close

ग्वालियर

ग्वालियरमध्य प्रदेश

दिल्ली में बनूंगा ग्वालियर के जनमानस की आवाज, आपके अधिकारों की लड़ाई में जान लगा दूंगा, कहा ग्वालियर लोकसभा प्रत्याशी ने

Praveen Pathak Jansampark

ग्वालियर / ग्वालियर लोकसभा क्षेत्र से कांग्रेस प्रत्याशी प्रवीण पाठक का क्षेत्र के ग्रामीण विधानसभा में तूफानी दौरा जारी है , इस दौरान उन्होंने लोगों को विश्वास दिलाया कि ग्वालियर के जनमानस की आवाज के वह दिल्ली में वाहक बनेंगे और आपके अधिकारों की लड़ाई वह की जान से लड़ेंगे, और आपके सम्मान में कभी कमी नहीं आने दूंगा। न ही कोई बाहुबली होगा न ही किसी किसान की जमीन पर कब्जा होगा न ही लोगों के ऊपर झूठे अपराध दर्ज होंगे।

अपने लोकसभा क्षेत्र के बेहट में एक सभा में कांग्रेस प्रत्याशी प्रवीण पाठक ने कहा कि मैं आपको भरोसा दिलाता हूं कि आपकी आवाज उठाने के लिए आपकी लड़ाई लड़ने के लिए प्रवीण पाठक सदैव उपस्थित रहेगा, उन्होंने उनके समर्थन मैं उमड़े हुजूम को देखकर कहा कि मैं आपके स्नेह और आशीर्वाद से अभिभूत हूं। श्री पाठक ने आगे कहा कि मुझे चुनाव प्रचार के लिए समय कम मिला है इसलिए मेरा सब जगह पहुंचना संभव नहीं है, मेरी लड़ाई आपको प्रवीण पाठक बनकर लड़ना है और इस क्षेत्र के विकास व उत्थान और समुचित विकास के लिए दिल्ली में आपको एक पढ़ा लिखा और जुझारू व्यक्ति पहुंचाना है। मुझे पूरा विश्वास है कि आपका योगदान आपकी मेहनत आपकी सामर्थ्य की दम पर दिल्ली में संसद में इस युवा की यह आवाज बुलंद तरीके से गूंजेगी।

श्री पाठक ने कहा कि भाजपा के लोग समान वोट की ताकत को खत्म करना चाहते हैं यह हमारा संविधान खत्म करना चाहते हैं जिसे बाबा साहब ने बनाया है। इस मौजे पर क्षेत्रीय लोगों ने श्री पाठक को बाबा साहब की तस्वीर भी भेंट की।

संगीत सम्राट तानसेन की तपोभूमि बेंहट में उन्होंने जन समुदाय को संबोधित करते हुए कहा कि 20 वर्षों से प्रदेश में भाजपा की सरकार है उसके बावजूद भी बेंहट की यह दुर्दशा है। उन्होंने कहा कि मैं सांसद बना तो इस क्षेत्र की दिशा और दशा बदल दूंगा एवं इस क्षेत्र को पर्यटन स्थल के रूप में विकसित किया जाएगा। श्री पाठक ने आज के अपने दौरा कार्यक्रम के दौरान सिद्ध स्थल श्री काशी बाबा के दर्शन कर आशीर्वाद लिया एवं संगीत सम्राट तानसेन की समाधि पर भी पुष्पांजलि अर्पित की एवं श्री श्री 1008 महात्यागी फक्कड़ श्री महन्त करन दास जी महाराज के आश्रम पर श्री पाठक ने मंजीरा बजाकर राम धुन में हिस्सा लिया। इस दौरान मोहनपुर खेरिया मोदी सहित अन्य ग्रामों में उनका शॉल श्रीफल भेंट कर आत्मीय स्वागत किया गया।

इस अवसर पर विधायक श्री पाठक के साथ राष्ट्रीय सचिव शिव भाटिया, ग्वालियर ग्रामीण से विधायक साहब सिंह गुर्जर, ग्रामीण कांग्रेस अध्यक्ष प्रभु दयाल जोहरे , भीकम सिंह, महेंद्र जाटव प्रमुखता से मौजूद थे।

read more
ग्वालियरमध्य प्रदेश

लोगों की बात उठाने में न डरता हूं न झुकता हूं- प्रवीण पाठक

Praveen Pathak Swagat

ग्वालियर/ ग्वालियर लोकसभा चुनाव डबरा कार्यालय के शुभारंभ अवसर पर कांग्रेस प्रत्याशी प्रवीण पाठक ने कहा कि मैं लोगों बात उठाने में, मैं न डरता हूं न झुकता हूं। अब मौका है कि एक-एक आदमी को प्रवीण पाठक बनकर चुनाव लड़ना है।

ग्वालियर लोकसभा उम्मीदवार प्रवीण पाठक मंगलवार सुबह जौरासी हनुमान मंदिर और महालक्ष्मी मंदिर के दर्शन और आशीर्वाद लेकर डबरा पहुंचे रास्ते में कई जगह लोगों ने हार फूल से उनका भव्य स्वागत किया एवं डबरा पहुंचकर चुनाव कार्यालय के शुभारंभ कार्यक्रम में शामिल हुए उसके उपरांत उन्होंने डबरा विधानसभा क्षैत्र में जनसंपर्क कर लोगों से संवाद स्थापित किया। श्री पाठक ने कांग्रेस पार्टी को जिताने की अपील करते हुए कहा कि यह लड़ाई बड़ी है इसमें हम सब लोगों को संगठित होकर कड़ी मेहनत करनी होगी तो सफलता निश्चित प्राप्त होगी।

