close

रांची

झारखंडरांची

चौथा टैस्ट मैच, भारत 5 विकेट से जीता, 3-1 से इंग्लेंड पर अजेय बढ़त, रोहित अश्विन ने बनाए रिकार्ड

Team India Wins 4th Test Vs England

रांची/ रांची में खेला गया चौथे टेस्ट मैच में भारत ने इंग्लेंड को 5 विकेट से हरा दिया इस तरह 5 टैस्ट मैचों की इस सीरीज में भारत ने 3 ..1 से अजेय बढ़त बनाकर सीरीज पर कब्जा जमा लिया हैं खेल के चौथे दिन आज कप्तान रोहित शर्मा ने अर्ध शतक जड़ा तो शुभमन गिल और ध्रुव जुरेल ने अपने जुझारू नाबाद खेल से भारत को जीत दिलाई। कप्तान रोहित शर्मा भारत के एक मात्र कप्तान है जो आज तक एक भी सीरीज नही हारे। जबकि रविचंद्रन अश्विन ने इस घरेलू श्रृंखला में सबसे अधिक 354 विकेट लेने का रिकार्ड बनाकर अनिल कुंबले को पीछे कर दिया है। भारत के ओपनर यशस्वी जायसवाल ने इस सीरीज में अभी तक सबसे अधिक 655 रन बनाने का रिकार्ड अपने नाम किया। वही पहली टेस्ट सीरीज डेब्यू करने वाले भारतीय विकेट कीपर ध्रुव जुरेल की 90 रन और नाबाद 39 रन की पारियां भी बेमिसाल रही जिससे भारत ने जीत की इबारत लिखी।

चौथे टैस्ट मैच में इंग्लैंड के कप्तान बेन स्टोक्स ने टॉस जीता और पहले बेटिंग करने का फैसला लिया। पहली इनिंग में जो रूट ने जोरदार खेल दिखाया एक तरफ जब इंग्लेंड के बल्लेबाज एक अंतराल पर आउट हो रहे थे वहीं दूसरी तरफ रूट मोर्चा सम्हाले रहे और अंत तक नाबाद रहे उन्होंने शतक बनाने के साथ 122 रन की पारी खेली उनके अलावा रॉबिंसन ने 58 जॉनी बेयस्टो ने 38 रन और फॉक्स ने 47 रन बनाए और इंग्लेंड की पहली पारी 353 रन पर समाप्त हुई।

भारत की तरफ से टेस्ट डेब्यू करने वाले तेज बॉलर आकाश दीप ने शुरूआत में ही इंग्लैंड को जोरदार झटके दिए और शुरू के तीन विकेट अपने नाम किए इसके अलावा मोहम्मद सिराज ने 2 रविंद्र जडेजा ने 4 विकेट और 1 विकेट रविचंद्रन अश्विन ने लिया।

पहली पारी में भारत की शुरुआत काफी खराब रही और सिर्फ 161 रन पर उसने 5 बल्लेबाजों को गंवा दिया शुभामन गिल ने 38 रन और यशस्वी जायसवाल ने 73 रन का योगदान दिया और अश्विन के आउट होने के बाद नाईट वाचमेन के रूप में उतरे कुलदीप यादव और ध्रुव जुरेल के बीच में लंबी पार्टनरशिप हुई और खेल के अंत में भारत 7 विकेट खोकर 219 रन बना चुका था। जूरेल 30 रन और कुलदीप यादव 17 रन पर नाबाद लौटे।

तीसरे दिन के खेल में कुलदीप ध्रुव मैदान पर उतरे और कुलदीप यादव 28 रन पर आउट हुए कुलदीप यादव ने 131 गैंद खेली जो एक रिकार्ड है। दूसरी तरफ कुलदीप का साथ मिलने पर ध्रुव जूनेल ने काफी आकर्षक पारी खेली और अंतिम विकेट के रूप में आउट हुए उनके 90 रनो की बदौलत भारत ने 307 रन बनाएं। ध्रुव ने अपनी 90 रनो की पारी में 6 चौके और 4 छक्के जड़े इस तरह पहली पारी के आधार पर इंग्लेंड को 46 रन की बढ़त मिल गई।

इंग्लेंड के स्पिनर अब्दुल बशीर ने 119 रन देकर भारत के सबसे अधिक 5 विकेट चटकाएं उन्होंने पहली बार 5 विकेट लिए, इसके अलावा हार्टली ने 3 विकेट एंडरसन ने 2 लिए।

