मात दी। इस जीत से कांग्रेस में खुशी की लहर हैं तो बीजेपी में घमासान देखा जा रहा है पार्टी नेताओं का कहना है कांग्रेस में कहा हिम्मत थी वह तो अपनी पार्टी के जयचंदो की बजह से पराजित हुए है वही पार्टी इसकी समीक्षा करेगी कि काफी मेहनत के बाद भी दमोह में उसे हार क्यों मिली।

तीन बार हुए उपचुनाव में दो बार कांग्रेस ने फतह हासिल की –

दमोह विधामसभा उपचुनाव में कांग्रेस प्रत्याशी अजय टंडन ने राहुल लोधी को 17089 वोटों से हराया कुल 142327 मतों में से अजय टंडन को 74446 और भाजपा प्रत्याशी को 57357 वोट मिले। अन्य के खाते में 10524 वोट रहे। दमोह में यह दूसरा मौका है जबकि सत्तारूढ़ दल का प्रत्याशी पराजित हुआ है।दमोह में इसे मिलाकर अभीतक तीन बार उपचुनाव हुए है इससे पहले हुए दो उपचुनावों में 1984 में कांग्रेस प्रत्याशी डॉ अजय टंडन को बीजेपी प्रत्याशी जयंत मलैया के हाथों हार मिली उससे पहले 1975 में कांग्रेस के प्रभुनारायण टंडन जीते थे।

मेरी जीत का कारण हमारी जनता कहा टंडन ने –

इस जीत के बाद कांग्रेस प्रत्याशी अजय टंडन ने कहा मेरी जीत के पीछे मेरे क्षेत्र की जनता है उसके आशीर्वाद से ही यह विजयश्री मिली उंन्होने कहा कि वे ईश्वरवादी है सभी का उन्हें साथ मिला है विजयी प्रत्याशी ने कहा वे और कार्यकर्ता कोई जुलूस या जश्न नही मनाएंगे बल्कि कोरोना संकट में वे सबसे पहले अस्पताल जायेंगे और जो बन पड़ेगा लोगों की सेवा करेंगे ।

राहुल लोधी के बीजेपी में शामिल होने से हुआ उपचुनाव –

राहुल लोधी ने 2018 का चुनाव कांग्रेस प्रत्याशी रहते करीब 790 मतों से जीता था उंन्होने बीजेपी के पूर्व मंत्री जयंत मलैया को पराजित किया था लेकिन पिछले दिनों वे कांग्रेस छोड़कर बीजेपी में शामिल हो गये थे इसी के कारण दमोह में उपचुनाव हुए।

राहुल लोधी ने हार के लिये जयंत मलैया को बताया जिम्मेदार –

पिछले 2018 के विधानसभा चुनाव में राहुल लोधी ने कांग्रेस प्रत्याशी के रूप में करीब 700 मतों से बीजेपी प्रत्याशी जयंत मलैया को हराया था लेकिन आज उनकी करारी हार हुई हैं राहुल लोधी ने भीतराघात का आरोप लगाया है और अपनी हार के लिये पार्टी के दिग्गज नेता जयंत मलैया को जिम्मेदार बताया हैं। लोधी ने कहा ग्रामीण क्षेत्र में जीते लेकिन शहर की जिम्मेदारी जयंत मलैया पर थी और वे अपनी खुद की पोलिंग बूथ भी नही जिता पाये मेरी पार्टी से मांग है कि वह उनके खिलाफ निष्कासन की कार्यवाही करें।