इस अवसर पर राज्यसभा सांसद अशोक सिंह, विधायक सुरेश राजे ,वरिष्ठ कांग्रेस नेता बद्री प्रसाद नगरिया जिला कांग्रेस ग्रामीण अध्यक्ष प्रभु दयाल जोहरे सुल्तान सिंह रावत अशोक पाराशर, फेरन सिंह कुशवाह करतार सिंह गुर्जर पार्षद सरदार हीरा सिंह श्रीमती गुंजा जाटव हाकिम सिंह मंडेलिया सहित अनेक लोग उपस्थित रहे।

मंगलवार की शाम को ग्वालियर दक्षिण विधानसभा क्षेत्र के कांग्रेस जनों का कार्यकर्ता समागम कार्यक्रम गुड़ी गुड़ा का नाका स्थित डोंगरा गार्डन में आयोजित किया गया। इस अवसर पर भारी संख्या में लोगों ने उत्साह के साथ भाग लेते हुए ग्वालियर लोकसभा सीट से कांग्रेस प्रत्याशी प्रवीण पाठक को भारी मतों से जीत दिलाने का संकल्प लिया।

read more
ग्वालियरमध्य प्रदेश

इलेक्टोरल बॉन्ड एक बड़ा घोटाला, सरकारी एजेंसियों का दुर्पयोग, भाजपा में शामिल भ्रष्ट हुए साफ – प्रशांत भूषण

Prashant Bhushan PC

ग्वालियर/ सुप्रीम कोर्ट के सीनियर एडवोकेट एवं एडीआर की तरफ से पैरवी कर रहे प्रशांत भूषण ने कहा कि इलेक्टोरल बांड के नाम पर विभिन्न कंपनियों से केंद्र सरकार ने बड़े पैमाने पर रिश्वत ली है ।इसकी मनी ट्रेल अब सामने आ चुकी है। यह बात भी सामने आई है कि किस तरह से सरकारी एजेंसियों सीबीआई एनफोर्समेंट डायरेक्टरेट और इनकम टैक्स विभाग का बेजा इस्तेमाल किया गया। जिन लोगों ने सरकारी दबाव में करोड़ों रुपए की इलेक्ट्रोल बांड के रूप में सत्तारुढ़ दल को रिश्वत दी वह जांच में निकल गया और सरकार से बड़े-बड़े कॉन्ट्रैक्ट हासिल करने में सफल रहा ।इसमें सरकारी एजेंसियों के अधिकारियों की भी जांच होनी चाहिए। क्योंकि सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद एसबीआई ने जो इलेक्टरल बॉन्ड से संबंधित दस्तावेज पेश किए हैं उसमें मनी ट्रेल साफ तौर पर नजर आ रही है ।

उन्होंने कहा कांग्रेस शासन में हुए 2G स्पेक्ट्रम और कोलगेट आवंटन को न्यायिक जांच के बाद इसलिए निरस्त किया गया था क्योंकि कोर्ट ने माना था कि अवैध रूप से इनका आवंटन किया गया था। जबकि इन मामलों में कोई मनी ट्रेल नहीं थी। उन्होंने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की गिरफ्तारी पर भी कड़ी आपत्ति जताई, कहा कि जिस व्यक्ति ने सत्तारुढ़ दल को 64 करोड़ का चंदा दिया। उसे ईडी ने जमानत पर रिहा कराके सरकारी गवाह बना लिया और एक चुने हुए मुख्यमंत्री को सीखचों के पीछे पहुंचा दिया।

वरिष्ठ अधिवक्ता प्रशांत भूषण ने बताया कि किस तरह से 25 में से 22 ऐसे राजनीतिक दल के नेता बीजेपी में आने के बाद एजेंसियों की जांच से बच गए जिनके खिलाफ गंभीर मामले चल रहे थे।

एक सवाल के जवाब में प्रशांत भूषण ने कहा कि ईवीएम और वीवीपेट मशीन में चिप होती है इसे आसानी से हैक किया जा सकता है ऊपर से सरकार ने 2017 में वीवीपेट के शीशे को ट्रांसपेरेंट से ब्लैक कर दिया ।अब पर्ची दिखाई तो जरूर देती है लेकिन वह कहां जाती है इसका कुछ पता नहीं चलता है। यूरोप के जर्मनी जैसे विकासशील देश में भी ईवीएम को प्रतिबंधित कर दिया गया है और इसमें गड़बड़ी की कोर्ट ने व्यापक संभावना जताई थी। बांग्लादेश जैसे छोटे से देश ने भी ईवीएम को हटाकर भी बैलेट पेपर से चुनाव शुरू किए हैं। ऐसे में सरकार क्यों ईवीएम से ही चुनाव कराने पर आमादा है। इसकी जांच होनी चाहिए ।हालांकि यह मामला अभी सुप्रीम कोर्ट में लंबित है।

 

Image source: Wikipedia
read more
ग्वालियरमध्य प्रदेश

रिटायर्ड होमगार्ड सैनिक का मर्डर बक्से में बंद मिली लाश, पोती और उसके प्रेमी पर शक