इंग्लेंड की दूसरी पारी लड़खड़ा गई और भारतीय स्पिनर उनके बल्लेबाजों पर पूरी तरह हावी दिखाई दिए,और इंग्लेंड की पूरी टीम 145 रन पर ढेर हो गई जिसमें क्रोली ने सबसे अधिक 60 रन डकेट ने 15 रन और जॉनी बेयस्टो ने 30 रन और फॉक्स ने 17 रन बनाएं।

भारतीय बॉलर रवि अश्विन ने 5 विकेट और कुलदीप यादव ने इंग्लेंड के 4 बल्लेबाजों को पवेलियन भेजा, एक विकेट रविंद्र जडेजा के नाम रहा। खास बात रही इंग्लेंड के 19 रन के स्कोर पर 2 विकेट गिरे 120 पर 2 विकेट गिरे और 133 और 145 रन पर भी 2 ..2 विकेट गिरे।

भारत को तीसरे दिन जीत के लिए 192 रन बनाने का लक्ष्य मिला, और भारत ने तीसरे दिन का खेल समाप्त होने से पहले बिना विकेट खोए 40 रन बना लिए थे। नाबाद रहे रोहित शर्मा ( 24 रन) और यशस्वी जायसवाल (16 रन) खेल के चौथे दिन आज सुबह आगे खेलने उतरे। लेकिन जब भारत का स्कोर 84 रन था तो यशस्वी को 37 रन के स्कोर पर जो रूट ने आउट कर दिया। उसके बाद रोहित शर्मा ने अपनी हॉफ सेंचुरी पूरी की यह इंग्लेंड के खिलाफ 5वी और भारत की जमीन पर रोहित की 10 वी हॉफ सेंचुरी थी उसके बाद रोहित (55 रन) ने टॉम हार्टले की गेंद को आगे बडकर खेलने की कोशिश की तो विकेट के पीछे बेन फॉक्स ने उनकी गिल्लियां बिखेर कर उन्हें आउट कर दिया उसके बाद शुभमन गिल का साथ देने आए रजत पाटीदार आज भी नही चले और शून्य पर आउट हो गए उन्हें शोएब बशीर ने अपनी बॉल पर ओली पॉप के हाथों कैच कराया और भारत का स्कोर 3 विकेट पर 100 रन हो गया उसके बाद रविंद्र जड़ेजा भी आज फेल रहे उन्होंने 33 बॉल खेली और केवल 3 रन बनाकर वे शोएब बशीर का शिकार बने उसे बाद अगली बॉल पर बशीर ने सरफराज खान को भी आउट कर भारत की मुश्किलें बड़ा दी। भारत 120 रन पर 5 विकेट खो चुका था। उसे अभी भी जीत के लिए 72 रन की ज़रूरत थी दूसरी तरफ शुभमन गिल अभी तक काफी सम्हल कर खेल रहे थे सरफराज के आउट होने के बाद ध्रुव जुरेल, गिल का साथ देने आए और दोनों ने एक एक दो दो रन के साथ खेल को काफी समझदारी से आगे बढ़ाया और भारत को जीत की दहलीज पर लाकर खड़ा कर दिया। गिल ने हार्टले के एक ओवर में दो छक्के लगाकर अपना अर्ध शतक पूरा किया और दो रन लेकर ध्रुव ने भारत का स्कोर 192 रन पर कर दिया और भारत 5 विकेट से जीत गया। गिल और ध्रुव के बीच छठे विकेट के लिए 72 रन की सांझेदारी हुई शुभमन गिल 52 रन और ध्रुव जुरेल 39 रन पर नाबाद रहे।

इंग्लेंड के बॉलर शोएब बशीर ने भारत के 3 बल्लेबाजों को। आउट किया जबकि जो रूट और हार्टले को एक एक विकेट मिला।

