close

दतिया

दतियामध्य प्रदेश

दतिया में ऑनर किलिंग, पिता भाई ने बेटी और उसके प्रेमी का किया मर्डर, पिता हिरासत में

Datia Case

दतिया / प्रेम प्रसंग के मामले में युवती और उसके प्रेमी दोनों का मर्डर कर दिया गया। ऑनर किलिंग का यह मामला मध्यप्रदेश के दतिया का है बताया जाता है युवती अपने प्रेमी के साथ गायब हो गई थी उसके पिता ने युवक के घरवालों को धमकी देकर दोनों को पकड़ा और युवती के पिता और भाई ने उन्हें अपने खेत पर लाकर उनकी निर्ममता से हत्या कर दी। मृतक युवक के परिजनों की रिपोर्ट पर पुलिस ने लड़की के पिता भाई सहित अन्य आरोपीयों पर दौहरी हत्या का मामला कायम कर लिया है जानकारी मिली है कि पिता को पुलिस ने हिरासत में ले लिया है जबकि उसका भाई और अन्य आरोपी फिलहाल फरार बताएं जाते है।

मामा के घर सैवढ़ा से लापता हुई थी लड़की …

दतिया जिले के रूवाहा गांव में रहने निवासी युवती नेहा को उसके परिजनों ने उसके मामा के यहां सेंवढ़ा भेज दिया था बीती 21 जनवरी की रात वह अचानक घर से चली गई युवती के मामा की रिपोर्ट पर सेंवढ़ा थाने में पुलिस ने गुमशुदगी का प्रकरण दर्ज कर युवती की तलाश शुरू कर दी।

युवती के पिता के खेत पर मिले दोनों के शव …

इधर पुलिस इधर उधर हाथ मारती रही तभी लड़की के गायब होने के 20 दिन बाद दतिया जिले के भगुवापुरा थाने के रुवाहा गांव में युवती के पिता के खेत की मेंढ पर दो शव मिलने की जानकारी पुलिस को मिली। खबर मिलने पुलिस मौके पर पहुंचीं घटना स्थल पर युवती के साथ कुछ दूरी पर उसका प्रेमी रोहित का शव भी पुलिस को मौके पर मिला।

रोहित के चाचा के बयान से आए गिरफ्त में आरोपी ..

जानकारी के मुताबिक पुलिस को रोहित (21 साल) पुत्र सुरेंद्र विश्वकर्मा निवासी सहदोरा एवं 21 जनवरी को लापता हुई युवती नेहा (19 साल) का शव ओंधा पड़ा हुआ मिला था। पुलिस ने दोनों शव पीएम के लिए सेंवढ़ा रवाना किए । इसके बाद थाना भगुवापुरा में फरियादी बृजकिशोर की रिपोर्ट पर युवती के भाई और पिता अरविंद यादव, बलदाउ यादव के अलावा अन्य अज्ञात लोगों पर पुलिस ने दौहरे हत्याकांड का मामला कायम कर लिया । इधर युवक के चाचा बृजकिशोर विश्वकर्मा ने एसडीओपी सैवड़ा अखिलेश पुरी गोस्वामी को बताया था कि 9 जनवरी को वह रूवाहा गांव में था तब उसने देखा कि कुछ लोग एक लड़की और उसके भतीजे रोहित को बुरी तरह से मार रहे है इस बीच गोली भी चली थी।

मामा के घर युवती के गांव में ही रहता था रोहित …

फिलहाल युवती भले हीं सेंवढ़ा में रहने वाले अपने मामा के घर से लापता हुई पर वह रूवाहा में अपने पिता अरविंद यादव के यहां ही रहती थी, और कुछ दिन पहले ही मामा के यहां आई थी। बताया जाता है रूवाहा गांव में ही लड़की के पड़ौस में ही रोहित विश्वकर्मा अपने मामा राजकुमार विश्वकर्मा के यहां बचपन से रहता था। रोहित के चाचा बृजकिशोर के अनुसार रोहित की मां रूवाहा के आंगनवाड़ी में खाना बनाने का कार्य करती थी। इसीलिए रोहित इसके साथ बचपन से ही यहां रहता था । एक वर्ष पहले ही रोहित की मां की केंसर के कारण मौत हो गई। कुछ दिन पहले उन्हें पता लगा कि रोहित रूवाहा गांव की किसी लड़की को लेकर चला गया है। रोहित के चाचा ने बताया कि लड़की के परिवार के लोग पिछले दिनों सहोदरा आए और मेरे भाई यानि रोहित के पिता सुरेंद्र तथा मेरी पत्नी यानि लड़के की चाची शशि को जबरन ले गए। उन्होंने रोहित के पिता का मोबाइल भी अपने कब्जे में ले लिया और तीन चार दिन पहले वह रोहित के पिता और चाची को सेंवढ़ा पुलिस के हवाले कर गए। इस बीच उन्होंने दोनों के साथ मारपीट भी की थी । रोहित के पिता तो इतने अधिक डर गए कि तभी से वापस सहदोरा गांव नही आए।

ऑनर किलिंग ,समझी सूची साजिश के तहत हत्या …

इससे साफ होता है कि युवती के परिजनों ने मारपीट और धमकी देकर रोहित के पिता और चाची से बच्चों की लोकेशन ली और उन्हें जयपुर से पकड़कर गांव लेकर आए और दोनों का अपने खेत पर मर्डर कर दिया इस तरह दोनों की हत्या एक सोची समझी साजिश के तहत की गई।

रोहित को गोली मारी लड़की की मौत बेरहमी से की गई पिटाई से …

पुलिस के मुताबिक रोहित को गोली मारी गई है जो उसके सीने में लगी जबकि नेहा के गर्दन ओर जांघ में गंभीर चोटें मिलीं साथ ही दोनों के शरीर पर बेरहमी से मारपीट के निशान भी मिले है ।दोनों मृतकों का पीएम सेंवढ़ा में मेडीकल आफीसर डा शरद यादव, डा रविकांत यादव, डा अवकाश राजपूत वं डा कविता यादव के पेनल द्वारा किया गया। डाक्टरों ने बताया कि दोनों शव मिट्टी से सने थे। उनको धोने के बाद ही पीएम किया जा सका।