Retired Home Guard soldier murdered

ग्वालियर/ मध्यप्रदेश के ग्वालियर शहर के की पिपरी कृष्णा कॉलोनी में एक मकान में होमगार्ड के रिटायर्ड सैनिक रामस्वरूप राठौर की बक्से में बंद लाश मिलने से इलाके में सनसनी फैल गई , लाश लगभग चार से पांच दिन पुरानी है। 64 साल के रिटायर्ड होमगार्ड सैनिक की हत्या का आरोप उसके ही बेटे की 10 वीं में पढ़ने वाली 16 साल की नाबालिग बेटी पर लग रहा हैं। प्रारंभिक जांच पड़ताल में आशंका जताई जा रही है, कि नाबालिक छात्रा ने अपने प्रेमी के साथ मिलकर अपने दादा की हत्या की है। फिलहाल पुलिस ने मृतक की डेड बॉडी को पोस्टमार्टम के लिए भेजा है और नाबालिक से पूछताछ कर रही है। पुलिस जल्द पूरे मामले का खुलासा करेगी।

मृतक रिटायर्ड होमगार्ड सैनिक के बेटे महेश राठौर ने आखरी बार अपने पिता रामस्वरूप को होली के एक दिन पहले जीवित देखा था। मृतक रामस्वरूप का पूरा परिवार होली मनाने के लिए दतिया जिले के अपने गांव दलपतपुर गया था लेकिन रामस्वरूप अपनी पोती के साथ 10 दिन पहले ही ग्वालियर स्थित अपने घर किसी काम से आए थे। बाकी परिवार गांव में ही रह गया था। अचानक रात के समय नाबालिक बेटी की गांव में अपने पिता महेश राठौर से बात हुई थी तब उसने बताया, कि उसे किसी ने पकड़ लिया है और दादा को मार दिया है। जब महेश ग्वालियर में अपने पिता के घर पहुंचे में तो बंद बक्से में उनके पिता की लाश बरामद हुई जो काफी खस्ता हालत में थी लेकिन नाबालिक बेटी कहीं नहीं दिखी। इसके बाद पुलिस मौके पर पहुंची और जांच पड़ताल शुरू की गई खोजबीन के दौरान नाबालिक बेटी पड़ोस में छत पर बरामद हुई है, इसके बाद पुलिस नाबालिक पूछताछ के लिए थाने पर ले आई है।

इस पूरे हत्याकांड में शक की सुई मृतक की नाबालिक पोती की तरफ है, जो किसी चंद्रभान नामके युवक से प्रेम करती है जो भिंड जिले के दबोह का रहने वाला हैं फिलहाल लड़की ने चुप्पी साध रखी है पुलिस कड़ी से कड़ी जोड़कर पूरे मामले की जांच पड़ताल कर रही है पुलिस को शक है कि लड़की ने अपने प्रेमी के साथ मिलकर हत्या की इस वारदात को अंजाम दिया है पुलिस का कहना है वह जल्द इस हत्याकांड पर से पर्दा उठाएंगी।

read more
ग्वालियरमध्य प्रदेश

पीएम मोदी ने वर्चूअली ग्वालियर एयर टर्मिनल के उद्घाटन सहित 9811 करोड़ की 14 विकास योजनाओं का किया लोकार्पण और शुभारंभ

Gwalior Air Terminal Open

ग्वालियर, आजमगढ़/ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को 534 करोड़ की लागत से तैयार ग्वालियर में नवनिर्मित एयर टर्मिनल भवन का वर्चुअल उदघाटन किया,साथ ही पीएम ने कुल 9811 करोड़ की राशि की 14 अन्य एयरपोर्ट विकास योजनाओं का आजमगढ़ से वर्चुअल लोकार्पण और शुभारंभ भी किया । ग्वालियर एयरपोर्ट पर आयोजित समारोह में राज्यपाल मंगूभाई पटेल, मुख्यमंत्री डॉ.मोहन यादव, केन्द्रीय नागरिक उड्डयन मन्त्री ज्योतिरादित्य सिंधिया और विधानसभा अध्यक्ष नरेंद्र सिंह तोमर विशेष रूप से मोजूद थे उन्होंने एयरपोर्ट पर स्थित राजमाता विजयाराजे सिंधिया की मूर्ति का अनावरण भी किया।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने राजमाता विजयाराजे सिंधिया हवाईअड्डा ग्वालियर के नवीन टर्मिनल भवन का आजमगढ़ (यूपी) से वर्चुअल उदघाटन करते हुए कहा कि यह विकास की अनंत यात्रा का अभियान हैं मैं और बीजेपी सरकार 24×7 की गति से विकास के लिए दौड़ रहे है हम देश की अवाम के हित में रूकने या थकने वाले नही है पीएम ने पिछली सरकारों पर कटाक्ष करते हुए कहा पहले नेता तो नेता शिलान्यास के पत्थर तक गायब हो जाते थे। उन्होंने कहा आज एयरपोर्ट हाईवे रेलवे से जुड़े इंफ्रास्ट्रेकचर के लिए तो हम काम कर ही रहे हैं साथ ही आम लोगों की सड़क पानी और पर्यावरण से जुड़ी परियोजनाओं को आगे बढ़ाने के लिए भी हम कृतासंकल्पित है। मोदी आज नई सौगात के साथ इसकी गारंटी भी देता है उन्होंने कहा आज ग्वालियर सहित 14 स्थानों में एक साथ विकास का एक नया इतिहास लिखा जा रहा है यह कल का आजमगढ़, आजन्म यानि अनंतकाल तक विकास का गढ़ रहेगा।

पीएम मोदी ने विपक्ष पर निशाना साधते हुए कहा इससे इंडी गठबंधन की नींद उड़ी हुई है जो आजतक जातिवाद तुष्टीकरण और परिवारवाद की राजनीति करते आए थे वे अब 10 साल से लगातार हो रहे विकास को देखकर हैरान है उन्होंने कहा सीएम योगी के नेतृत्व में आज यूपी में भारी बदलाव आया है जो कल तक भय और माफियाराज देखते थे अब यहां कानून का राज कायम हुआ है लोग काफी खुश है।