इस जीत के साथ अपनी सरजमीं पर भारत ने सबसे अधिक 17 टैस्ट सीरीज जीत ली है ।भारतीय कप्तान के रूप में रोहित शर्मा अभी तक एक भी सीरीज नही हारे है और उन्होंने अब टेस्ट मैच में 4 हजार रन और फस्ट क्लास में 9 हजार रन पूरे कर लिए है। जबकि रविचंद्रन अश्विन ने एक इनिंग में सबसे ज्यादा 35 बार 5 विकेट लेने का रिकार्ड बनाया और उन्होंने घरेलू सीरीज में 354 विकेट लेकर अनिल कुंबले को पीछे छोड़ दिया है। जबकि यशस्वी जायसवाल ने इस सीरीज में अभी तक सबसे ज्यादा 655 रन बनाएं है।

read more
झारखंडदेशरांची

सीएम हेमंत सोरेन को ईडी ने किया गिरफ्तार, दूसरे दौर की होगी पूछताछ, चंपई सोरेन होंगे अगले सीएम, हाईकोर्ट में आज सुनवाई

Hemant Soren and Champai Soren

रांची/ झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को जमीन घोटाले में ईडी ने 8 घंटे की पूछताछ के बाद गिरफ्तार कर लिया है। हिरासत में लिए जाने के बाद सोरेन ने राज्यपाल सीपी राधाकृष्णन को अपना इस्तीफा सौंप दिया ।इधर विधायक दल की बैठक में चंपई सोरेन को विधायक दल का नेता चुना गया है और वह झारखंड के अगले मुख्यमंत्री होंगे। लेकिन फिलहाल उनकी ताजपोशी नही हो पाई हैं। राज्यपाल ने कहा है कि वह उनके नाम के समर्थन पत्र का पहले अवलोकन करेंगे। जबकि हेमंत सोरेन की याचिका पर गुरूवार को हाईकोर्ट सुनवाई करेगा,उनके समर्थकों ने झारखंड बंद का ऐलान भी किया है। इस कार्यवाही को लेकर कांग्रेस नेता राहुल गांधी सहित समूचा विपक्ष मोदी सरकार के खिलाफ हमलावर है।

काफी समय से झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन पर ईडी की तलवार लटकी थी और वह ईडी के कई बार बुलावे पर भी उपस्थित नहीं हुए, लेकिन आखिर ईडी ने उन्हें राची में आज अपनी गिरफ्त में ले लिया औरउन्हें ईडी दफ्तर लाया गया आठ घंटे की पूछताछ के बाद उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया बाद में ईडी उन्हें मुख्यमंत्री आवास ले गई जहां उन्हें हाउस अरेस्ट कर लिया गया है अब ईडी उनसे दुबारा पूछताछ करेगी।

जबकि प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) की इस कार्यवाही के खिलाफ झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन हाईकोर्ट पहुंचे है उनकी याचिका पर कोर्ट गुरुवार को सुबह साढ़े दस बजे सुनवाई करेगी। इससे पहले उन्होंने ईडी अधिकारियों के खिलाफ पुलिस ने शिकायत दर्ज कराई जिसपर एससीएसटी एक्ट के तहत ईडी अधिकारियों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है।

हेमंत सोरेन के इस्तीफे के बाद विधायक दल की बैठक में जेएमएम कांग्रेस आरजेडी एवं अन्य विधायकों ने जेएमएम के उपाध्यक्ष और विधायक चंपई सोरेन को विधायक दल का नेता चुना उसके उपरान्त सभी विधायक मिलकर राजभवन पहुंचे और चंपई सोरेन ने 43 विधायकों का हस्ताक्षर का समर्थन का पत्र राज्यपाल को सौंपा और मुख्यमंत्री पद का दावा करते हुए विधायकों की परेड कराने का आग्रह किया लेकिन राज्यपाल ने पत्र पर अवलोकन के उपरांत विचार करने की बात कही।

झारखंड में विधानसभा की कुल 82 सीटें है बहुमत के लिए 42 सीटें चाहिए, इनमें से 29 सीटें जेएमएम पर कांग्रेस पर 17 आरजेडी 1 बीजेपी 26 एजेएसयू 3 और अन्य 5 विधायक हैं।

read more
झारखंडरांची

झारखंड की सोरेन सरकार पर लटकी तलवार, ऑपरेशन लोटस के डर से सभी विधायक को रायपुर शिफ्ट किया