हम अपने घर के जयचंदो से हारे –

लगता है बीजेपी सत्ता में होने के बावजूद दमोह में अपनी हार को पचा नही पा रही और पार्टी में इस पराजय को लेकर नेताओं के तीखे बयान लगातार आ रहे हैं।प्रदेश के गृहमंत्री डॉ नरोत्तम मिश्रा ने कहा हैं कि दमोह नही हारे हम छले गये छलचंदो से , इस बार लड़ाई हारे हैं हम अपने घर के जयचंदो से, जबकि केंद्रीय मंत्री प्रहलाद पटेल ने ट्वीट कर पार्टी की कार्यप्रणाली पर ही सबाल उठाये हैं और कहा कि कार्यप्रणाली चुनोतियों और षडयंत्रों में सुधार की जरूरत हैं। जबकि मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान भी मानते है कि इस हार के कारण सामने आना चाहिये मुख्यमंत्री ने एक बयान में कहा कि स्थानीय समीकरणों और परिस्थिति के कारण हम दमोह में सफलता प्राप्त नही कर सके हमारा ध्यान पूरी तरह कोविड से लड़ने में लगा था लेकिन जैसा प्रदेश अध्यक्ष ने कहा है हम इस हार की समीक्षा जरूर करेंगे।

क्या कहा जयंत मलैया ने –

दमोह की हार का ठीकरा बीजेपी के दिग्गज नेता जयंत मलैया पर फोड़ा गया हैं जबकि उनका स्पष्ट कहना है कि चुनाव में हार जीत होती हैं लेकिन दमोह में बीजेपी की हार के लिये राहुल लोधी खुद जिम्मेदार है लोगों को पार्टी से नही उनसे शिकायत थी कि वे दूसरी पार्टी से आये है उनका कहना है हमने पूरी ईमानदारी से काम किया उनकी शिकायत है कि वे मेरे वार्ड से वे हारे जबकि वे बीजेपी के प्रत्येक नेता के वार्ड से हारे है जहां तक वोटों के डायवर्ट करने का आरोप है सौ दो सौ वोट डायवर्ट किये जा सकते है 17 हजार वोट नही। श्री मलैया ने कहा उन्हें राहुल लोधी से सर्टीफिकेट लेने की जरूरत नही वे पार्टी स्तर पर अपनी बात रखेंगे।

read more
दमोहमध्य प्रदेश

दमोह से कांग्रेस ने अजय टंडन को प्रत्याशी बनाया, बीजेपी के राहुल लोधी से मुकाबला, 17 अप्रेल को चुनाव 2 मई को नतीजा

Ajay Tondon

दमोह – मध्यप्रदेश की दमोह विधानसभा सीट के उपचुनाव के लिये कांग्रेस ने आज अपने प्रत्याशी का ऐलान कर दिया है कांग्रेस ने यहां से अजय टंडन को उम्मीदवार बनाया हैं उनका सीधा मुकाबला बीजेपी प्रत्याशी राहुल लोधी से होगा जो पिछले दिनों विधायक पद से इस्तीफा देकर कांग्रेस छोड़कर बीजेपी में शामिल हुए है उनके इस्तीफा देने की बजह से ही दमोह में उपचुनाव हो रहा हैं।

जैसा कि चुनाव आयोग ने दमोह में होने वाले उपचुनाव के लिये 17 अप्रेल की तारीख निर्धारित की है और 2 मई को यहां नतीजा आयेगा। जैसा कि दमोह विधानसभा सीट से चुनाव लड़ने की इच्छा कई कांग्रेस नेताओं ने हाईकमान के सामने जताई थी लेकिन बताया जाता है बाद में सभी ने एकजुट होकर अजय टंडन के नाम पर अपनी सहमति दे दी उंसके बाद कांग्रेस नेतृत्व ने आज अजय टंडन के नाम का ऐलान कर दिया है।

जैसा कि बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा ने राहुल लोधी के प्रत्याशी बनने के बाद ही स्थानीय तौर पर दमोह में चुनाव जीतने के लिये संगठनात्मक तैयारियो को अमली जामा पहनाने का कार्य शुरू कर दिया था वही बीजेपी नेतृत्व ने केबिनेट मंत्री गोपाल भार्गव को यहां चुनाव की बागडोर सोपी है। जिससे साफ है वह किसी भी कीमत पर यह उपचुनाव जीतना चाहती हैं।