इस मौके पर केंद्रीय मन्त्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि आज मेरे पिताजी माधवराव सिंधिया के जन्म दिवस पर मेरी आजी अम्मा के नाम के इस एयरपोर्ट का शुभारंभ हुआ है। हमारे देश का प्रतिनिधित्व कर रहे पीएम नरेंद्र मोदी ने देश ही नहीं बल्कि दुनिया के साथ ही चांद पर भी भारत का झंडा गाढ़ कर रख दिया है। आज ग्वालियर के साथ ही देश के 15 एयरपोर्ट का शुभारंभ हो रहा है, देश में ऐसा पहले कभी नहीं हुआ। 9811 करोड़ की लागत की योजना का लोकार्पण एक साथ हो रहा है। अटल जी के द्वारा शुरू हुए इस एयरपोर्ट का नाम मेरे आजी अम्मा के नाम पर रखा। मेरे पिताजी माधवराव सिंधिया ने इस एयरपोर्ट का विकास किया और आज विकास का नया अध्याय लिखा जा रहा है।इसके साथ ही सिंधिया ने कहा कि 534 करोड़ की लागत से सिर्फ 16 महीने में बनने वाला यह देश का पहला एयरपोर्ट है जो इतने कम समय बना है। आज मध्य प्रदेश का सबसे बड़ा एयरपोर्ट ग्वालियर एयरपोर्ट है। ग्वालियर को देश के 10 से ज्यादा शहरों को हवाई मार्ग से जोड़ा है,लेकिन आज जबलपुर के लोकार्पण के साथ ही तीन नए एयरपोर्ट बनने जा रहे हैं।अब रीवा, दतिया, उज्जैन, गुना, शिवपुरी में भी एयरपोर्ट बनने जा रहे हैं। जल्द ही मध्य प्रदेश में 10 एयरपोर्ट हो जाएंगे।ग्वालियर आज विकसित ग्वालियर हो चुका है आज मुझे इस बात की खुशी है कि ग्वालियर के विकास के लिए मेरे पिताजी की जयंती पर बीजेपी कांग्रेस सभी एक साथ विकास के लिए मंच पर मौजूद है।

इस मौके पर मुख्यमंत्री डॉ मोहन यादव ने कहा कि बदलते भारत और विकसित भारत और ग्वालियर के बढ़ते गौरव का गवाह ग्वालियर का एयरपोर्ट है,मोहन यादव ने कांग्रेस नेता स्व. माधवराव सिंधिया की तारीफ करते हुए कहा की आज खास बात यह है कि माधवराव सिंधिया जी की जयंती है। माधवराव सिंधिया का नाम विकास के लिए देशभर में जाना जाता है,ग्वालियर घराने ने देश सेवा के लिए हमेशा भूमिका निभाई है। खुशी की बात है ग्वालियर में विमानतल का लोकार्पण हुआ है और उज्जैन में एयरपोर्ट बनने की घोषणा हुई उन्होंने कहा राजमाता ने जनसंघ से लेकर भाजपा तक सहारा दिया है।ग्वालियर की धरती के आधार पर भारतीय जनता पार्टी जनसंघ के जमाने से धीरे-धीरे जब बढ़ने लगी तो सबसे पहले आसरा स्व राजमाता सिंधिया से मिला था। आज राजमाता की याद में एयरपोर्ट का शुभारंभ हुआ है। आज जब उनकी प्रतिमा हमारे सामने आई तो आंखों में उनका चेहरा उतर आया।

गौरतलब है कि देश के नागर विमानन इतिहास में सबसे कम समय में राजमाता विजयाराजे सिंधिया हवाईअड्डा ग्वालियर का नया टर्मिनल भवन बनकर तैयार हुआ है। इसमें ग्वालियर के सांस्कृतिक ,ऐतिहासिक वैभव और वास्तुकला की झलक दिखाई देती है,एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया द्वारा 498 करोड़ 50 लाख रूपए की लागत से रिकॉर्ड लगभग 16 माह में टर्मिनल भवन का काम पूरा किया गया है। अत्याधुनिक उड्डयन सेवाओं से सुसज्जित यह टर्मिनल अंतर्राष्ट्रीय स्तर की सुविधाओं से लैस हैं। लगभग 20 हजार 230 वर्ग मीटर क्षेत्र में बनाया गया टर्मिनल भवन एक साथ 1400 यात्रियों को सुविधायें देने में सक्षम है। इसमें 16 चैकइन काउण्टर्स, 4 लिफ्ट, 4 पैसीजर ब्रिज, 6 एक्सरे मशीन, 3 एस्केलेटर एवं 700 वाहनों की पार्किंग क्षमता विकसित की गई है। हवाईअड्डे पर बुनियादी ढाँचे के निर्माण के अलावा ग्वालियर को अधिक से अधिक शहरों से जोड़ने की क्षमता विकसित की गई है। वर्तमान में ग्वालियर से अहमदाबाद, बैंगलोर, दिल्ली, हैदराबाद, इंदौर, मुम्बई व अयोध्या के लिये हवाई उड़ानें उपलब्ध हैं।

read more
ग्वालियरमध्य प्रदेश

ग्वालियर में प्रोपर्टी डीलर सहित पत्नी और बेटे ने की आत्महत्या, सुसाइड नोट मिला,एक व्यक्ति के परेशान करने की बात लिखी

