close

झारखंड

झारखंडरांची

चौथा टैस्ट मैच, भारत 5 विकेट से जीता, 3-1 से इंग्लेंड पर अजेय बढ़त, रोहित अश्विन ने बनाए रिकार्ड

Team India Wins 4th Test Vs England

रांची/ रांची में खेला गया चौथे टेस्ट मैच में भारत ने इंग्लेंड को 5 विकेट से हरा दिया इस तरह 5 टैस्ट मैचों की इस सीरीज में भारत ने 3 ..1 से अजेय बढ़त बनाकर सीरीज पर कब्जा जमा लिया हैं खेल के चौथे दिन आज कप्तान रोहित शर्मा ने अर्ध शतक जड़ा तो शुभमन गिल और ध्रुव जुरेल ने अपने जुझारू नाबाद खेल से भारत को जीत दिलाई। कप्तान रोहित शर्मा भारत के एक मात्र कप्तान है जो आज तक एक भी सीरीज नही हारे। जबकि रविचंद्रन अश्विन ने इस घरेलू श्रृंखला में सबसे अधिक 354 विकेट लेने का रिकार्ड बनाकर अनिल कुंबले को पीछे कर दिया है। भारत के ओपनर यशस्वी जायसवाल ने इस सीरीज में अभी तक सबसे अधिक 655 रन बनाने का रिकार्ड अपने नाम किया। वही पहली टेस्ट सीरीज डेब्यू करने वाले भारतीय विकेट कीपर ध्रुव जुरेल की 90 रन और नाबाद 39 रन की पारियां भी बेमिसाल रही जिससे भारत ने जीत की इबारत लिखी।

चौथे टैस्ट मैच में इंग्लैंड के कप्तान बेन स्टोक्स ने टॉस जीता और पहले बेटिंग करने का फैसला लिया। पहली इनिंग में जो रूट ने जोरदार खेल दिखाया एक तरफ जब इंग्लेंड के बल्लेबाज एक अंतराल पर आउट हो रहे थे वहीं दूसरी तरफ रूट मोर्चा सम्हाले रहे और अंत तक नाबाद रहे उन्होंने शतक बनाने के साथ 122 रन की पारी खेली उनके अलावा रॉबिंसन ने 58 जॉनी बेयस्टो ने 38 रन और फॉक्स ने 47 रन बनाए और इंग्लेंड की पहली पारी 353 रन पर समाप्त हुई।

भारत की तरफ से टेस्ट डेब्यू करने वाले तेज बॉलर आकाश दीप ने शुरूआत में ही इंग्लैंड को जोरदार झटके दिए और शुरू के तीन विकेट अपने नाम किए इसके अलावा मोहम्मद सिराज ने 2 रविंद्र जडेजा ने 4 विकेट और 1 विकेट रविचंद्रन अश्विन ने लिया।

पहली पारी में भारत की शुरुआत काफी खराब रही और सिर्फ 161 रन पर उसने 5 बल्लेबाजों को गंवा दिया शुभामन गिल ने 38 रन और यशस्वी जायसवाल ने 73 रन का योगदान दिया और अश्विन के आउट होने के बाद नाईट वाचमेन के रूप में उतरे कुलदीप यादव और ध्रुव जुरेल के बीच में लंबी पार्टनरशिप हुई और खेल के अंत में भारत 7 विकेट खोकर 219 रन बना चुका था। जूरेल 30 रन और कुलदीप यादव 17 रन पर नाबाद लौटे।

तीसरे दिन के खेल में कुलदीप ध्रुव मैदान पर उतरे और कुलदीप यादव 28 रन पर आउट हुए कुलदीप यादव ने 131 गैंद खेली जो एक रिकार्ड है। दूसरी तरफ कुलदीप का साथ मिलने पर ध्रुव जूनेल ने काफी आकर्षक पारी खेली और अंतिम विकेट के रूप में आउट हुए उनके 90 रनो की बदौलत भारत ने 307 रन बनाएं। ध्रुव ने अपनी 90 रनो की पारी में 6 चौके और 4 छक्के जड़े इस तरह पहली पारी के आधार पर इंग्लेंड को 46 रन की बढ़त मिल गई।

इंग्लेंड के स्पिनर अब्दुल बशीर ने 119 रन देकर भारत के सबसे अधिक 5 विकेट चटकाएं उन्होंने पहली बार 5 विकेट लिए, इसके अलावा हार्टली ने 3 विकेट एंडरसन ने 2 लिए।

इंग्लेंड की दूसरी पारी लड़खड़ा गई और भारतीय स्पिनर उनके बल्लेबाजों पर पूरी तरह हावी दिखाई दिए,और इंग्लेंड की पूरी टीम 145 रन पर ढेर हो गई जिसमें क्रोली ने सबसे अधिक 60 रन डकेट ने 15 रन और जॉनी बेयस्टो ने 30 रन और फॉक्स ने 17 रन बनाएं।

भारतीय बॉलर रवि अश्विन ने 5 विकेट और कुलदीप यादव ने इंग्लेंड के 4 बल्लेबाजों को पवेलियन भेजा, एक विकेट रविंद्र जडेजा के नाम रहा। खास बात रही इंग्लेंड के 19 रन के स्कोर पर 2 विकेट गिरे 120 पर 2 विकेट गिरे और 133 और 145 रन पर भी 2 ..2 विकेट गिरे।