पिता को लिया हिरासत में,जल्द सभी आरोपियों को पकड़ लिया जाएगा कहा पुलिस ने …

पुलिस ने बताया कि 21 जनवरी को नेहा सेंवढ़ा में अपने मामा के घर से गायब हुई थी। 9 फरवरी की रात सहदोरा निवासी रोहित के चाचा बृजकिशोर ने पुलिस को बताया कि उनके भतीजे रोहित और एक लडकी को रूवाहा गांव में कुछ लोग मार रहे थे । सूचना के बाद मौके पर पुलिस पहुंची तो बताए गए स्थान अरविंद यादव के खेत पर दोनों शव ओंधे पड़े मिले। फरियादी बृजकिशोर की रिपोर्ट पर नेहा के पिता अरविंद यादव भाई बलदाउ यादव के अलावा अन्य कुछ अज्ञात लोगों पर हत्या का प्रकरण दर्ज किया गया है बताया जाता है पुलिस ने कहा है कि सभी आरोपियों को जल्द गिरफ्तार कर लिया जायेगा। बताया जाता है पुलिस ने लड़की के पिता अरविंद यादव को हिरासत में भी ले लिया है।

read more
दतियादेशमध्य प्रदेश

भगवान राम के स्वागत में 3100 दीपक जलाकर बनाई दीप रंगोली

Rass-JB Group Celebrates Ram Pratishtha

दतिया/ अयोध्या स्थित राममंदिर में रामलला के विराजित होने की ख़ुशी में दतिया के रास-जेबी परिवार ने खुशियां मनाई इस मौके पर झांसी रोड कैंपस में एक विशाल दीप रंगोली प्रज्वलित की गई जिसमें 3100 दीपक का उपयोग किया गया। स्कूल के विशाल प्रांगण में स्वास्तिक के बीच एक विशाल धनुष – बाण जिसके आगे जय श्री राम नाम अंकित था उसे आकर्षक रंगोली का स्वरूप दिया गया, इस पूरी रंगोली को 3100 दीपक माला के रूप में सजाया गया। इस रंगोली एवं दीपोत्सव को स्कूल के छात्र छात्राओं , स्टाफ सदस्य , अभिभावक एवं रास जेबी प्रवंधन ने मिलकर तैयार किया।

जैसे ही दीप प्रज्वलन हुआ वैसे ही संगीत कलाकारों द्वारा सजादो घर को…..मेरे घर राम आये है की सुंदर मनभावन प्रस्तुति दी गई उसके साथ ही जय श्री राम के जयघोष हुए। भगवान श्रीराम के आगमन की इस दीप रंगोली ने सभी की खुशी एवं उत्साह को और अधिक बड़ा दिया।

read more
दतियामध्य प्रदेश

विधायक अग्रवाल ने दतिया जिला अस्पताल में फिजियोथेरेपी एवं शीघ्र प्रबंधन यूनिट का किया विधिवत शुभारंभ

Vidhayak Pradeep Agarwal

दतिया/ बीजेपी विधायक प्रदीप अग्रवाल ने दतिया जिला चिकित्सालय में दो नवीन यूनिट शीघ्र हस्तक्षेप प्रबंधन ईकाई एवं आदर्श फिजियोथैरपी यूनिट का फीता काटकर विधिवत शुभारंभ किया। इस अवसर पर विधायक श्री अग्रवाल ने कहा कि बीजेपी की प्रदेश सरकार और हम जनप्रतिनिधि आम लोगों को सभी अच्छी स्वास्थ्य सेवाएं सुलभ कराने के लिए प्रतिबद्ध है और इन नई यूनिट की स्थापना से जिले के आम लोगों के इलाज में हरसंभव मदद मिलेगी।

इस अवसर पर मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ आरबी कुरेले, सिविल सर्जन एवं सह अस्पताल अधीक्षक डॉ. के.सी. राठौर, आरएमओ डॉ. डी.एस. तौमर ,जिला टीकाकरण अधिकारी डॉ डी के सोनी , जिला मलेरिया अधिकारी डॉ जयंत यादव, एवं जिला कार्यक्रम प्रबंधक डॉ राहुल चऊदा सहित अन्य कर्मचारी एवं स्टॉफ मौजूद रहा।

स्वास्थ्य अधिकारियों के मुताबिक जिला चिकित्सालय में जिला शीघ्र हस्तक्षेप प्रबंधन ईकाई की शुरूआत आरबीएसके के अंतर्गत की गई है। यह ईकाई 0 से 18 वर्ष तक के रोगग्रस्त बच्चों को शासकीय एवं अशासकीय चिकित्सालयों में उपचार के लिए निर्धारित पैकेज राशि पर निःशुल्क ईलाज मुहैया कराएगी।इसी तरह राष्ट्रीय वृद्धजन स्वास्थ्य देखभाल कार्यक्रम के अंतर्गत शुरू हुई आदर्श फिजियोथेरपी यूनिट कुशल फिजियोथेरेपिस्ट द्वारा आधुनिक उपकरणों एवं मैन्युअल के माध्यम से बढ़ती उम्र में होने वाले गर्दन का दर्द, कमर का दर्द, एड़ी का दर्द, घुटनों का दर्द, गठिया, सायटिका, कंटे का जाम होना, लकवा, चेहरे का लकवा, मांसपेशियों में दर्द व खिचाव, पोलियों मेलाइटिस, टेनिस एल्बो, खेल चिकित्सा, ऑपरेशन,चोट के बाद जोड़ो की जकड़न, न्यूरोलाॅजिकल समस्याएं एवं स्लिप डिस्क संबंधित समस्या का निदान मिलेगा।

read more
दतियादेशमध्य प्रदेश

मध्यप्रदेश में रेत माफिया के हौसले बुलंद, पटवारी की हत्या के बाद डिप्टी रेंजर को लाठी डंडों से बुरी तरह पीटा, मरणासन्न छोड़ भागे