जबकि कांग्रेस प्रत्याशी बनाये गये अजय टंडन का परिवार पुराना कांग्रेसी है आपके पिता भी कांग्रेस के कई पदों पर रहे वही जमीनी कार्यकर्ता होने से अजय टंडन की भी स्थानीय जनता में अच्छी छवि बताई जाती है तो कांग्रेस भी यहां एकजुट है। खास बात है अजय टंडन बीजेपी के दिग्गज नेता जयंत मलैया के खिलाफ भी चुनाव लड़ चुके है हालांकि वे चुनाव हार गये लेकिन उनके सामने भी उन्होंने प्रभावी प्रदर्शन किया जिससे साफ है कि परिणाम जो भी हो लेकिन दमोह उपचुनाव में बीजेपी और कांग्रेस के बीच दिलचस्प मुकाबला होने के साथ जोरदार टक्कर होगी क्योंकि बीजेपी अपनी साख बचाने यहां अपना सबकुछ झोंक देगी तो कांग्रेस भी बीजेपी को सबक सिखाने के लिये इस चुनाव में पूरी ताकत लगा देगी।

read more
दमोहभिंडमध्य प्रदेश

नीर नारी और नदी के संरक्षण से ही भारत बिश्व गुरू बना -कहा जल पुरुष राजेन्द्र सिंह ने

  • नीर नारी और नदी के संरक्षण से ही भारत बिश्व गुरू बना -कहा जल पुरुष राजेन्द्र सिंह ने…

  • नदी बचाओ पद यात्रा जारी चौथे दिन चंबल किनारे बरही गांव पहुंची यात्रा…

  • कांग्रेस नेता मोहन प्रकाश अरुण यादव भी शामिल हुए…

भिंड, दतिया – नदी बचाओ पदयात्रा के चौथे दिन आज भिंड स्थित इंदिरा गांधी चौराहे पर देश में जल पुरुष के नाम से विख्यात राजेन्द्र सिंह ने पदयात्रा को हरी झंडी दिखाकर यात्रा प्रारंभ कर आगे बढ़ाया ।

इस मौके पर वरिष्ठ कांग्रेस नेता मोहन प्रकाश पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष अरुण यादव डॉ गोविंद सिंह पूर्व विधायक हेमंत कटारे प्रमुखता से मोजूद रहे और सभी इस नदी और जल स्रोतों को बचाओ पदयात्रा में शामिल हुए।

इस अवसर पर मीडिया से बातचीत में जल पुरुष राजेन्द्र सिंह ने कहा कि इक्कीसवीं सदी में जीना है तो पानी का संरक्षण आवश्यक है धरती माँ की कोख में पानी डालोगे तभी पानी ले पाओगे उन्होंने कहा कि मेरे द्वारा बिना सरकारी मदद के राजस्थान की 12 नदियों को जिंदा किया गया। आप भी जुट जाएंगे तो कोई बड़ी बात नही हम इस इलाकेन्की सभी नदियों को जरूर बचा सकेंगे।

मैग्सेसे पुरस्कार से सम्मानितजल पुरुष राजेंद्र सिंह ने कहां किभगवान क्या है यह हमें समझना चाहिए भूमि गगन वायु अग्नि और नीर अर्थात पानी इन पंचमहाभूतों से मिलकर ही भगवान का अवतरण होता हैं। उन्होंने कहा नीर नारी और नदी का सम्मान करने से हम दुनिया के गुरु बने थे।

अंतरराष्ट्रीय ख्याति प्राप्त वाटर में राजेंद्र सिंह ने कहा डॉ गोविंद सिंह नदी के लिए काम कर रहे हैं इसलिए मैं यहां आया हूं। देश और दुनिया में जहां भी पानी और नदी के लिए काम होता है, चाहे वह अफ़्रीका हो या हिंदुस्तान में वहां अवश्य जाता हूं कौन व्यक्ति कर रहा है किस राजनीतिक दल का है यह मेरे लिए मायने नहीं रखता मैं उन सभी के साथ खड़ा हूं जो पानी और नदियों के संरक्षण के लिये काम कर रहे है।