भारत को तीसरे दिन जीत के लिए 192 रन बनाने का लक्ष्य मिला, और भारत ने तीसरे दिन का खेल समाप्त होने से पहले बिना विकेट खोए 40 रन बना लिए थे। नाबाद रहे रोहित शर्मा ( 24 रन) और यशस्वी जायसवाल (16 रन) खेल के चौथे दिन आज सुबह आगे खेलने उतरे। लेकिन जब भारत का स्कोर 84 रन था तो यशस्वी को 37 रन के स्कोर पर जो रूट ने आउट कर दिया। उसके बाद रोहित शर्मा ने अपनी हॉफ सेंचुरी पूरी की यह इंग्लेंड के खिलाफ 5वी और भारत की जमीन पर रोहित की 10 वी हॉफ सेंचुरी थी उसके बाद रोहित (55 रन) ने टॉम हार्टले की गेंद को आगे बडकर खेलने की कोशिश की तो विकेट के पीछे बेन फॉक्स ने उनकी गिल्लियां बिखेर कर उन्हें आउट कर दिया उसके बाद शुभमन गिल का साथ देने आए रजत पाटीदार आज भी नही चले और शून्य पर आउट हो गए उन्हें शोएब बशीर ने अपनी बॉल पर ओली पॉप के हाथों कैच कराया और भारत का स्कोर 3 विकेट पर 100 रन हो गया उसके बाद रविंद्र जड़ेजा भी आज फेल रहे उन्होंने 33 बॉल खेली और केवल 3 रन बनाकर वे शोएब बशीर का शिकार बने उसे बाद अगली बॉल पर बशीर ने सरफराज खान को भी आउट कर भारत की मुश्किलें बड़ा दी। भारत 120 रन पर 5 विकेट खो चुका था। उसे अभी भी जीत के लिए 72 रन की ज़रूरत थी दूसरी तरफ शुभमन गिल अभी तक काफी सम्हल कर खेल रहे थे सरफराज के आउट होने के बाद ध्रुव जुरेल, गिल का साथ देने आए और दोनों ने एक एक दो दो रन के साथ खेल को काफी समझदारी से आगे बढ़ाया और भारत को जीत की दहलीज पर लाकर खड़ा कर दिया। गिल ने हार्टले के एक ओवर में दो छक्के लगाकर अपना अर्ध शतक पूरा किया और दो रन लेकर ध्रुव ने भारत का स्कोर 192 रन पर कर दिया और भारत 5 विकेट से जीत गया। गिल और ध्रुव के बीच छठे विकेट के लिए 72 रन की सांझेदारी हुई शुभमन गिल 52 रन और ध्रुव जुरेल 39 रन पर नाबाद रहे।

इंग्लेंड के बॉलर शोएब बशीर ने भारत के 3 बल्लेबाजों को। आउट किया जबकि जो रूट और हार्टले को एक एक विकेट मिला।

इस जीत के साथ अपनी सरजमीं पर भारत ने सबसे अधिक 17 टैस्ट सीरीज जीत ली है ।भारतीय कप्तान के रूप में रोहित शर्मा अभी तक एक भी सीरीज नही हारे है और उन्होंने अब टेस्ट मैच में 4 हजार रन और फस्ट क्लास में 9 हजार रन पूरे कर लिए है। जबकि रविचंद्रन अश्विन ने एक इनिंग में सबसे ज्यादा 35 बार 5 विकेट लेने का रिकार्ड बनाया और उन्होंने घरेलू सीरीज में 354 विकेट लेकर अनिल कुंबले को पीछे छोड़ दिया है। जबकि यशस्वी जायसवाल ने इस सीरीज में अभी तक सबसे ज्यादा 655 रन बनाएं है।

read more
झारखंडदेशरांची

सीएम हेमंत सोरेन को ईडी ने किया गिरफ्तार, दूसरे दौर की होगी पूछताछ, चंपई सोरेन होंगे अगले सीएम, हाईकोर्ट में आज सुनवाई

Hemant Soren and Champai Soren

रांची/ झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को जमीन घोटाले में ईडी ने 8 घंटे की पूछताछ के बाद गिरफ्तार कर लिया है। हिरासत में लिए जाने के बाद सोरेन ने राज्यपाल सीपी राधाकृष्णन को अपना इस्तीफा सौंप दिया ।इधर विधायक दल की बैठक में चंपई सोरेन को विधायक दल का नेता चुना गया है और वह झारखंड के अगले मुख्यमंत्री होंगे। लेकिन फिलहाल उनकी ताजपोशी नही हो पाई हैं। राज्यपाल ने कहा है कि वह उनके नाम के समर्थन पत्र का पहले अवलोकन करेंगे। जबकि हेमंत सोरेन की याचिका पर गुरूवार को हाईकोर्ट सुनवाई करेगा,उनके समर्थकों ने झारखंड बंद का ऐलान भी किया है। इस कार्यवाही को लेकर कांग्रेस नेता राहुल गांधी सहित समूचा विपक्ष मोदी सरकार के खिलाफ हमलावर है।

काफी समय से झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन पर ईडी की तलवार लटकी थी और वह ईडी के कई बार बुलावे पर भी उपस्थित नहीं हुए, लेकिन आखिर ईडी ने उन्हें राची में आज अपनी गिरफ्त में ले लिया औरउन्हें ईडी दफ्तर लाया गया आठ घंटे की पूछताछ के बाद उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया बाद में ईडी उन्हें मुख्यमंत्री आवास ले गई जहां उन्हें हाउस अरेस्ट कर लिया गया है अब ईडी उनसे दुबारा पूछताछ करेगी।