Sand in Chambal

दतिया/ मध्यप्रदेश में खनन माफियाओं के हौसले बुलंद है हाल में शहडोल में पटवारी की ट्रैक्टर से कुचलकर हत्या की वारदात को ज्यादा समय नहीं हुआ अब रेत माफियाओं ने दतिया में फॉरेस्ट के डिप्टी रेंजर की बुरी तरह से मारपीट कर उसका सिर फाड़ दिया और उसे मरणासन्न छोड़कर भाग गए। उनकी हिम्मत देखिए पकड़े गए अवैध रेता से भरे ट्रैक्टर भी वह अपनी दबंगी दिखाते हुए छुड़ा कर ले गए। लगता है राजनेतिक संरक्षण और रेत माफियाओं के आगे मध्यप्रदेश की सरकार बोनी साबित हो रही है। पुलिस ने शासकीय कार्य में बांधा बलबा सहित विभिन्न धाराओं में मामला दर्ज कर लिया है लेकिन हत्या की कोशिश का मामला दर्ज नहीं किया जिससे पुलिस की भूमिका भी संदिग्ध लगती है।

दतिया जिले के गोराघाट रैंज के डिप्टी रैंजर प्रवंक प्रताप सिंह को सोमवार की रात फॉरेस्ट वीट हिनौतिया में अवैध रेत उत्खनन की सूचना मिली थी वे रात 11 बजे गार्ड पवन कुमार और प्राइवेट वाहन से चालक अर्जुन के साथ ग्राम हिनौतिया में माता मंदिर के पास तेजी घाट के रास्ते पहुंचे। यहां हिनोतिया घाट पर तीन ट्रैक्टर अवेध रूप से रेत भरते हुए मिले। वन विभाग के अधिकारियों को देखकर ट्रैक्टर ड्राइवर और उनके साथी भाग निकले। मौके पर पहुंचकर डिप्टी रैंजर व स्टाफ ने ट्रैक्टर ट्रॉली के पहियों की हवा निकाल दी और चिरौली घाट चेक करने चले गए।

लेकिन जब डिप्टी रैंजर प्रवंक प्रताप सिंह और वीट गार्ड व ड्राइवर के साथ वापस ट्रेक्टरो की जब्ती कार्यवाही के लिए हिनौतिया लौट रहे थे तभी माता मंदिर तेजी घाट के रास्ते में बोलेरो वाहन से माफिया और उसके गुर्गों ने डिप्टी रैंजर के वाहन में टक्कर मार दी, और बोलेरो में सवार जितेंद्र यादव और पांच-छह बदमाश उतरे और गाली गलौज करते हुए कहा-हमारे ट्रैक्टरों की हवा क्यों निकाल दी। डिप्टी रैंजर ने गाली देने से मना किया तो जितेंद्र यादव, निवासी गोंदन ने डिप्टी रैंजर का गिलेवान पकड़कर लाठी डंडों के साथ लात घूसों से उनकी मारपीट शुरु कर दी। जिससे डिप्टी रैंजर के होंठ और सिर फट गया उन्हें गंभीर चोटे आई। इसके बाद आरोपी जितेंद्र यादव और उसके साथियों ने प्राइवेट गाड़ी जिसमें डिप्टी रेंजर आए थे उसमें भी तोड़फोड़ कर दी। उसके बाद रेत माफिया जितेंद्र यादव और उसके गुंडे डिप्टी रेंजर को मरनासन्न अवस्था में छोड़कर अपने वाहन से भाग गए।

पुलिस को सूचना देने पर कुछ देर में सोनागिर थाना प्रभारी अर्चना पाल डायल-100 से मौके पर पहुंची और घायल डिप्टी रैंजर प्रवंक प्रताप सिंह को थाने लाकर एफआईआर दर्ज की। गंभीर रूप से घायल डिप्टी रेंजर को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। पुलिस ने डिप्टी रैंजर की रिपोर्ट पर आरोपी जितेंद्र यादव और उसके पांच अज्ञात साथियों पर शासकीय कार्य में बाधा, मारपीट, बलवा आदि धाराओं में प्रकरण दर्ज कर लिया। लेकिन क्या कारण है पुलिस ने धारा 307 के तहत हत्या की कोशिश का मामला आरोपियों पर दर्ज क्यों नहीं किया। क्या वह हत्या होने पर ही मामला दर्ज करती जिससे सवाल उठता है कि वह खनन माफियाओं का कही बचाव तो नही कर रही ?

दतिया की हिनौतिया क्षेत्र वन क्षेत्र में आता है और यहां रेत उत्खनन सबसे ज्यादा होता है। अवैध रेत उत्खनन को लेकर सोनागिर पुलिस की भूमिका भी संदेह के घेरे में है। प्रभारी एसपी सुनील कुमार शिवहरे ने बताया कि वे मामले की जांच करा रहे हैं। जांच के बाद कड़ी कार्रवाई होगी।

यह पहली घटना नहीं है कुछ खास मामलों पर नजर डालते हैं…

1. मुरैना 2012 .. मुरैना जिले के बानमोर में 2012 में खनन माफिया की शह पर चालक ने आईपीएस अफसर नरेंद्र कुमार पर अवैध रेत से भरा ट्रेक्टर चढ़ाकर उनकी हत्या कर दी थी। यह हाई प्रोफाइल मामला था लेकिन आज भी वही हो रहा है।

2. मुरैना 2015 .. पुलिस कांस्टेबल धर्मेन्द्र चौहान ने मुरैना में अवेध उत्खनन में लगा डंफर पकड़ा था लेकिन एकाएक डंफर लेकर ड्राइवर भागा पुलिस कर्मी इसके पीछे भागा लेकिन एकाएक डंफर पलट गया और उसे नीचे दबकर पुलिस कर्मी धर्मेंद्र चौहान की मौत हो गई।