Gwalior Family Suicide

ग्वालियर/ मध्यप्रदेश के ग्वालियर में एक परिवार के तीन लोगो ने सामूहिक रूप से फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली । प्रॉपर्टी डीलर ने पत्नी व बेटे सहित यह आत्मघाती कदम उठाया, पुलिस को घटना स्थल से एक सुसाइड नोट मिला है। जिसमें किसी देवेंद्र पाठक नामक व्यक्ति के द्वारा बेटे को प्रताड़ित करने का जिक्र किया गया है। वही पुलिस ने सुसाइड नोट को जप्त कर जांच पड़ताल शुरू कर दी है।

सिरोल थाना क्षेत्र के न्यू हुरावली रोड हारखेड़ा निवासी जितेन्द्र झा प्रॉपर्टी डीलर हैं और उनकी पत्नी त्रिवेणी झा और 17 साल का बेटा अचल झा साथ में रहते थे। जितेन्द्र झा की पत्नी त्रिवेणी आर्मी स्कूल में प्रींसिपल के पद पर पदस्थ थी। तीनों ही किसी भी रिश्तेदार का कॉल नहीं उठा रहे थे। आज रिश्तेदार उनके घर पहुंचे तो देखा कि घर में अंदर से ताला लगा हुआ था और कोई हलचल नहीं हो रही थी। किसी तरह घर के अंदर गए तो अंदर का दृश्य दिल दहला देने वाला था। प्रॉपर्टी डीलर के जवान बेटा पहले कमरे में पंखे पर फांसी के फंदे पर लटका हुआ था। उसके बाद आगे सीढ़ियों की ग्रिल पर प्रॉपर्टी डीलर और उसकी प्रींसिपल पत्नी फंदे पर लटकी हुई थीं। कमरे में हर तरफ खून फैला हुआ था। जो कि फांसी लगाने से पहले जितेंद्र झा के हाथ की नस काटने से फैला प्रतीत होता था खून देखकर घटना स्थल संदिग्ध लगने पर तत्काल मामले की सूचना पुलिस को दी गई। सूचना मिलते ही पुलिस अधिकारी और फॉरेंसिक टीम घटना स्थल पर पहुंची। फॉरेंसिक एक्सपर्ट ने भी घटना स्थल का निरीक्षण किया। जिस पर पुलिस में इस मामले को प्राथमिक तौर पर खुदकुशी करना बताया है।

पुलिस को बेटे की स्टडी टेबल पर नोट बुक में एक सुसाइड नोट मिला है। जिसमें जितेंद्र ने लिखा था कि उनके बेटे को देवेंद्र पाठक बहुत प्रताड़ित कर रहा था जिससे परेशान होकर उसने सुसाइड कर लिया देवेंद्र साक्षी अपार्टमेंट के सामने कॉलोनी में रहता है बेटे की मौत से दुखी होकर हम दोनों आत्महत्या कर रहे हैं उन्होंने अपने बेटे को प्रताड़ित करने वाले शख्स देवेंद्र के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने की भी बात लिखी है।लेकिन प्रॉपर्टी डीलर ने फांसी लगाने से पहले हाथ की कलाई की नस काटी है। घटना स्थल पर ब्लड और ब्लेड पड़े मिले हैं। ऐसा उसने फांसी लगाने से पहले क्यों किया है समझ नहीं आ रहा है। पुलिस ने घटना स्थल से मिले सुसाइड नोट को जप्त कर तीनों के शवों को पोस्टमार्टम हाउस भेजा दिया।पुलिस का अनुमान है पहले बेटे ने की मौत हुई उसके बाद पति पत्नी ने आत्महत्या की है फिलहाल पुलिस ने मर्ग कायम कर सुसाइड नोट में लिखे व्यक्ति की तलाश शुरू कर दी है। पुलिस का मानना है कि उसके पकड़े जाने के बाद इस घटना का खुलासा हो जाएगा।

मृतक परिवार के रिश्तेदार ने कहा उनको कभी लगा नहीं कि वो इतने गहरे तनाव में हैं कि कोई कदम उठा लेंगे। फोन लगा रहे थे जब कोई भी कॉल रिसीव नहीं कर रहा था तो घर पर जाकर देखा और यह पता लगा। उन्होंने बताया जितेन्द्र झा प्रॉपर्टी डीलर हैं

एसएसपी राजेश सिंह चंदेल के अनुसार एक परिवार के तीन सदस्यों ने फांसी लगाकर आत्महत्या की है। एक सुसाइड नोट मिला है जिसमें परेशान होने की बात लिखी मिली है। घटना स्थल पर जांच की जा रही है। जो भी तथ्य सामने आएंगे आगे जांच में लाए जाएंगे। फिलहाल घटना स्थल पर कोई चीज संदिग्ध नजर नहीं आ रही है।।

read more
ग्वालियरदेशमध्य प्रदेश

पैर में फ्रेक्चर होने के बाद भी परिजनो से संवाद के करने पहुंचे कांग्रेस प्रत्याशी प्रवीण पाठक, कहा बेटे के सम्मान की लड़ाई है आपको लड़ना है

Praveen Pathak Samvad

ग्वालियर/ ग्वालियर दक्षिण विधानसभा सीट कांग्रेस प्रत्याशी एवं विधायक प्रवीण पाठक के पैर में फ्रैक्चर होने के बाद आज भी वह अपने क्षेत्र में परिजन संवाद कार्यक्रम में मतदाताओं के बीच संवाद करने पहुंचे। इस दौरान उन्होंने कहा कि यह चुनाव आपके इस बेटे के मान सम्मान की लड़ाई है और आप सबको प्रवीण पाठक बनकर यह लड़ाई लड़नी है।