जबकि प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) की इस कार्यवाही के खिलाफ झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन हाईकोर्ट पहुंचे है उनकी याचिका पर कोर्ट गुरुवार को सुबह साढ़े दस बजे सुनवाई करेगी। इससे पहले उन्होंने ईडी अधिकारियों के खिलाफ पुलिस ने शिकायत दर्ज कराई जिसपर एससीएसटी एक्ट के तहत ईडी अधिकारियों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है।

हेमंत सोरेन के इस्तीफे के बाद विधायक दल की बैठक में जेएमएम कांग्रेस आरजेडी एवं अन्य विधायकों ने जेएमएम के उपाध्यक्ष और विधायक चंपई सोरेन को विधायक दल का नेता चुना उसके उपरान्त सभी विधायक मिलकर राजभवन पहुंचे और चंपई सोरेन ने 43 विधायकों का हस्ताक्षर का समर्थन का पत्र राज्यपाल को सौंपा और मुख्यमंत्री पद का दावा करते हुए विधायकों की परेड कराने का आग्रह किया लेकिन राज्यपाल ने पत्र पर अवलोकन के उपरांत विचार करने की बात कही।

झारखंड में विधानसभा की कुल 82 सीटें है बहुमत के लिए 42 सीटें चाहिए, इनमें से 29 सीटें जेएमएम पर कांग्रेस पर 17 आरजेडी 1 बीजेपी 26 एजेएसयू 3 और अन्य 5 विधायक हैं।

read more
झारखंड

झारखंड में पति ने पत्नी की हत्या कर 50 टुकड़े किए, कुत्तों को इंसान का मांस खाते देख हुआ खुलासा, 18 टुकड़े बरामद, सिर नदारद

Murdered

साहिबगंज / झारखंड के साहिबगंज में एक महिने पहले लव मैरिज करने वाले पति ने अपनी प्रेमिका की हत्या करने के बाद इलेक्ट्रिक कटर से उसकी देह के 50 टुकड़े कर उन्हें इधर उधर फैंक दिया तो कुछ छुपा दिए। जब कुत्तों को मानव मांस खाते लोगो ने देखा तो इसका खुलासा हुआ साफ है यह वारदात श्रद्धा हत्याकांड से भी वीभत्स है। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार करने के साथ शव के 18 टुकड़े बरामद कर लिए है लेकिन सिर और अन्य अंग फिलहाल नही मिले है।

झारखंड के साहिबगंज इलाके में रहने वाले दिलदार अंसारी का आदिम पहाड़िया जनजाति की 22 वर्षीय रिबिका पहाड़िया से दो साल से लव अफेयर था। जब इन्होंने शादी की कोशिश की तो दोनों के परिवार वालों ने इजाजत नहीं दी परिजनों के खिलाफ होने से यह दोनों एक महीने पहले भागकर पुलिस थाने पहुंचे और पुलिस ने दोनों की रजामंदी देखते हुए अपनी अभिरक्षा में इनकी शादी करा दी। लेकिन दिलदार पहले से ही शादीशुदा था उसकी पहली पत्नी भी उसी के घर में रहती थी जब रीबिका भी शादी के बाद घर में आ गई तो आए दिन झगड़े होने लगे।

बीते दिन शनिवार को मोहल्ले में कुछ कुत्तों को इंसान का मांस नोचकर खाते लोगों ने देखा तो उनका माथा ठनका मोहल्ले वालों ने इसकी जानकारी पुलिस को दी तो पुलिस तफ्तीश करने वहां पहुंची और उसने जब आसपास तलाशी ली तो कुछ और मांस के टुकड़े उसे मिले चुकि दिलदार अपनी पत्नी की गुमशुदगी की शिकायत पुलिस में पहले दर्ज करा चुका था तो शक होने पर पुलिस ने जब पूछताछ की तो मामले से पर्दा उठा।

पुलिस ने तुरत फुरत बेलाटोला से दिलदार को हिरासत में लिया और जब उससे कड़ाई से पूछताछ की तो मालूम हुआ कि 16 _17 दिसंबर की रात उसने अपनी पत्नी रिबिका की गला रेतकर हत्या कर दी और उसके बाद इलेक्ट्रिक कटर से उसके मृत शरीर के 50 टुकड़े किए और उनमें से कुछ उसने छुपा दिए और कुछ उसी रात मोहल्ले के सुनसान इलाके में फेंक दिए।

पुलिस ने जांच के दौरान दिलदार की निशानदेही पर मोहल्ले की आगनवाड़ी से करीब 300 मीटर दूरी पर माझटोला में बने एक सूने मकान में दविश दी तो वहां उसे एक बोरी में कुछ मानव अंग और कुछ टुकड़े जमीन पर बिखरे मिले जिन्हें पुलिस ने जब्त कर लिया। बताया जाता है जहां शव मिला वह मकान दिलदार के मामा का है।

Dig सुदर्शन मंडल के मुताबिक दो शादी करने के बाद आए दिन हो रहे झगड़े रीबिका की हत्या का कारण बना उस की हत्या में दिलदार के साथ उसके परिजन भी शामिल थे 16 _17 दिसंबर की रात हत्या के बाद इलेक्ट्रिक कटर से बड़ी बेरहमी से रिबिका की लाश के आरोपी ने 50 टुकड़े किए और शनिवार को मोहल्ले में कुत्तों के इंसान के मांस को खाते देख स्थानीय लोगो की सूचना पर इस घटना का पता चला। Dig ने बताया कि 2 साल के अफेयर के बाद दोनों की एक महीने पहले ही शादी हुई थी। पुलिस अधिकारी ने बताया कि शव के टुकड़े क्यों किए पुलिस इस बारे में भी जांच कर रही है फिलहाल 50 में से 18 टुकड़े पुलिस बरामद कर चुकी है लेकिन उसे सिर और बकाया अंग नहीं मिले है। पुलिस ने पति दिलदार उसकी मां मामा सहित 7 लोगों को गिरफ्तार कर लिया है।