3. ग्वालियर 2016 .. वन कर्मियों ने फॉरेस्ट एरिया से अवेध रूप से पत्थर खनन करने वालों का पीछा किया और मुरैना जिले के बानमोर में वन कर्मियों पर उन्होंने ट्रेक्टर चढ़ा दिया जिसमें फारेस्ट गार्ड नरेंद्र शर्मा ट्रेक्टर की चपेट में आ गया और उसकी दर्दनाक मौत हो गई।

4. छतरपुर 2018 ..छतरपुर जिले के बिजावर में अवेध उत्खनन रोकने पर कार्यवाही के दौरान आईएफएस अफसर अभिषेक सिंह तोमर को अवेध खनन में लगे ट्रेक्टर से कुचलकर मारने की कोशिश की गई थी लेकिन वह बाल बाल बच गए थे।

5 . शहडोल 2023 .. शहडोल की 25 एवं 26 नवंबर की दरमियानी रात ब्योहारी के खड्डा में पदस्थ पटवारी प्रश्न सिंह अपने अधिकारी तहसीलदार के आदेश के पालनार्थ अपने अन्य पटवारी और कर्मचारियों के साथ ब्योहारी के नदी के गोपालपुर घाट पर अवेध उत्खनन रोकने गए थे जब वह घाट के समीप पहुंचे तो प्रसन्न सिंह ने गाड़ी से उतरकर रेत से भरा ट्रेक्टर रोकने का हाथ से इशारा किया लेकिन रोकने की बजाय ट्रेक्टर चालक ने उनपर ट्रेक्टर ही चढ़ा दिया जिससे घटना स्थल पर ही उनकी मौत हो गई।

इत्तफाक देखिए वहीं काली तारीख और समय 25 एवं 26 की दरमियानी रात दतिया में डिप्टी रेंजर को रेत माफिया और उसके गुर्गों ने बुरी तरह से मारा और मरणासन्न छोड़ गए सिर्फ महीना बदला नवंबर की बजाय दिसंबर हो गया।

read more
दतियामध्य प्रदेश

दतिया के भिटारी गांव के मंदिर से बेशकीमती अष्टधातु की मूर्तियां चोरी, पुजारी समेत 5 को नशीला पदार्थ पिलाकर किया बेहोश

Temple Murti Stole at Datia

दतिया / मध्यप्रदेश के दतिया जिले के ग्राम भिटारी स्थित कुटी सरकार मंदिर से चोर दरम्यानी रात मंदिर के पुजारी और अन्य लोगों को चाय में नशीला पदार्थ पिलाकर मंदिर में स्थापति सैकडों वर्ष प्राचीन अष्टधातु की लक्ष्मण एवं सीता जी की मूर्ति सहित तीनों मूर्तियों को चुराकर ले गए जब कि राम जी की मूर्ति वह छोड़ गए। श्रद्धालुओं के चक्काजाम कर दबाव बनाने पर डॉग स्क्वायड और फिंगर प्रिंट्स एक्सपर्ट टीम ने मौके पर जांच की पुलिस को संदिग्ध आरोपी के सीसीटीवी फुटेज भी मिले है पुलिस का दांवा है वह जल्द चोर को पकड़ लेगी।

पुजारी सहित सभी 5 लोग सुबह मिले बेहोश …

भांडेर तहसील के ग्राम भिटारी स्थित मार की कुटी सरकार मंदिर में राधाकृष्ण मंदिर का निर्माण कार्य चल रहा था जिसके लिए पुजारी ध्रुवदास, मंगल सिंह, आश्रम पर रुके थे साथ ही कारीगर दीपक त्यागी, अनिल कुलरिया एवं रामसिंह नेता भी काम।के बाद मंदिर में ही रुक जाते थे सोमवार मंगलवार की रात को किसी ने चाय में नशीला पदार्थ पिलाकर सभी पांचों को बेहोश कर दिया और मन्दिर में स्थित लक्ष्मण एवं सीता जी की मूर्ति चुरा ले गए। साथ ही राधा कृष्ण के मंदिर का निर्माण कर रहे कारीगर दीपक त्यागी के कमरे में से पल्सर मोटरसाईकिल, एटीएम कार्ड सहित नगदी दस से पंद्रह हजार रुपए राशि चोर चोरी कर ले गए ।

अज्ञात व्यक्ति ने नशीला पदार्थ मिली चाय बनाकर सभी को पिलाई …?

सुबह जब ग्रामीण मंदिर पर आए तो यहां पुजारी सहित सभी को बेहोश देखकर उनके होश उड़ गए तुरत फुरत घटना की गोदन थाना पुलिस को जानकारी दी ग्रामीणों ने बताया गया कि सोमवार को सुबह एक बाहरी व्यक्ति जिसकी उम्र लगभग 45 वर्ष थी कुटी सरकार मंदिर पर आया था जो दिन भर मंदिर पर रहा और मंदिर पर रात्रि में शयन आरती होने के उपरांत संभवत उक्त व्यक्ति ने चाय बनाकर पुजारी सहित मंदिर पर मोजूद सभी को पिलाई थी चाय पीने के बाद सभी अचेत हो गए लगता है उसने चाय में कोई नशीला पदार्थ मिला दिया था और वह मूर्ति सहित वाहन नगदी और अन्य सामान चोरी कर ले गया। जबकि यह भी संभावना है उसके अन्य साथी भी साथ हो सकते हैं।

पुलिस पहुंची मौके पर, बेसुध लोगों को भेजा अस्पताल …

खबर मिलने पर गोंदन थाना प्रभारी अपने दल बल के साथ घटना स्थल पर पहुंचे और जांच कर अचेत अवस्था में पुजारी तथा अन्य को उपचार हेतु इन्दरगढ़ अस्पताल भेजा साथ ही घटना की जानकारी वरिष्ठ अधिकारियों को दी। एसडीओपी भांडेर कर्णिक श्रीवास्तव सहित अन्य थानों की पुलिस ने भी घटना स्थल पहुंची और जांच शुरू की।