विधायक श्री पाठक ने अपने पिछले 5 साल में किए गए कार्यों के बारे में बताते हुए कहा कि मैंने आपके लिए अपनी पूरी शक्ति से सेवा करने का प्रयास किया है, शिक्षा ,स्वास्थ्य एवं अन्य मूलभूत सुविधाओं को देने का हमने भरपूर प्रयास किया है, आगे भी मैं जी जान से आपकी सेवा करूंगा । उन्होंने प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनने के बाद कांग्रेस द्वारा किए गए वायदों के बारे में बताते हुए कहा कि यह वायदा नहीं कांग्रेस की गारंटी है सरकार बनते ही हर वर्ग के लोगों को तमाम सुविधाएं मिलना शुरू हो जाएंगी।

ज्ञात हो कि विधायक श्री पाठक के पैर में दो दिन पहले जनसंपर्क कार्यक्रम के दौरान चार पहिया वाहन पेर पर चढ़ गया जिसकी वजह से उनकी एड़ी में माइनर फ्रैक्चर हो गया है। श्री पाठक ने कहा कि कोई भी मुश्किल मुझे अपने परिजनों के साथ संवाद करने से नहीं रोक सकती‌। पैर फ्रेक्चर होने के बावजूद भी विधायक श्री पाठक ने कल भी परिजन संपर्क किया था और आज वार्ड 46 ,34 41 वार्ड 37 में चार स्थानों पर परिजन संवाद कार्यक्रम को संबोधित किया।

मंगलवार को वार्ड क्रमांक 46 के तेली के बजरिया में आयोजित नुक्कड़ सभा के दौरान एडवोकेट आदित्य भार्गव ने कांग्रेस प्रत्याशी प्रवीण पाठक की कार्यप्रणाली से प्रभावित होकर अपने साथी विक्रम राजपूत, मनीष शर्मा, देवांश शर्मा, नितिन बंसल, प्रीतम रजक, मुकेश अग्रवाल, गिरीश शर्मा, चंद्र प्रताप बघेल, शशांक यादव, गौरव शर्मा, फुंदन कुशवाह, मोनू खान, सनी शर्मा, फ़िरोज़ खाँन, देवेंद्र स्वामी, राकेश कुशवाह, दीपक शर्मा एवं वीरेंद्र शर्मा सहित अन्य समर्थको ने कांग्रेस पार्टी की सदस्यता ली और कांग्रेस प्रत्याशी को जिताने का संकल्प लिया।

read more
ग्वालियरजबलपुरमध्य प्रदेश

बीजेपी की पांचवी लिस्ट आने के बाद मचा कोहराम, दो केंद्रीय मंत्रियों को घेरा, सिंधिया की गाड़ी के आगे लेटे कार्यकर्ता, भूपेंद्र के गार्ड से मारपीट

Chaos created

ग्वालियर, जबलपुर / बीजेपी ने शनिवार को मध्यप्रदेश में चुनाव के लिए अपने प्रत्याशियों की 5 वी लिस्ट जारी की थी लेकिन इसके बाद कार्यकर्ताओं ने अपने नेता को टिकट नहीं दिए जाने पर प्रदर्शन के साथ पुतलों का दहन किया तो कुछ जगह शक्ति प्रदर्शन भी हुआ लेकिन सबसे गंभीर बात जबलपुर और ग्वालियर में देखने को मिली ग्वालियर में केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया के महल पर प्रदर्शन और नारेबाजी हुई और मुन्नालाल गोयल के समर्थक सिंधिया की कार के आगे लेट गए वही जबलपुर में गुस्साए कार्यकर्ताओं ने प्रदेश प्रभारी और केंद्रीय मंत्री भूपेंद्र यादव के गार्ड की मारपीट के साथ यादव के साथ भी धक्कामुकी कर दी।

कांग्रेस में दूसरी सूची जारी होने के बाद पिछले तीन दिन से हंगामा जारी है नेता पार्टी छोड़ रहे है पुतला दहन और प्रदर्शनों का दौर चल रहा है नेता दूसरे दल से टिकट लेकर चुनावी मैदान में उतरने की तैयारी में है तो बीजेपी भी उससे अछूती नहीं है यहां भी पार्टी से टिकट की चाहत रखने वाले नेता और उनके समर्थक सड़कों पर आ गए है और नेताओं के साथ बगावती स्वरों के साथ इस्तीफों की कतार लगती जा रही है।

बुरहानपुर में दिवंगत भाजपा सांसद नंदकुमार सिंह चौहान के बेटे हर्षवर्धन सिंह ने टिकट मांगा था लेकिन उन्हें टिकट नहीं मिला इसको लेकर उन्होंने अपने समर्थकों के साथ जोरदार प्रदर्शन किया जिसमें काफी संख्या में बीजेपी कार्यकर्ता भी शामिल थे इस शक्ति प्रदर्शन के साथ जोरदार नारेबाजी कर साथ ही उन्होंने हाईकमान को चेताया और टिकट बदलने की मांग की। जबकि रंजना बघेल का टिकट बीजेपी नेतृत्व ने काट दिया है जिसके बाद रंजना बघेल काफी गुस्से में है उन्होंने इसके लिए कैलाश विजयवर्गीय को जिम्मेदार बताया है।