जैसा कि रिबिका 6 भाई बहनों में तीसरे नंबर पर थी उसके माता पिता सुरजा पहाड़िया और चांदी पहाड़िया उसके दिलदार से शादी के खिलाफ थे उनके विरोध के चलते एक महिने पहले यह भाग कर थाने पहुंचे और पुलिस ने उनकी शादी कराई थी आज वहीं पुलिस रिबिका के शरीर के टुकड़ों की तलाश में जुटी है। जबकि रिबिका के पिता का कहना है कि उनकी बेटी की हत्या के आरोपी को कड़ी सजा मिलना चाहिए जिससे रिबिका न्याय मिले जबकि रिबिका की छोटी बहन ने कहा कि उसे और उनके परिवार को डर है कि कही दिलदार के परिजन उनकी भी हत्या नही करदे।

read more
झारखंड

चाईबासा में महिला इंजीनियर के साथ गैंगरेप, 10 पर मामला दर्ज, गिरफ्तारी नहीं

Rape Victim

चाईबासा/ झारखंड राज्य के चाईबासा में काफी गंभीर घटना सामने आई है यहां एक सॉफ्टवेयर इंजीनियर के साथ 10 बदमाशो ने गैंग रैप किया गंभीर हालत में पीड़िता को पुलिस ने अस्पताल में भर्ती कराया है लेकिन मामला दर्ज होने के बाद अभी तक पुलिस के हाथ अभी खाली है किसी आरोपी की गिरफ्तारी नहीं हुई हैं।

यह घटना शुक्रवार शाम 7 बजे की बताई गई है एक सॉफ्टवेयर इंजीनियर लड़की अपने दोस्तों के साथ घूमने आई थी जहां उसे बदमाशो ने घेर लिया और लड़की और उसके साथियों ने विरोध किया लेकिन वह लड़की को जबरन ले गए और उसके साथ गैंग रैप की घटना को अंजाम दिया। बताया जाता है लड़की की स्थिति काफी गंभीर है।

शिकायत के बाद पुलिस ने 10 लोगों के खिलाफ सामूहिक बलात्कार सहित अन्य धाराओं में अपराधिक मामला दर्ज कर कुछ संदिग्ध लोगों को हिरासत में लिया है बड़ी घटना को देखते हुए वरिष्ठ पुलिस प्रशासन ने एक एसआईटी का गठन किया है जो पूरे मामले की जांच कर रही है लेकिन फिलहाल पुलिस ने किसी को गिरफ्तार नही किया है।

गैंगरेप की घटना के बाद खाराखंड की सोरेन सरकार गठबंधन सरकार बीजेपी के निशाने पर आ गई है और बीजेपी ने कहा है कि इस ब्रूट्रल वारदात के बाद अभी तक पुलिस के हाथ खाली है इससे साफ है प्रदेश की सरकार और पुलिस इस मामले में कितनी गंभीर हैं। जबकि सामाजिक कार्यकर्ता पूजा आनंद ने भी पुलिस प्रशासन की निष्क्रियता पर सवाल उठाए है और कहा कि पहले पुलिस दिखती थी लेकिन लगातार महिलाओं के साथ इस तरह की घटनाएं सामने आ रही है ।जबकि पुलिस अधीक्षक आशुतोष शेखर ने बताया कि इस घटना के बाद एसआईटी का गठन कर पुलिस गहन जांच कर आरोपियों का पता लगा रही है कुछ संदिग्ध लोगों से पूछताछ भी पुलिस कर रही है आरोपी जल्द पकड़ लिए जाएंगे।

read more
झारखंडरांची

झारखंड की सोरेन सरकार पर लटकी तलवार, ऑपरेशन लोटस के डर से सभी विधायक को रायपुर शिफ्ट किया

Hemant-Soren

रांची / झारखंड में एक बार फिर सियासी भूचाल आ गया है और ऑपरेशन लोटस की सुगबुगाहट शुरू हो गई है। एक तरफ चुनाव आयोग ने मुख्यमत्री हेमंत सोरेन की विधायक की सदस्यता मामले में अपना फैसला राज्यपाल को भेज दिया है जिसका फिलहाल खुलासा तो नहीं हुआ लेकिन सोरेन की सदस्यता जाने और गठबंधन सरकार पर संकट आने की संभावना के मद्देनजर मंगलवार को मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने अपने सभी विधायको को इंडिगो की फ्लाइट से रायपुर रवाना कर दिया हैं।

झारखंड में मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन की सरकार पर तलवार लटकी हुई है ऑफिस एंड प्रॉफिट केस में आरोप के चलते सोरेन की विधायक की सदस्यता पर खतरा मंडरा रहा है फिलहाल चुनाव आयोग की रिपोर्ट सार्वजनिक तो नहीं हुई लेकिन बेवसाइट अखबार सोशल मीडिया और अन्य सूत्रों में संभावना जताई जा रही है की हेमंत सोरेन की सदस्यता जा रही है इस बीच बीजेपी इसका फ़ायदा उठाकर कही यूपीए गठबंधन के विधायकों को बरगलाकर प्रलोभन या लालच देकर उन्हें तोड़ ना ले ऐसी आशंका हेमंत सोरेन को हैं इसलिए मंगलवार को शाम साढ़े चार बजे उन्होंने अपने दो बीमार विधायको को छोड़कर सभी विधायकों को इंडिगो की फ्लाइट से कांग्रेस शासित राज्य छत्तीसगढ़ के रायपुर भेज दिया हैं।