Temple priest unconsious
Temple priest unconsious

करीब ढाई तीन सौ साल प्राचीन है अष्टधातु की धार्मिक मूर्ति …

ग्रामीणों ने बताया कि सीताजी एवं लक्ष्मण जी की यह मूर्ति ढाई तीन सौ साल पुरानी है जो अष्ट धातु से निर्मित बेशकीमती है उन्होंने बताया सन् 1991 में भी इस मंदिर से लक्ष्मण एवं सीता जी की मूर्ति चोरी हुई थी। जिसे ग्राम बागुर्दन का चोर चोरी कर ले गया था जो पुलिस ने बरामद कर ली थी।

अंचल के श्रद्धालु गमगीन …

कुटी सरकार मंदिर से मूर्ति चोरी की घटना की सूचना प्रातः काल जैसे ही अंचल में ग्रामीणों को लगी। कुटी सरकार में आस्था रखने वालों का हुजूम यकायक कुटी सरकार प्रांगण में एकत्रित हो गया। जिसने भी घटना की सुनी वह शोक मग्न दिखाई दिया।

पुलिस की जांच से असंतुष्ट ग्रामीणों ने किया चक्काजाम ..

लेकिन श्रद्धालु ग्रामीण पुलिस की सामान्य जांच से संतुष्ट दिखाई नहीं दिए और घटना से आक्रोषित श्रद्धालुओं ने इंदरगढ़ पण्डोखर मार्ग पर चक्का जाम लगा दिया और फिंगर एक्सपर्ट एवं डॉग स्क्वायड टीम से जांच कराने की मांग की। ग्रामीणों की मांग पर फिंगर एक्सपर्ट एवं डॉग स्क्वायड टीम मौके पर बुलाई गई जिसने गहन जांच पड़ताल की जिसके बाद ग्रामीण शांत हुए।

सीसीटीवी फुटेज आए सामने ..

घटना में मुख्य आरोपी का सीसी टीवी फुटेज भी सामने आया है। सीसी टीवी फुटेज के अनुसार चोर दिन में भिटारी ग्राम के बस स्टैंड पर बाल कटवाने एवं मिठाई लेने आया था। उस दौरान वह सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गया।

पुलिस का दावा शीघ्र होगा चोरी का खुलासा…

घटना स्थल पर पहुंचे एसडीओपी कर्णिक श्रीवास्तव ने मंदिर कमेटी एवं ग्रामीणों को आश्वासन दिया कि जांच के बाद चोरों का पुलिस जल्द चोरों का पता लगाकर शीघ्र घटना का खुलासा करेगी।

read more
दतियामध्य प्रदेश

दतिया में मर्डर, हनुमान गढ़ी की गौशाला के कर्मचारी की धारदार हथियार से हत्या

Datia Hanumangadi case

दतिया/ मध्यप्रदेश के दतिया में स्थित हनुमानगढ़ी आश्रम की गौशाला में कार्यरत एक वृद्ध कर्मचारी की धारदार हथियार से हत्या कर दी गई, संभवत हत्या की यह वारदात मतदान खत्म होने के बाद रात के वक्त अंजाम दी गई। पुलिस ने प्रकरण कायम कर जांच शुरू कर दी है।

दतिया शहर के कोतवाली थाना क्षेत्र के अंतर्गत हनुमानगढ़ी के चेतन दास आश्रम में संचालित गौशाला में कार्य करने वाले बुजुर्ग गोविंद दास उर्फ़ काले बाबा (उम्र 65 साल) की अज्ञात लोगों ने धारदार हथियार से उसके मुंह सिर और गर्दन पर चोट करके हत्या कर दी। मृतक का शव आज गौशाला में उसके निवास स्थान के पास गद्दे पर खून से सना पड़ा हुआ मिला।

आश्रम के कर्मचारियों ने इसकी सूचना कोतवाली पुलिस को दी। कोतवाली पुलिस ने मौके पर पहुंचकर घटना स्थल के आसपास बारीकी से तफ्तीश की और पंचनामा बनाकर शव पोस्टमार्टम के लिए जिला अस्पताल रवाना किया।

बताया जाता है मृतक गोविंद दास पिछले 40 साल पहले इस हनुमानगढ़ी आश्रम में आया था और यही पर रहता था इन दिनों उसे आश्रम की गौशाला में कार्य करने की जिम्मेदारी दी गई थी फिलहाल उसके घर परिवार और निवास स्थान का भी अभी कुछ पता नहीं चला है। इधर कोतवाली थाना पुलिस ने अज्ञात लोगों के खिलाफ हत्या का मामला कायम कर लिया है और उसने अपनी तहकीकात शुरू कर दी है पुलिस के मुताबिक जल्द इस हत्याकांड का खुलासा हो जायेगा।

read more
दतियामध्य प्रदेश

ज्योतिरादित्य पर प्रियंका का तीखा हमला, उन्होंने दगाबाजी की परंपरा निभाई

Priyanka Gandhi Vadra

दतिया/ मध्यप्रदेश में चुनावों के दौरान आरोप प्रत्यारोप तो बहुत लगे और लगाए गए, लेकिन कांग्रेस की महासचिव प्रियंका गांधी ने जिस तरह ज्योतिरादित्य सिंधिया पर तीखा हमला किया इस तरह सिंधिया परिवार पर आज तक के सियासी इतिहास में कभी नहीं हुआ उन्हें सीधा सीधा धोखेबाज की संज्ञा ही नही दी गई बल्कि प्रियंका गांधी ने यह तक कह दिया कि ज्योतिरादित्य ने सिंधिया परिवार की पुरानी दगाबाजी की परंपरा को निभाया है।