आज नदी बचाओ पद यात्रा के चोथे दिन भिंड से शुरू यह पदयात्रा जवाहरपुरा फूप होती हुई चंबल नदी के किनारे के गांव बरही पहुंची आज करीब 20 किलोमीटर की यात्रा हुई आज तक कुल करीब 80 किलोमीटर की पद यात्रा पूर्ण हो चुकी है।

read more
दमोहमध्य प्रदेश

मध्यप्रदेश के दमोह में 6 साल की मासूम को अगवा कर दुष्कर्म, आँखे भी फोड़ी

Damoh hadsa
  • मध्यप्रदेश के दमोह में 6 साल की मासूम को अगवा कर दुष्कर्म, आँखे भी फोड़ी

  • 20 लोग हिरासत में, एसआईटी का गठन ,आरोपी पर 10 हजार का इनाम घोषित

  • मुख्यमंत्री ने दुख जताते हुए कहा आरोपी को सख्त सजा देंगे

दमोह– लॉक डाउन के बीच मध्यप्रदेश के दमोह जिले के जबेरा थाना क्षेत्र में एक 6 साल की मासूम के साथ दिल को झकझोरने वाली बड़ी वीभत्स घटना को अंजाम दिया गया, मासूम का अपहरण कर उंसके साथ बलात्कार ही नही किया गया, बल्कि आरोपी ने उसकी आंखें भी फोड़ दी, बच्ची को गंभीर अवस्था में जबलपुर रेफर किया गया हैं।

दिलदहलाने वाली इस घटना के बाद स्थानीय लोगो में गहरा आक्रोश हैं। जबकि पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया हैं और उसने तफ्तीश शुरू कर दी हैं और 20 लोगों को हिरासत में लेकर उनसे गहन पूछताछ कर रही है।

घटना दबेरा थाने के अंतर्गत एक गाँव की हैं जहाँ बीती शाम 6 साल की बच्ची खेलते खेलते गायब हो गई परिजन और गॉव वाले देर रात तक उसे ढूढते रहे सुबह गांव के एक खेत के खंडहर में उस मासूम को एक गांव के एक युवक ने लहूलुहान हालत में देखा जिससे कोहराम मच गया और देखते ही देखते वहां सारा गॉव इकट्ठा हो गया ।

पूछने पर मासूम के मुंह से कराहते हुए केवल मां शब्द फूटा,खबर मिलने पर पुलिस बल और बरिष्ठ अधिकारी भी पहुंच गये बच्ची की हालत काफी खराब थी उंसके साथ बलात्कार किया गया और शरीर पर जख्म के रूप में बहशीपन के निशान थे और उसकी आँखों से खून बह रहा था दबेरा के स्वास्थ्य केंद्र में प्रायमरी इलाज के बाद गंभीर हालत देखते हुए बच्ची को जबलपुर जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया हैं।

इधर पुलिस ने फिलहाल जांच शुरू करदी हैं और बच्ची के साथ खेलने वाले बच्चों से पता लगा रही है कि आख़िरी समय में उंसके साथ कोंन था वही गॉव के 20 से अधिक लोगों को अपनी गिरफ्त में लेकर पुलिस उनसे भी पूछताछ कर रही है।

इसको लेकर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीट के जरिये मासूम बच्ची के साथ दुष्कर्म की घटना पर गहरा दुख व्यक्त करते हुए कहा कि अपराधियो को शीघ्र पकड़ने के सख्त निर्देश दे दिये आरोपी को कड़ी सजा दी जायेगी, उन्होंने कहा कि बिटिया के इलाज में किसी तरह की कोई कमी नही आने दी जायेगी।

इधर एसपी दमोह हेमंत चौहान ने कहा कि फिलहाल पूछताछ में ऐसी जानकारी सामने आई है जिससे जल्द आरोपी पुलिस की गिरफ्त में होगा उन्होंने कहा कि एएसपी विवेक लाल के नेतृत्व में इस घटना के पर्दाफ़ाश के लिए एसआईटी का गठन भी किया गया हैं इसके अलावा पुलिस ने आरोपियों पर 10 हजार का इनाम भी घोषित किया गया है।

वीडियो देखे

read more
error: Content is protected !!