जैसा कि झारखंड में कुल 81 विधानसभी सीटें है जिसमें जेएमएम के 30, कांग्रेस के 18 और एक विधायक आरजेडी का शामिल है जो हेमंत सोरेन की यूपीए के सरकार में शामिल है जबकि बीजेपी पर 26 विधायक है इस तरह सरकार बनाने के लिए बहुमत के लिए 41 विधायको की ज़रूरत है और सोरेन सरकार पर 49 विधायक हैं और एक स्पीकर को मिला ले तो कुल 50 विधायक यूपीए सरकार का हिस्सा हैं। एक हफ्ते से झारखंड में यही माहोल व्याप्त है 5 दिन पहले भी इन विधायकों के रायपुर जाने की बात कही जा रही थी विधायक बसों में भरकर मुख्यमंत्री के साथ निकले जरूर लेकिन खूंटी में पिकनिक मनाकर सांची लोट आएं थे।

read more
झारखंडरांची

झारखंड में कुर्सी का खेल जारी, सुरेन विधायकों को साथ ले गए खूंटी पिकनिक मनाकर लोटे

Hemant-Soren

रांची/ आफिस ऑफ प्रॉफिट केस में झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के सिर पर उनकी विधायकी की सदस्यता निलंबन की तलवार लटकी है अपनी सरकार को बचाने की जद्दोजहद में वह यूपीए के सभी विधायको को खूंटी ले गए है इस ऑपरेशन को काफी गोपनीय तरीके से अंजाम दिया गया।साफ है उन्हें डर है कि कही उनकी विपक्षी पार्टी बीजेपी बहका कर उनके विधायको को तोड़ नही ले। आज सोरेन अपने 41 विधायको के साथ तीन बसों से खूंटी रवाना हुए और उन्होंने विधायको के साथ एक सेल्फी फोटो भी सार्वजनिक किया हैं। लेकिन 4 घंटे बाद सभी विधायक मुख्यमंत्री के साथ वापस आ गए। जबकि सोरेन की सदस्यता जाना तय माना जा रहा हैं।

जैसा कि झारखंड में झारखंड मुक्ति मोर्चा, कांग्रेस और आरजेडी विधायको की यूपीए गठबंधन की सरकार है इस दौरान मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ऑफिस आफ़ प्रॉफिट केस में फंस गए और यह मामला चुनाव आयोग में जा पंहुचा है

लेकिन मुख्यमंत्री सोरेन को खबर मिली कि झारखंड में आपरेशन लोटस की कोशिश हो रही है और सोरेन ने अपने विधायको को एकजुट रखने और अपनी सरकार सुरक्षित करने की मुहिम गोपनीय तरीके से शुरू कर दी इस बीच 10 अगस्त को छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के रांची दौरे के साथ सरकार बचाने की भूमिका बनी। इसके बाद हेमंत सोरेन ने भी सभी विधायकों की बैठक ली थी और सभी को एकजुट रहने को कहा।

बैठक के बाद पिछले दिन से ही यह खबर थी कि यूपीए के सभी विधायक कही बाहर ले जाए जा सकते है और शुक्रवार को उन्हे छत्तीसगढ़ ले जाने की भी चर्चा थी लेकिन प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष राकेश ठाकुर और विधायक दल के नेता आलमगीर आलम इससे इंकार करते रहे। लेकिन बीती रात से देर रात तक गोपनीय तरीके से एक ऑपरेशन शुरू हुआ और क्राइसिस मैनेजमेंट जिसने दो दिन पहले तैयार रणनीति के तहत के विधायकों को बाहर ले जाने की मुहिम शुरू कर दी और सभी विधायको को एक स्थान पर लाया गया और आज शनिवार की सुबह मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के साथ 41 विधायक खूंटी रवाना हुए बताया जाता है इन्हें किसी रिसोर्ट में ठहराया जाना था बताया जाता है यह मिशन पूरी तरह से सीक्रेट रखा गया है यहां तक की बस चालक और अन्य कर्मचारियों के फ़ोन भी उनसे ले लिए गए है। लेकिन सभी विधायक 4 घंटे बाद रांची लौट आए बताया जाता है खूंटी में सभी विधायको के साथ एक डेम पर पिकनिक जैसा माहौल देखा गया साथ ही एक बैठक भी हुई रांची लौटने से यही संदेश दिया गया कि सभी विधायक एकजुट हैं।

जबकि सूत्रों के मुताबिक जानकारी मिली है कि चुनाव आयोग ने मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन की सदस्यता मामले में अपनी रिपोर्ट राज्यपाल को भेज दी है लेकिन फिलहाल इसका अभी खुलासा नहीं हुआ है। अब राज्यपाल के मन में क्या बात है यह कहा नहीं जा सकता। जबकि कहा यह भी जा रहा है यदि सोरेन की विधायक की सदस्यता चली भी जाती है तो वह मुख्यमंत्री बने रहेंगे।

read more
झारखंडदेशबिहार

सीबीआई की बिहार और ईडी की झारखंड सहित देश में 24 जगह छापेमारी, बिहार में विश्वासमत हासिल करने के दौरान कार्यवाही नीतीश और तेजस्वी का बीजेपी पर हमला