दतिया में आयोजित एक चुनावी सभा में बुद्धवार को कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने पार्टी छोड़कर जाने वालों पर करारा हमला बोला, खास तौर पर उनके निशाने पर ज्योतिरादित्य सिंधिया और उनके साथ के नेता थे जिन्होंने धोका देकर कांग्रेस की सरकार गिराई और बीजेपी में शामिल हुए और पार्टी की सदस्यता ले ली।

कांग्रेस नेत्री प्रियंका गांधी ने कहा उत्तर प्रदेश चुनाव में पार्टी ने उन्हें बड़ी जिम्मेदारी सौंपी थी मेरे साथ ज्योतिरादित्य सिंधिया को भी जिम्मेदारी दी थी लेकिन वह कुछ नही कर सके केवल महाराज बनकर रह गए, और जो उन्हें महाराज नही कहता उसका कोई काम नहीं होता, इसके बाद उन्होंने पार्टी की पीठ में उन्होंने छुरा घोंपा, प्रियंका गांधी यही नहीं रुकी उन्होंने कहा, कांग्रेस ने उनपर भरोसा किया और सब कुछ दिया, लेकिन उन्होंने दगाबाजी की पारिवारिक परंपरा जारी रखी।

ज्योतिरादित्य सिंधिया की दादी विजयाराजे सिंधिया और पिता माधवराव सिंधिया ने भी कांग्रेस को छोड़ा था, विजयाराज़े ने कांग्रेस की चुनी हुईं डीपी मिश्रा सरकार को गिराई था और संविद सरकार के रूप में तत्कालीन अपने समर्थक गोविंद नारायण सिंह को मुख्यमंत्री बनाया था। लेकिन जल्द गोविंद नारायण सिंह ने अपनी भूल मानी और मुक्ति भी ले ली।

कारण था विजयाराजे सिंधिया के सलाहकार सरदार आंग्रे व्दारा रोजाना कामों की लंबी सूची का आना इस समय लॉ ऐंड ऑर्डर की पेशकश होती थी इस दौरान विजयाराजे समर्थक एक मंत्री चेक से 20 हजार की रिश्वत लेते हुए पकड़े भी गए थे।

इससे आहत और परेशान मुख्यमंत्री गोविंद नारायण सिंह ने एक नोट शीट भी लिख दी थी और अपनी सरकार खुद गिराते हुए अपना इस्तीफा दे दिया था और बाद में अर्जुन सिंह के साथ दिल्ली जाकर इंदिरा गांधी से माफी मांग ली थी। और वे फिर से कांग्रेस में शामिल हो गए थे, यह बात खुद गोविंद नारायण सिंह ने उन्हें बताई थी जब वे राज्यपाल थे।

जबकि माधवराव सिंधिया किसी पार्टी में शामिल नहीं हुए और गलती महसूस होने पर बाद में फिर से कांग्रेस में लौट आए थे उस समय सीताराम केसरी कांग्रेस के अध्यक्ष थे। जब उनकी एक दुर्घटना में असामायिक मौत हो गई तो कांग्रेस नेता सोनिया गांधी ने ज्योतिरादित्य सिंधिया की राजनेतिक परिवरिश की और अपना प्रश्रय दिया और कम उम्र में ही उन्हें केंद्रीय मंत्री भी बनाया।

कांग्रेस में ज्योतिरादित्य सिंधिया की गिनती इने गिने लोगों में थी और वे ताकतवर नेताओं में शुमार थे कांग्रेस में दबदबे की वजह से उनके सभी समर्थकों को टिकट दिए जाते रहे थे लेकिन वह सिंधिया परिवार के तीसरे व्यक्ति थे जिन्होंने कांग्रेस छोड़ी।

तीसरी बार ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कांग्रेस के साथ घात किया, इनका यह घाव पार्टी के लिए घातक साबित हुआ। सिंधिया को पार्टी में वीटो पॉवर हासिल था, वे कांग्रेस के ताकतवर नेताओं में शुमार थे। कांग्रेस में दबदबे की वजह से उनके सभी समर्थकों को टिकट दिए जाते रहे ,लेकिन आज उनके समर्थकों को टिकट नहीं मिले, वह सिंधिया परिवार के तीसरे व्यक्ति थे जिन्होंने कांग्रेस छोड़ी, लेकिन उन्होंने जो किया वह कांग्रेस के लिए काफी पीड़ादायक था। उन्होंने कहा इस तरह ज्योतिरादित्य सिंधिया ने धोखेबाजी की पुरानी परंपरा को निभाया।

read more
दतियामध्य प्रदेश

गृहमंत्री शाह ने किया कांग्रेस के परिवारवाद पर हमला, कहा बीजेपी ने बीमारू मप्र को विकास पथ पर बढ़ाया, ग्वालियर चंबल को डाकुओं से किया मुक्त

Amit Shah at Datia

दतिया / गृहमंत्री अमित शाह ने कहा कि नरेंद्र मोदी ने देश की और शिवराज सिंह ने मध्यप्रदेश की काया पलटी प्रधानमंत्री ने विकास की सौगात देश को दी और शिवराज सिंह ने प्रदेश को बीमारू राज्य से बाहर निकालकर आगे बढ़ाया। उन्होंने कांग्रेस पर आरोप लगाते हुए कहा कि एक समय ग्वालियर चंबल डकैत प्रभावित था लेकिन भाजपा सरकार ने सभी गैंगों का सफाया कर दिया। शाह ने कांग्रेस पर हमला करते हुए कहा कि कमलनाथ और दिग्विजय सिंह अपने अपने बेटों को मुख्यमंत्री बनाना चाहते है और सोनिया गांधी राहुल गांधी को प्रधानमंत्री बनाना चाहती है इस दौरान उन्होंने राममंदिर निर्माण में कांग्रेस के रोड़े अटकाने का जिक्र करते हुए पीएम नरेंद्र मोदी के कार्यों का उल्लेख भी किया।

केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह दतिया के बीजेपी उम्मीदवार डॉ नरोत्तम मिश्रा के पक्ष में आयोजित सभा में बोल रहे थे उन्होंने अपने भाषण की शुरुआत मां पीतांबरा के चरणों में नमन के साथ की और अपने 28 मिनट के भाषण में वे 20 मिनट सिर्फ मोदी पर बोले। भाजपा प्रत्याशी और मप्र के साथ साथ 2024 में मोदी की सरकार बनाने की भी अपील की। उन्होंने कमलनाथ को करप्शन नाथ तो वहीं पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह को बंटाढार कहकर संबोधित करते हुए कहा कि कमलनाथ अपने बेटे नकुलनाथ को मुख्यमंत्री बनाना चाहते हैं, दिग्विजय सिंह अपने बेटे जयवर्धन सिंह को मुख्यमंत्री बनाना चाहते हैं और सोनिया गांधी अपने बेटे राहुल को प्रधानमंत्री बनाना चाहती हैं। उन्होंने कहा कि एक तरफ करप्शननाथ की पार्टी है तो दूसरी तरफ मोदी के नेतृत्व में देश भक्तों की टोली भाजपा है।

कांग्रेस की 10 साल की सरकार पर कटाक्ष करते हुए शाह ने कहा

मप्र में दिग्विजय सिंह और कमलनाथ की टीम का मप्र में 10 साल शासन रहा। दिग्विजय सिंह मुख्यमंत्री थे तब क्या स्थिति थी, मप्र को बीमारू राज्य बनाकर रख दिया। पूरा चंबल क्षेत्र दतिया से लेकर भिंड, मुरैना तक बागियों, डाकुओं, गैंगों का शासन था, दतिया में भी कोई शाम के समय बाहर नहीं निकलता था। 2003 में भाजपा सरकार आई, दतिया से लेकर मुरैना तक एक गैंग नहीं बची। ये परिवर्तन भाजपा की 18 साल की सरकार के अंदर हुआ।

शाह ने आगे कहा कि कांग्रेस सरकार में मप्र का बजट सिर्फ 23 हजार करोड़ था। आज तीन लाख 14 हजार करोड़ हो गया। 10 साल तक सोनिया मनमोहन की सरकार थी कितना पैसा दिया मप्र को, मैं 15 दिन से पूछ रहा हूं, मैं भी बनिया का बेटा हूं। 2004 से 2014 तक कांग्रेस की सरकार में मप्र के लिए दो लाख करोड़ रुपए आया। मोदी सरकार के 9 साल में मप्र को छह लाख 35 हजार करोड़ रुपए दिया। साथ ही 22 लाख करोड़ के एक्सप्रेस वे, मेट्रो ट्रेन, ऐयरपोर्ट, कई सारे काम भाजपा की सरकार ने किए। कई इड्रस्टियल पार्क, सोलर पार्क, इंड्रस्टियल कोरिडोर दिए। पांच करोड़ गरीबों को गैस, किसान सम्मान निधि, नल से जल, शौचालय, 5 किलो मुफ्त राशन, 82 लाख उज्जवला कनेक्शन 36 लाख घर देने का काम भाजपा ने किया। मप्र के हर गरीब को आयुष्मान योजना के तहत 5 लाख का पूरा इलाज फ्री ऑफ कोस्ट हो रहा है। भाजपा सरकार बनने पर पांच लाख के बजाए 10 लाख रुपए फ्री ऑफ कॉस्टर इलाज होगा। उन्होंने कहा करपक्शन नाथ को डेढ़ साल मौका मिला तो डेढ़ साल में 51 योजना बंद कर दीं। गलती से भी आ गए तो लाड़ली लक्ष्मी योजना बंद हो जाएगी।

गृहमंत्री शाह ने कहा कि राहुल बाबा कहते थे कि भाजपा वाले मंदिर वहीं बनाएंगे, तारीख नहीं बताएंगे, मैं आज यहीं से राहुल बाबा से कहता हूं कि 22 जनवरी 2024 को अयोध्या में रामलला की प्राण प्रतिष्ठा होगी। 70 साल से कांग्रेस राम मंदिर के मुद्दे को भटकाती रही। मोदी के पीएम बनते ही भूमिपूजन हुआ और अब प्राण प्रतिष्ठा की भी तारीख आ गई।

पीएम नरेंद्र मोदी की उपलब्धियां गिनाते हुए शाह ने धारा 370, 35 ए, सीएए हटाने से लेकर पुलवामा हमला और आतंकवादियों को घर में घुसकर मारने की बात भी कही। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार के आते ही पीएफआई को रातों रात उठाकर जेल भेजा गया। रोहिंग्या घुसपेठियों के खिलाफ मुहिम छेड़ी, देश की सीमाओं को सुरक्षित किया। ​चंद्रमा पर तिरंगा पहुंचाया। तीन तलाक खत्म किया।

केंद्रीय गृहमंत्री ने कहा आज दतिया में मेडीकल कॉलेज, नर्सिंग कॉलेज, लॉ कॉलेज, बेटनरी कॉलेज खुल गए हैं। दतिया कॉलेजों का सेंटर बन गया है।  एक वो दतिया थी जब यहां डाकुओं, बागियों की वजह से लोग घर से बाहर नहीं निकल पाते थे और एक आज का दतिया है जहां हर कोई सुरक्षित है।

उन्होंने मप्र में भाजपा सरकार बनने पर घोषणा पत्र में उल्लेखित तमाम योजनाओं का हवाला देते हुए भाजपा को वोट देने की अपील की आमसभा को डॉ. नरोत्तम मिश्रा ने भी संबोधित किया।

read more
दतियाभोपालमध्य प्रदेश

दतिया में कांग्रेस प्रत्याशी अवधेश नायक का विरोध, भारती के समर्थकों की दिल्ली से भोपाल दौड़, 19 को लेंगे फैसला