Hemant-Soren

रांची / झारखंड में एक बार फिर सियासी भूचाल आ गया है और ऑपरेशन लोटस की सुगबुगाहट शुरू हो गई है। एक तरफ चुनाव आयोग ने मुख्यमत्री हेमंत सोरेन की विधायक की सदस्यता मामले में अपना फैसला राज्यपाल को भेज दिया है जिसका फिलहाल खुलासा तो नहीं हुआ लेकिन सोरेन की सदस्यता जाने और गठबंधन सरकार पर संकट आने की संभावना के मद्देनजर मंगलवार को मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने अपने सभी विधायको को इंडिगो की फ्लाइट से रायपुर रवाना कर दिया हैं।

झारखंड में मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन की सरकार पर तलवार लटकी हुई है ऑफिस एंड प्रॉफिट केस में आरोप के चलते सोरेन की विधायक की सदस्यता पर खतरा मंडरा रहा है फिलहाल चुनाव आयोग की रिपोर्ट सार्वजनिक तो नहीं हुई लेकिन बेवसाइट अखबार सोशल मीडिया और अन्य सूत्रों में संभावना जताई जा रही है की हेमंत सोरेन की सदस्यता जा रही है इस बीच बीजेपी इसका फ़ायदा उठाकर कही यूपीए गठबंधन के विधायकों को बरगलाकर प्रलोभन या लालच देकर उन्हें तोड़ ना ले ऐसी आशंका हेमंत सोरेन को हैं इसलिए मंगलवार को शाम साढ़े चार बजे उन्होंने अपने दो बीमार विधायको को छोड़कर सभी विधायकों को इंडिगो की फ्लाइट से कांग्रेस शासित राज्य छत्तीसगढ़ के रायपुर भेज दिया हैं।

जैसा कि झारखंड में कुल 81 विधानसभी सीटें है जिसमें जेएमएम के 30, कांग्रेस के 18 और एक विधायक आरजेडी का शामिल है जो हेमंत सोरेन की यूपीए के सरकार में शामिल है जबकि बीजेपी पर 26 विधायक है इस तरह सरकार बनाने के लिए बहुमत के लिए 41 विधायको की ज़रूरत है और सोरेन सरकार पर 49 विधायक हैं और एक स्पीकर को मिला ले तो कुल 50 विधायक यूपीए सरकार का हिस्सा हैं। एक हफ्ते से झारखंड में यही माहोल व्याप्त है 5 दिन पहले भी इन विधायकों के रायपुर जाने की बात कही जा रही थी विधायक बसों में भरकर मुख्यमंत्री के साथ निकले जरूर लेकिन खूंटी में पिकनिक मनाकर सांची लोट आएं थे।

read more
झारखंडरांची

झारखंड में कुर्सी का खेल जारी, सुरेन विधायकों को साथ ले गए खूंटी पिकनिक मनाकर लोटे

Hemant-Soren

रांची/ आफिस ऑफ प्रॉफिट केस में झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के सिर पर उनकी विधायकी की सदस्यता निलंबन की तलवार लटकी है अपनी सरकार को बचाने की जद्दोजहद में वह यूपीए के सभी विधायको को खूंटी ले गए है इस ऑपरेशन को काफी गोपनीय तरीके से अंजाम दिया गया।साफ है उन्हें डर है कि कही उनकी विपक्षी पार्टी बीजेपी बहका कर उनके विधायको को तोड़ नही ले। आज सोरेन अपने 41 विधायको के साथ तीन बसों से खूंटी रवाना हुए और उन्होंने विधायको के साथ एक सेल्फी फोटो भी सार्वजनिक किया हैं। लेकिन 4 घंटे बाद सभी विधायक मुख्यमंत्री के साथ वापस आ गए। जबकि सोरेन की सदस्यता जाना तय माना जा रहा हैं।

जैसा कि झारखंड में झारखंड मुक्ति मोर्चा, कांग्रेस और आरजेडी विधायको की यूपीए गठबंधन की सरकार है इस दौरान मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ऑफिस आफ़ प्रॉफिट केस में फंस गए और यह मामला चुनाव आयोग में जा पंहुचा है

लेकिन मुख्यमंत्री सोरेन को खबर मिली कि झारखंड में आपरेशन लोटस की कोशिश हो रही है और सोरेन ने अपने विधायको को एकजुट रखने और अपनी सरकार सुरक्षित करने की मुहिम गोपनीय तरीके से शुरू कर दी इस बीच 10 अगस्त को छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के रांची दौरे के साथ सरकार बचाने की भूमिका बनी। इसके बाद हेमंत सोरेन ने भी सभी विधायकों की बैठक ली थी और सभी को एकजुट रहने को कहा।