Tejaswi and Nitish Kumar

पटना, रांची/ आज सीबीआई और ईडी ने बिहार झारखंड सहित 6 राज्यों के 24 ठिकानों पर छापेमारी की झारखंड में ईडी ने प्रेमप्रकाश के यहां रेड में 2 AK 47 भी जब्त हुई जो मुख्यमंत्री हेमंत सुरेन के करीबी बताए जाते है। बिहार में आरजेडी के दो सांसद सहित 4 नेताओं के यहां सीबीआई ने रेड की और वह गुरुग्राम के अर्बन क्यूब मॉल में भी पहुंची। जबकि सूत्र बताते है इस तलाशी में सीबीआई और ईडी ने करीब 200 संदिग्ध दस्तावेज बरामद किए है खास बात है जब सीबीआई ने यह कार्यवाही की उस दौरान बिहार में महागठबंधन की सरकार विश्वास मत हासिल कर रही थी।इस मौके पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने विपक्ष को एकजुट कर 2024 में बीजेपी को चुनौती देने का ऐलान किया। जबकि आरजेडी नेता और बिहार के डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव ने आरोप लगाया कि बीजेपी के ईडी आईटी और सीबीआई तीन जमाई हैं।

बिहार में आरजेडी के दो सांसद सहित 4 नेताओं और मॉल पर CBI की छापेमारी –

आज सुबह केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (CBI) और प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने देश के बिहार झारखंड दिल्ली एनसीआर हरियाणा और तामिलनाडू में 24 जगहों पर एक साथ छापेमारी की। सीबीआई ने बिहार में आरजेडी के राज्यसभा सांसद अशफाक करीम और फैयाज अहमद के साथ ही विधान परिषद के पार्षद सुनील कुमार पूर्व एमएलसी सुबोध राय रेता कारोबारी सुभाष यादव और एक फायनेंसर के यहां रेड की और तलाशी अभियान चलाया बताया जाता है सीबीआई को कुछ दस्तावेज भी मिले हैं। इसके अलावा सीबी आई की एक टीम ग्रूरूग्राम स्थित अर्बन क्यूब्स 71 मॉल भी पहुंची और वहां भी पूछताछ और तलाशी अभियान चलाया।

एक तरफ रेड दूसरी तरफ विश्वासमत हासिल करती रही नीतीश सरकार –

खास बात है आज के दिन मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की महागठबंधन सरकार को सदन में विश्वास मत हासिल करना था इस कार्यवाही में 243 सदस्यों वाली विधानसभा में महागठबंधन सरकार को 164 मत प्राप्त हुए और उनके खिलाफ 77 मत बचे थे, इस तरह ध्वनि मत से नीतीश सरकार ने विश्वास मत हासिल कर लिया लेकिन इस कार्यवाही का भारतीय जनता पार्टी ने हिस्सा नहीं लिया और भाजपा विधायकों ने वाक आउट किया।

नीतीश का मोदी सरकार पर निशाना –

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने इस दौरान बीजेपी और मोदी सरकार पर खुलकर तीखा हमला बोला और कहा कि उनका अगला प्रयास देश की विपक्षी पार्टियों को एकजुट करना हैं और 2024 के लोकसभा चुनाव में बीजेपी को चुनौती देने का होगा उन्होंने गंभीर आरोप जड़ा कि दिल्ली ने आजतक कोई काम नहीं किया केवल अपना प्रचार प्रसार में मशगूल रही और बीजेपी इसमें एक्सपर्ट हैं।

बीजेपी के तीन जमाई –

लेकिन विश्वास मत हासिल करने के बाद आरजेडी नेता और उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने बीजेपी पर जोरदार निशाना साधा ,उन्होंने सदन में अपने उदबोधन के दौरान कहा जिस विपक्षी पार्टी से बीजेपी हारती है और बीजेपी जिससे डरती है उसके खिलाफ बीजेपी अपने तीन जमाई आगे कर देती है और उसका पहला जमाई है ईडी दूसरा जमाई है आईटी और बीजेपी का तीसरा जमाई है सीबीआई इस तरह बीजेपी का सीधा सीधा काम है पहले डराओ और नही डरे तो फिर खरीदो यही बीजेपी देश में कर रही है। तेजस्वी यादव ने आरोप लगाया कि जो अर्बन क्यूब्स मॉल मेरा नही है ना ही मेरा उससे कोई संबंध है फिर भी इससे मेरा नाम जोड़ा जा रहा है जबकि मुझे जानकारी मिली है कि इस मॉल का उदघाटन बीजेपी के सांसद ही ने किया था।

रेल्वे भर्ती में घोटाले को लेकर रेड –

जैसा कि आरजेडी नेता और तेजस्वी यादव पर आरोप है कि उन्होंने 2007-2008 के दौरान जब लालूप्रसाद यादव रेल मिनिस्टर थे उस समय उन्होंने रेलवे में नोकरी देने के बदले नोकरी पाने वालों की करोड़ों की कीमत की जमीन ली और उसपर अपने नेताओं की मदद से पटना में अर्बन क्यूब्स मॉल 71 का निर्माण किया उसी मामले में सीबीआई ने करीब 12 साल बाद 18 मई 2022 को एफआईआर दर्ज की थी।

Hemant Soren

झारखंड में खनन घोटाले को लेकर मुख्यमंत्री सोरेन के करीबी के यहां ईडी का छापा 2 AK 47 बरामद –