ग्वालियर जिले की ग्वालियर पूर्व सीट पर बीजेपी ने माया सिंह को टिकट दिया है जबकि यहां से सिंधिया समर्थक पूर्व विधायक मुन्नलाल गोयल ने टिकट मांगा था लेकिन उनको टिकट नहीं दिए जाने से उनके समर्थक नाराज हो गए और विरोध पर उतर आएं उन्होंने रविवार को जयविलास महल को घेर लिया और गोयल के समर्थन में नारेबाजी करने के साथ जोरदार प्रदर्शन किया इस बीच केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया जब गाड़ी में सबार होकर महल से बाहर निकले तो कार्यकर्ता उनकी गाड़ी के सामने लेट गए उसमें महिलाएं भी शामिल थी यह देखकर सिंधिया गाड़ी से उतरे और कार्यकर्ताओं के बीच आकर जमीन पर बैठ गए और उन्हे समझाने लगे लेकिन कार्यकर्ता कहा मानने वाले थे वह मुन्नालाल गोयल को टिकट देने की लगातार मांग करते रहे काफी समय तक यह तमाशा चलता रहा बाद में किसी तरह सिंधिया ने उन्हें जब हाईकमान से बात करने और मुन्नालाल गोयल को टिकट दिलाने के प्रयास की बात कही तब जाकर कार्यकर्ता माने और बमुश्किल सिंधिया वहां से जा सके।

इधर जबलपुर में भी सूची आने के बाद जोरदार हंगामा हुआ, यहां की जबलपुर उत्तर विधानसभा सीट से बीजेपी नेतृत्व ने अभिलाष पांडे को टिकट दिया है इस प्रत्याशी को बाहरी बताकर सैकड़ों कार्यकर्ताओं ने प्रदेश के प्रभारी एवं केंद्रीय मंत्री भूपेंद्र यादव को घेर लिया,इस बीच जब उनके गार्ड ने कार्यकर्ताओं को पीछे धकियाया तो बबाल हो गया और कार्यकर्ताओं ने मिलकर गार्ड को पकड़ लिया और उसके गिरने के बाद भीड़ ने उसकी पिटाई शुरू कर दी इस बीच केंद्रीय मंत्री भूपेंद्र यादव भी भीड़ के बीच धक्कामुक्की का शिकार हो गए। बाद में मीडिया से बात करते हुए एक महिला कार्यकर्ता ने कहा कि हमारे क्षेत्र में तमाम कार्यकर्ताओं ने टिकट मांगा था लेकिन पार्टी ने बाहरी व्यक्ति को टिकट दे दिया हम कार्यकर्ता बिना खाए पिए खून पसीना बहाते है पार्टी के लिए मेहनत करते है और टिकट देना हो तो पश्चिम क्षेत्र के कार्यकर्ता को मौका दिया जा रहा है हम बाजपेई परिवार के साथ है और पार्टी को टिकट बदलना ही पड़ेगा।

Guard Beaten
Guard Beaten

इधर टीकमगढ़ के पूर्व विधायक केके श्रीवास्तव ने बीजेपी की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा दे दिया है प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा को भेजे इस्तीफे में उन्होंने टिकट वितरण में सर्वे और कार्यकर्ताओं की अनदेखी का आरोप लगाया है।

जबकि केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर के करीबी और पूर्व सांडा अध्यक्ष जयसिंह कुशवाह ने भी पार्टी के साथ प्रदेश कार्यसमिति सदस्य और मुरैना के प्रभारी पद से इस्तीफा दे दिया है अपने त्यागपत्र में उन्होंने कहा कि एक ही परिवार को 12 वी बार पार्टी नेतृत्व ने टिकट से नवाजा है पहले मायासिंह के पति ध्यानेंद्र सिंह को टिकट मिलता रहा अब मायासिंह को दिया जा रहा है जब महापौर के चुनाव के समय मायासिंह ने तबियत खराब और स्वास्थ्य कारणों से चुनाव लड़ने से इंकार कर दिया था फिर अब वह कैसे ठीक हो गई? उन्होंने कहा 1971 में जन्म लेने वाले कार्यकर्ता अब बूढ़े हो चले उन्हें कोई प्रोत्साहन नहीं मिल रहा लगातार अनदेखी हो रही हैं। अब तो इंतहा हो गई है।

इस हंगामे के बाद जब मीडिया ने चुनाव समिति के संयोजक एवं केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर से बात की तो उनका कहना था कि एक जगह से कई कई लोग टिकट मांगते है टिकट तो एक को ही मिलेगा सभी जगह स्थिति नियंत्रण में है उन्होंने कहा कांग्रेस अपने दांवे के लिए स्वतंत्र है लेकिन हमने काम किया है उसके आधार पर बीजेपी को जनता का आशीर्वाद मिलेगा।

read more
ग्वालियरमध्य प्रदेश

कांग्रेस प्रत्याशी एवं विधायक ने निगमायुक्त की चुनाव आयुक्त से की शिकायत

Praveen Pathak MLA

ग्वालियर / ग्वालियर दक्षिण से कांग्रेस प्रत्याशी विधायक प्रवीण पाठक ने मप्र के मुख्य निर्वाचन आयुक्त को ग्वालियर नगर निगम आयुक्त हर्ष सिंह की शिकायत की है उन्होंने आरोप लगाया है कि निगम आयुक्त भारतीय जनता पार्टी के एजेंट के तौर पर पक्षपातपूर्ण कार्यवाही रहे है श्री पाठक ने इस मामले में शीघ्र कार्रवाई करने की मांग की है।