Protest against Congress candidate Awadhesh Nayak in Datia

दतिया, भोपाल/ मध्यप्रदेश की दतिया विधानसभा सीट पर कांग्रेस ने हाल मैं बीजेपी से कांग्रेस में शामिल हुए अवधेश नायक को टिकट दिया है लेकिन उनके उम्मीदवार बनाएं जाने को लेकर कांग्रेस नेता एवं पूर्व विधायक राजेंद्र भारती और उनके समर्थक खुलकर मैदान में आ गए हैं। वही पूर्व विधायक भारती दिल्ली में गुहार लगाने के बाद अब भोपाल भी पहुंच गए लेकिन मालूम हुआ है कि उन्हें अभी तक कोई ठोस आश्वासन नहीं मिला है खबर है कि वह 19 अक्टूबर को दतिया में अपने समर्थकों के साथ बड़ी बैठक कर कांग्रेस से बगावत कर चुनाव लड़ने की घोषणा कर सकते हैं।

15 अक्टूबर को कांग्रेस की घोषित 144 की लिस्ट में दतिया से अवधेश नायक को प्रत्याशी घोषित किया गया है लेकिन इस सीट से पिछले 15 साल से संघर्ष कर रहे पूर्व विधायक राजेंद्र भारती ने पार्टी से टिकट मांगा था लेकिन अवधेश नायक को टिकट दिए जाने से स्थानीय कांग्रेस नेता और कार्यकर्ताओं ने अपना विरोध दर्ज कराना शुरू कर दिए यह भारती के समर्थन में और उन्हें टिकट दिए जाने की मांग को लेकर पिछले तीन दिन से लगातार कांग्रेस कार्यालय के सामने धरना दे रहे है और टिकट बदलने जी मांग कर रहे है इस बीच कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने दतिया के कांग्रेस कार्यालय, बस स्टेंड सहित इंदरगढ़ में अवधेश नायक के पुतले का दहन भी किया।

पूर्व विधायक भारती के समर्थक कांग्रेस नेताओं का कहना है कि राजेंद्र भारती पिछले 15 साल से कांग्रेस और कार्यकर्ताओं के लिए संघर्ष कर रहे है और जब उनपर किसी भी तरह का संकट आया तो वे हमारे साथ खड़े रहे जबकि अवधेश नायक आज कांग्रेस में आए और पार्टी ने उन्हें प्रत्याशी भी बना दिया उन्होंने आरोप लगाया कि अवधेश नायक बीजेपी और आरएसएस के कार्यकर्ता रहे है और से गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा के कहने पर ही कांग्रेस में आए है और डमी प्रत्याशी है। कांग्रेस नेता सुरेश झा का कहना है कि आज कांग्रेस कार्यकर्ताओं पर झूठे मुकदमे दर्ज हुए वह जेल गए उनका व्यापार चौपट हो गया दतिया में राजनीति की आड़ में गैरकानूनी धंधे चल रहे है अराजकता का माहौल है हम चाहते है कि राजेंद्र भारती को कांग्रेस टिकट दे जिससे दतिया और हम लोग सुरक्षित हो।

बताया जाता है राजेंद्र भारती और उनके समर्थकों को फिलहाल कोई ठोस आश्वासन पार्टी नेतृत्व से नही मिला है यदि अवधेश नायक का टिकट बदला नहीं जाता और राजेंद्र भारती को नहीं मिलता तो दतिया आने पर अपने समर्थको के साथ बह बैठक कर 19 अक्टूबर तक कोई बड़ा निर्णय लेंगे संभवत वह किसी निर्दलीय या अन्य किसी पार्टी से टिकट लेकर दतिया विधानसभा से चुनाव में उतर सकते है सूत्रों के मुताबिक इस तरह के संकेत मिल रहे है।

read more
दतियामध्य प्रदेश

मप्र के दतिया में प्रॉपर्टी डीलर के यहां ईडी की रेड, कार्यवाही जारी

ED Raid at Property dealer House at Datia

दतिया/ मध्यप्रदेश के दतिया शहर में आज सुबह तड़के एक स्थानीय प्रॉपर्टी डीलर के यहां प्रवर्तन निदेशालय (ईडी ) ने रेड की है। फिलहाल कार्यवाही जारी है जबकि अवेध कारोबार और इससे जुड़ी संपत्ति को लेकर यह छापामार कार्यवाही की संभावना व्यक्त की जा रही है जबकि ईडी की इस कार्यवाही से स्थानीय व्यवसायियों में हड़कंप की स्थिति देखी जा रही है।

सोमवार को ईडी की टीम ने सुबह तड़के साढ़े पांच बजे शहर के प्रमुख कारोबारी और प्रॉपर्टी डीलर रामसहाय दुबे के कोतवाली थाना अंतर्गत काले महादेव के पास उनके घर दबिश दी और घर में प्रवेश करते ही टीम में शामिल अधिकारियों ने घर का मुख्य दरवाजा अंदर से बंद कर लिया और सर्चिंग अभियान तलाशी शुरू कर दी है इस दौरान बाहर भारी संख्या में पुलिस बल तैनात है फिलहाल कार्यवाही जारी है

बताया जाता है कि प्रतिष्ठित व्यवसाई एवं प्रॉपर्टी डीलर रामसहाय दुबे कालका प्रसाद दुबे (कल्लू दुबे) के छोटे भाई और वार्ड 14 के बीजेपी पार्षद आकाश (अक्कू) दुबे के चाचा है। खबर मिली है। पार्षद अक्कू दुबे और उसका एक दोस्त रिंकू दुबे मिलकर भी कोई कारोबार करते है।

इधर ईडी के किसी भी अधिकारी ने मीडिया को अभी तक कोई जानकारी नहीं दी है। संभवतः कार्रवाई पूरी होने के बाद जानकारी निकल कर सामने आयेगी। जबकि शहर में ईडी की कार्रवाई से अन्य व्यापारियों में भी हड़कंप की स्थिति है। फिलहाल ईडी की कार्रवाई जारी है।

read more
error: Content is protected !!