बैठक के बाद पिछले दिन से ही यह खबर थी कि यूपीए के सभी विधायक कही बाहर ले जाए जा सकते है और शुक्रवार को उन्हे छत्तीसगढ़ ले जाने की भी चर्चा थी लेकिन प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष राकेश ठाकुर और विधायक दल के नेता आलमगीर आलम इससे इंकार करते रहे। लेकिन बीती रात से देर रात तक गोपनीय तरीके से एक ऑपरेशन शुरू हुआ और क्राइसिस मैनेजमेंट जिसने दो दिन पहले तैयार रणनीति के तहत के विधायकों को बाहर ले जाने की मुहिम शुरू कर दी और सभी विधायको को एक स्थान पर लाया गया और आज शनिवार की सुबह मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के साथ 41 विधायक खूंटी रवाना हुए बताया जाता है इन्हें किसी रिसोर्ट में ठहराया जाना था बताया जाता है यह मिशन पूरी तरह से सीक्रेट रखा गया है यहां तक की बस चालक और अन्य कर्मचारियों के फ़ोन भी उनसे ले लिए गए है। लेकिन सभी विधायक 4 घंटे बाद रांची लौट आए बताया जाता है खूंटी में सभी विधायको के साथ एक डेम पर पिकनिक जैसा माहौल देखा गया साथ ही एक बैठक भी हुई रांची लौटने से यही संदेश दिया गया कि सभी विधायक एकजुट हैं।

जबकि सूत्रों के मुताबिक जानकारी मिली है कि चुनाव आयोग ने मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन की सदस्यता मामले में अपनी रिपोर्ट राज्यपाल को भेज दी है लेकिन फिलहाल इसका अभी खुलासा नहीं हुआ है। अब राज्यपाल के मन में क्या बात है यह कहा नहीं जा सकता। जबकि कहा यह भी जा रहा है यदि सोरेन की विधायक की सदस्यता चली भी जाती है तो वह मुख्यमंत्री बने रहेंगे।

read more
झारखंडरांची

इंडिया के चीफ जस्टिस की खरी खरी, झूठ का एजेंडा चलाकर मीडिया लोकतंत्र को पीछे धकेल रहा हैं

N V Ramanna

रांची / भारत के मुख्य न्यायाधीश (CJI) एन वी रमन्ना ने कहा कि न्यायिक मामलों और सामाजिक मुद्दों पर टीवी डीवेड और सोशल मीडिया पर चलाए जाने वाले एजेंडा वाले अधकचरे कंगारू कोर्ट लोकतंत्र के लिए नुकसान देह है उन्होंने कहा प्रिंट मीडिया फिर भी अपनी जवाबदेही समझता है परंतु इलेक्ट्रोनिक मीडिया पूरा झूठ का एजेंडा चला रहा हैं।

रांची में जस्टिस एसबी सिंहा मेमोरियल लेक्चर में अपने संबोधन में भारत के सीजेआई श्री रामन्ना ने कहा कि आज के बदले हुए युग में मीडिया के पास किसी भी विषय को बड़ाने की अपार क्षमता है लेकिन वह अच्छे बुरे सही गलत और कोन सी चीज सामने रखना है कोन सी नही इसमें अंतर की क्षमता खो चुका हैं मीडिया को अपनी जवाबदेही समझता होगी उन्होंने कहा इलेक्ट्रोनिक मीडिया प्रेरित डिबेड कराता है और मीडिया की तरफ से फैलाए जा रहे पूर्वाग्रह से लोग प्रभावित होते है जिससे जिससे कई बार अनुभवी जजों को भी फैसला लेने में मुश्किलात का सामना करना पड़ता हैं और यह लोकतंत्र को कमजोर कर रहा है और व्यवस्था को नुकसान पहुंचा रहा हैं और यही कारण है कि सोशल मीडिया पर जवाबदेही की मांग बड़ी हैं।