कांग्रेस विधायक श्री पाठक ने अपने पत्र में लिखा है कि ग्वालियर नगर निगम आयुक्त हर्ष सिंह आईएएस अधिकारी होते हुए भी ग्वालियर में भारतीय जनता पार्टी के एजेंट की तरह कार्य कर रहे हैं‌। उनके द्वारा नवरात्र एवं दीपावली जैसे प्रमुख धार्मिक त्यौहारों के बाबजूद ग्वालियर दक्षिण के प्रमुख मार्गो को अमृत योजना एवं अन्य योजनाओं के नाम पर खुदवाया जा रहा है,जिससे लोगों को आने जाने में परेशानी के साथ पर्यावरण दूषित हो रहा है जबकि उक्त क्षेत्र ग्वालियर का प्रमुख व्यापारिक क्षेत्र है‌। निगमायुक्त हर्ष सिंह की इस मनमानी से व्यापारियों, कारोबारियों, दुकानदारों एवं जनता में काफी आक्रोश व्याप्त है‌।

विधायक श्री पाठक ने आगे लिखा है कि निगमायुक्त द्वारा ग्वालियर दक्षिण की स्ट्रीट लाइटों, सफाई व्यवस्था को लेकर पूर्व से ही उदासीनता बरतते हुए व्यापक रूप से स्थिति बिगाड़ी जा रही है। वर्तमान में जानबूझकर शहर की सड़कों को खोदना एवं ग्वालियर दक्षिण की जनता को भरे त्यौहारों के दौरान परेशान करने की नियत से वे केवल भारतीय जनता पार्टी को फायदा पहुंचाने और कांग्रेस पार्टी को नुकसान की दृष्टि से कर रहे हैं ‌ । चूंकि मैं यहां विपक्ष का विधायक हूं तो अकारण भाजपा को लाभ पहुंचाने की दृष्टि से यह कार्य कराया जा रहा है। मेरा आपसे अनुरोध है कि ग्वालियर की जनता की परेशानी के मद्देनजर चुनावी गरिमा, मर्यादा एवं निष्पक्षता की दृष्टि से अतिशीघ्र उचित कार्यवाही करें ‌।

read more
ग्वालियरमध्य प्रदेश

दिनदहाड़े गोली मारकर सरपंच की हत्या, पुरानी रंजिश का मामला, डेढ़ साल पहले भाई की भी हुई थी हत्या

Sarpanch shot dead in Gwalior

ग्वालियर/ मध्यप्रदेश के ग्वालियर शहर में दिनदहाड़े एक सरपंच की बाइक सवार युवकों ने गोली मारकर निर्मम हत्या कर दी और हत्या के बाद हमलावर हथियार लहराते हुए मौके से फरार हो गए इस हत्याकांड से इलाके में सनसनी फेल गई खबर मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंच गई और उसने जांच पड़ताल शुरू कर दी है इस हत्याकांड के पीछे पुरानी रंजिश को माना जा रहा है बताया जाता है डेढ़ साल पहले मृतक सरपंच के भाई की भी हत्या हो चुकी है।

यह खूनी वारदात पड़ाव थाना क्षेत्र के गांधीनगर इलाके में हुआ है बनहेरी ग्राम पंचायत का सरपंच विक्रम रावत आज सुबह अपने वकील से मिलने आया जब वह अपनी कार के पास खड़ा था तभी अचानक बाईक सवार हमलावर आए और उन्होंने सिर को निशाना बनाकर कई फायर किए में गोली लगने के बाद विक्रम कार के पास नीचे गिर गया फायरिंग की आवाज सुनकर आसपास रहने वाले घर के बाहर निकले ,एकाएक हुई इस घटना से पूरा इलाका दहशत में है।

घटना की जानकारी मिलने पर पड़ाव पुलिस मौके पर पहुंच गई छानवीन करने पर मौके पर पुलिस को 8 से 10 चले हुए कारतूस बरामद हुए हैं। स्थानीय निवासी राजू सेंगर ने बताया कि वे अपने निवास पर थे तभी अचानक से उन्हें गोलियां चलने की आवाज सुनाई दी जब तक वह निकाल कर बाहर आए तब तक गोली चलने की आवाज बंद हो चुकी थी और हमलावर भी भाग चुके थे जब उन्होंने पास जाकर देखा तो कार के पास एक युवक लहूलुहान हालत में पड़ा था इस पर मोहल्ले के अन्य लोग भी इकट्ठे हो गए लेकिन तब तक युवक ने दम तोड़ दिया था।

एसपी राजेश चंदेल सहित अन्य पुलिस अधिकारी भी मौके पर पहुंच गए थे एसपी ने बताया मारा गया युवक विक्रम रावत है जो थाना आरोन की की बनहेरी पंचायत का सरपंच है और यहां अपने किसी केस के सिलसिले में यहां निवास करने वाले एडवोकेट प्रशांत शर्मा से मिलने यहां आया हुआ था पता लगा कि यह अपने किसी रंजिश के मामले में सरपंच वकील से मिलने आया हुआ था जब वह कार से उतरा तभी एक बाइक पर सवार होकर आए दो लोगों और तीन अन्य लोगों ने गोली मार कर उसकी हत्या कर दी पुलिस के मुताबिक मृतक का अपने ही गांव के लोगों से कोई पुराना विवाद चल रहा है और उसमें आज उनकी पेशी भी होनी थी पुलिस ने फिलहाल हत्या का मामला दर्ज कर जांच पड़ताल शुरू कर दी गई है।

लेकिन इस हत्याकांड के बाद गांव में परिजन और सरपंच के समर्थक उग्र हो गए और उन्होंने आरोपियों के घरों में आग लगा दी जिसमें करीब एक दर्जन मकानों को क्षति पहुंची है। जबकि एसपी कार्यालय के सामने भी धरना प्रदर्शन किया गया है। उनकी मांग है कि सभी आरोपियों को शीघ्र गिरफ्तार कर कड़ी से कड़ी सजा दी जाएं।

read more
error: Content is protected !!