इधर झारखंड में ईडी ने खनन घोटाले को लेकर रांची और सासाराम में 16 जगह रेड की है इस दौरान उसने और जेएमएम से जुड़े बड़े कारोबारी प्रेम प्रकाश के 11 ठिकानों पर कार्यवाही की इस दौरान सीबीआई ने 2 AK 47 गन और 65 कारतूस भी उनकी तिजोरी से बरामद कर जब्त की है ईडी को कुछ संदिध दस्तावेज और संपत्ति के दस्तावेज भी यहां से मिले है जिनकी वह पड़ताल करेगी। सीबीआई इनके बारे में प्रेमप्रकाश से पूछताछ कर रही है। इसके अलावा ईडी ने उनके सीए एमके झा और यस एंड कंपनी की सीए अनीता कुमारी के घर पर भी रेड कर तलाशी ली बताया जाता है प्रेम प्रकाश झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के काफी नकदीकी है इसलिए सोरेन पर भी ईडी का शिकंजा कसा जा सकता हैं।

कहा से आई AK 47 गन –

यह काफी गंभीर बात है कि कारोबारी प्रेम प्रकाश की तिजोरी में AK 47 गन कहा से आई इस बारे में काफी गंभीर खुलासा हुआ है रांची के अरगोड़ा पुलिस थाने के प्रभारी विनोद कुमार ने दावा किया है कि यह दोनो गन और कारतूस पुलिस जवानों के है और आरोपी दोनो पुलिस कर्मियों को सस्पेंड कर दिया गया हैं।

read more
झारखंडरांची

इंडिया के चीफ जस्टिस की खरी खरी, झूठ का एजेंडा चलाकर मीडिया लोकतंत्र को पीछे धकेल रहा हैं

N V Ramanna

रांची / भारत के मुख्य न्यायाधीश (CJI) एन वी रमन्ना ने कहा कि न्यायिक मामलों और सामाजिक मुद्दों पर टीवी डीवेड और सोशल मीडिया पर चलाए जाने वाले एजेंडा वाले अधकचरे कंगारू कोर्ट लोकतंत्र के लिए नुकसान देह है उन्होंने कहा प्रिंट मीडिया फिर भी अपनी जवाबदेही समझता है परंतु इलेक्ट्रोनिक मीडिया पूरा झूठ का एजेंडा चला रहा हैं।

रांची में जस्टिस एसबी सिंहा मेमोरियल लेक्चर में अपने संबोधन में भारत के सीजेआई श्री रामन्ना ने कहा कि आज के बदले हुए युग में मीडिया के पास किसी भी विषय को बड़ाने की अपार क्षमता है लेकिन वह अच्छे बुरे सही गलत और कोन सी चीज सामने रखना है कोन सी नही इसमें अंतर की क्षमता खो चुका हैं मीडिया को अपनी जवाबदेही समझता होगी उन्होंने कहा इलेक्ट्रोनिक मीडिया प्रेरित डिबेड कराता है और मीडिया की तरफ से फैलाए जा रहे पूर्वाग्रह से लोग प्रभावित होते है जिससे जिससे कई बार अनुभवी जजों को भी फैसला लेने में मुश्किलात का सामना करना पड़ता हैं और यह लोकतंत्र को कमजोर कर रहा है और व्यवस्था को नुकसान पहुंचा रहा हैं और यही कारण है कि सोशल मीडिया पर जवाबदेही की मांग बड़ी हैं।

सीजेआई श्री रामन्ना ने कहा कि मीडिया अपनी जिम्मेदारी समझे और मीडिया सरकार या अदालतों को हस्तक्षेप का अवसर देने की बजाय खुद को संतुलित और विनियमित करें । प्रमुख न्यायाधीश ने विशेष रूप से जजों के खिलाफ मीडिया में चलाए जारहे अभियान का हवाला देते हुए कहा कि जज तुरंत प्रतिक्रिया नहीं दे सकते लेकिन इसे उनकी कमजोरी या लाचारी कतई ना समझी जाएं। बीजेपी की पूर्व नेत्री नुपुर शर्मा के खिलाफ फैसले और टिप्पणी को लेकर सोशल मीडिया पर दो जजों के खिलाफ अभियान चलाया गया था, सीजेआई ने कहा एक जज जिसने अपराधियों को सजा दी हो उसके रिटायर होने के बाद उसकी सुरक्षा वापस ले ली जाती है उसके बाद उस जज को उसी समाज में ही रहना पड़ता है जिसमें वे कई लोगों को दोषी ठहरा चुके होते हैं।

read more
झारखंडरांची

रांची में महिला एसआई और आणन्द में सिपाही को वाहन से कुचला, दोनों की दर्दनाक मौत

Women SI Killed

रांची, आणन्द / हरियाणा में डीएसपी को डम्फर से कुचलकर हत्या करने की घटना को पूरे 24 घंटे भी नही गुजरे थे कि रांची में एक महिला सब इंस्पेक्टर और आणन्द में एक एक पुलिस कांस्टेबल को माफिया ने वाहनों से कुचलकर मार डाला। जिससे साफ होता है कि माफिया के सामने पुलिस और कानून का खौफ जैसे खत्म सा हो गया हैं।

झारखंड के रांची के तुपुदाना में पदस्थ महिला थाना प्रभारी उप निरीक्षक संध्या टोपनो को मुखबिर से खबर मिली थी कि उनके इलाके से गौ तस्कर वाहन में मवेशियों को लेकर निकलने वाले है मंगलवार की सुबह 3 बजे वह अपने साथ दो पुलिस कर्मीयो के साथ तुपुदाना इलाके में वाहनों की चेकिंग करने लगी जब वह एक कार की साइड में खड़े होकर चेकिंग कर रही थी इसी बीच एक पिकअप वाहन तेजी से उसी तरफ से निकला और उसे कुचलता हुआ भागने लगा यह देख उसके साथ के पुलिसकर्मियों ने उसका पीछा किया तेज गति होने से वह आगे पलट गया पुलिस कर्मियों ने ड्राइवर सहित दो लोगो को पकड़ लिया, लेकिन महिला एसआई संध्या टोपनो की वाहन के नीचे आने से मौत हो गई।