सीजेआई श्री रामन्ना ने कहा कि मीडिया अपनी जिम्मेदारी समझे और मीडिया सरकार या अदालतों को हस्तक्षेप का अवसर देने की बजाय खुद को संतुलित और विनियमित करें । प्रमुख न्यायाधीश ने विशेष रूप से जजों के खिलाफ मीडिया में चलाए जारहे अभियान का हवाला देते हुए कहा कि जज तुरंत प्रतिक्रिया नहीं दे सकते लेकिन इसे उनकी कमजोरी या लाचारी कतई ना समझी जाएं। बीजेपी की पूर्व नेत्री नुपुर शर्मा के खिलाफ फैसले और टिप्पणी को लेकर सोशल मीडिया पर दो जजों के खिलाफ अभियान चलाया गया था, सीजेआई ने कहा एक जज जिसने अपराधियों को सजा दी हो उसके रिटायर होने के बाद उसकी सुरक्षा वापस ले ली जाती है उसके बाद उस जज को उसी समाज में ही रहना पड़ता है जिसमें वे कई लोगों को दोषी ठहरा चुके होते हैं।

read more
झारखंडरांची

रांची में महिला एसआई और आणन्द में सिपाही को वाहन से कुचला, दोनों की दर्दनाक मौत

Women SI Killed

रांची, आणन्द / हरियाणा में डीएसपी को डम्फर से कुचलकर हत्या करने की घटना को पूरे 24 घंटे भी नही गुजरे थे कि रांची में एक महिला सब इंस्पेक्टर और आणन्द में एक एक पुलिस कांस्टेबल को माफिया ने वाहनों से कुचलकर मार डाला। जिससे साफ होता है कि माफिया के सामने पुलिस और कानून का खौफ जैसे खत्म सा हो गया हैं।

झारखंड के रांची के तुपुदाना में पदस्थ महिला थाना प्रभारी उप निरीक्षक संध्या टोपनो को मुखबिर से खबर मिली थी कि उनके इलाके से गौ तस्कर वाहन में मवेशियों को लेकर निकलने वाले है मंगलवार की सुबह 3 बजे वह अपने साथ दो पुलिस कर्मीयो के साथ तुपुदाना इलाके में वाहनों की चेकिंग करने लगी जब वह एक कार की साइड में खड़े होकर चेकिंग कर रही थी इसी बीच एक पिकअप वाहन तेजी से उसी तरफ से निकला और उसे कुचलता हुआ भागने लगा यह देख उसके साथ के पुलिसकर्मियों ने उसका पीछा किया तेज गति होने से वह आगे पलट गया पुलिस कर्मियों ने ड्राइवर सहित दो लोगो को पकड़ लिया, लेकिन महिला एसआई संध्या टोपनो की वाहन के नीचे आने से मौत हो गई।

संध्या टोपनो 2018 बैंच की सब इंस्पेक्टर थी जो शुरू से यही पदस्थ थी पिता की मौत के बाद उन्होंने इसकी परीक्षा पास की थी तीन भाई बहनों वह बीच की थी उनकी शादी नहीं हुई थी उनकी आकस्मिक मौत से उनके परिवार पर पहाड़ टूट पड़ा है उनकी मां स्नेहलता टोपनो का कहना है कि वह शुरू से ही लड़को कर तरह रहती थी और पुलिस अफसर बनना चाहती थी पिता के रहते वह पुलिस में नही जा सकी बाद में उसने चुपचाप फॉर्म भरा और सफल भी हो गई वह मेरी बेटी नहीं बेटा थी जबकि उसके छोटे भाई अजीत का कहना है हमें न्याय चाहिए।

इधर गुजरात के आणन्द में पुलिस चेकिंग के दौरान एक ट्रक चालक ने एक पुलिस कांस्टेबल को रौद दिया जिससे उसकी मौत हो गई डीएसपी अजीत राय के मुताबिक बोरसद शहर में रात की ड्यूटी के दौरान चेकिंग में किरण राज नाम का एक पुलिस कर्मी ने जब एक ट्रक को रोकने की कोशिश की तो ड्राइवर ने एकाएक ट्रक तेज गति से आगे बढ़ा दिया पुलिस कर्मी ने उसका पीछा किया और रुकने पर जब वह ट्रक की ओर बढ़ रहा था तभी एकाएक ट्रक चालक ने किरण राज पर ट्रक चढ़ा दिया और कुचल दिया राहगीरों ने उसे करमसद अस्पताल में भर्ती कराया लेकिन उसकी मौत हो गई इस बीच ड्राइवर ट्रक छोड़कर भाग गया। पुलिस ने ट्रक को जब्त पर आरोपी ड्राइवर की खोजबीन शुरू कर दी हैं।

read more
error: Content is protected !!