संध्या टोपनो 2018 बैंच की सब इंस्पेक्टर थी जो शुरू से यही पदस्थ थी पिता की मौत के बाद उन्होंने इसकी परीक्षा पास की थी तीन भाई बहनों वह बीच की थी उनकी शादी नहीं हुई थी उनकी आकस्मिक मौत से उनके परिवार पर पहाड़ टूट पड़ा है उनकी मां स्नेहलता टोपनो का कहना है कि वह शुरू से ही लड़को कर तरह रहती थी और पुलिस अफसर बनना चाहती थी पिता के रहते वह पुलिस में नही जा सकी बाद में उसने चुपचाप फॉर्म भरा और सफल भी हो गई वह मेरी बेटी नहीं बेटा थी जबकि उसके छोटे भाई अजीत का कहना है हमें न्याय चाहिए।

इधर गुजरात के आणन्द में पुलिस चेकिंग के दौरान एक ट्रक चालक ने एक पुलिस कांस्टेबल को रौद दिया जिससे उसकी मौत हो गई डीएसपी अजीत राय के मुताबिक बोरसद शहर में रात की ड्यूटी के दौरान चेकिंग में किरण राज नाम का एक पुलिस कर्मी ने जब एक ट्रक को रोकने की कोशिश की तो ड्राइवर ने एकाएक ट्रक तेज गति से आगे बढ़ा दिया पुलिस कर्मी ने उसका पीछा किया और रुकने पर जब वह ट्रक की ओर बढ़ रहा था तभी एकाएक ट्रक चालक ने किरण राज पर ट्रक चढ़ा दिया और कुचल दिया राहगीरों ने उसे करमसद अस्पताल में भर्ती कराया लेकिन उसकी मौत हो गई इस बीच ड्राइवर ट्रक छोड़कर भाग गया। पुलिस ने ट्रक को जब्त पर आरोपी ड्राइवर की खोजबीन शुरू कर दी हैं।

read more
झारखंडधनबाद

जज की मौत- हत्या या हादसा, सीसीटीवी फुटेज से उठे सबाल सुप्रीम कोर्ट ने जाहिर की चिंता

Dhanbad Case

धनबाद – झारखंड के धनबाद में सुबह सैर पर निकले जज उत्तम आंनद की मौत में उस समय नया मोड़ आ गया जब इस हादसे के सीसीटीवी फुटेज सामने आये जिसमें साफ दिख रहा है कि ऑटो चालक ने जानबूझकर उनको टक्कर मारी थी। जिससे डिस्ट्रिक्ट जज उत्तम आनंद की मौत संदेह के घेरे में आ गई है और यह सबाल उठ रहे है कि उनकी हत्या हुई या फिर यह एक हादसा हैं। खास बात है कि इस घटना के बाद सुप्रीम कोर्ट के सीजेआई ने भी चिंता व्यक्त की है जबकि जज की संदिग्ध मौत को लेकर झारखंड हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस ने खुद ही संज्ञान लिया है।

झारखंड राज्य के धनबाद के डिस्ट्रिक्ट जज उत्तम आनंद मॉर्निंग वॉक के दौरान घायल अवस्था में सड़क के किनारे मिले थे और बाद में इलाज के दौरान अस्पताल में उनकी मौत हो गई घटना के बाद धनबाद पुलिस ने सड़क हादसे का मामला कायम किया था लेकिन जब जज के परिवारजन उन्हें ढ़ूढते हुए अस्पताल पहुंचे तब मालूम हुआ कि मरने वाले धनवाद के जिला जज उत्तम आनंद हैं। उसके बाद पुलिस और सक्रिय हुई और जब उस इलाके के सीसीटीवी फुटेज खंगाले गये तो देखा गया कि टक्कर मारने वाले ऑटो ने अचानक रास्ता बदल कर दाएं हाथ पर किनारे से जा रहे जज की ओर आया और तेजी से उन्हें टक्कर मारी सीसीटीवी फुटेज देखने पर लगा कि श्री आनंद को जानबूझकर टक्कर मारी गई है जिससे उनकी मौत पर सबाल उठना लाजमी था।

सीसीटीवी फुटेज सामने आने के बाद पुलिस ने तुरत फुरत कार्यवाही शुरू की और ऑटो चालक सहित उंसके एक साथी को गिरफ्त में ले लिया और ऑटो भी जब्त कर ली। और उनसे पुलिस पूछताछ कर रही हैं।

सीसीटीवी फुटेज सामने आने के बाद जज की मौत का यह मामला संदिग्ध हो गया हैं, चूंकि डिस्ट्रिक्ट जज उत्तम आनंद कई ऐसे मामले हाईकोर्ट में देख रहे थे जो कुछ हिस्ट्रीशीटरों से जुड़े थे तो कुछ कुख्यात अपराधी गैंगों से सम्बन्धित थे। जिससे उनकी मौत पर सबाल उठ रहे है कही इन्ही में से किसी ने तो उन्हें अपना शिकार नही बनाया।

जबकि सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस ने जज आनंद की इस संदिग्ध मौत पर झारखंड हाईकोर्ट के मुख्य न्यायाधीश से चर्चा और चिंता जताई हैं लेकिन झारखंड हाई कोर्ट ने खुद ही इस मामले में संज्ञान लिया हैं और सीजेआई को इस बारे में बता भी दिया हैं।

read more
error: Content is protected !!