close

छत्तीसगढ़

छत्तीसगढ़

जैन मुनि विद्यासागर जी महाराज ने ली समाधि, डोंगरगढ़ में अंतिम संस्कार, मप्र छत्तीसगढ़ में राजकीय शोक

Muni Vidhyasagar Ji Maharaj

डोंगरगढ़ / छत्तीसगढ़ राज्य के डोंगरपुर में आज दिगंबर मुनि परंपरा के आचार्य विद्यासागर जी महाराज की देह ने समाधि ले ली। इस मौके पर भारी संख्या में जैन समाज के हजारों श्रद्धालु उन्हें अंतिम विदाई देने मोजूद रहे, आचार्य श्री के सम्मान में मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ में आज आधे दिन का राजकीय शोक रखा गया।

जैन मुनि आचार्य श्री विद्यासागर महाराज ने 17 फरवरी 2024 शनिवार की रात 2 .35 बजे शरीर त्यागकर मोक्ष मार्ग अपना लिया था। उससे पहले वह छत्तीसगढ़ के डोंगरपुर स्थित चंद्रगिरी तीर्थ स्थल में रहे और उन्होंने आचार्य पद त्याग करने के साथ 3 दिन का उपवास और मौन धारण कर लिया था। उनके शरीर त्यागने की खबर के बाद मध्यप्रदेश छत्तीसगढ़ सहित पूरे देश से जैन समाज के हजारों श्रद्धालु उनके अंतिम दर्शन के लिए पहुंच डोंगरपुर पहुंच गए। मुनिजी को एक विमान में आज अंतिम संस्कार के लिए ले जाया गया इस मौके पर अपार भीड़ ने उन्हें अंतिम विदाई दी।

आचार्य श्री ..जन्म से समाधि तक …

संत शिरोमणि आचार्य श्री विद्यासागर जी महाराज आज चंद्रागिरी तीर्थ डोंगरगढ़ में समाधिष्थ हो गए है मुनिश्री का जन्म 10 अक्टूबर 1946 को विद्याधर के रूप में कर्नाटक के बेलगाँव जिले के सदलगा में शरद पूर्णिमा के दिन हुआ था। उनके पिता श्री मल्लप्पा थे जो बाद में मुनि मल्लिसागर बने। उनकी माता श्रीमंती थी जो बाद में आर्यिका समयमति बनी।

विद्यासागर जी को 30 जून 1968 में अजमेर में 22 वर्ष की आयु में आचार्य ज्ञानसागर ने दीक्षा दी जो आचार्य शांतिसागर के शिष्य थे। आचार्य विद्यासागर जी को 22 नवम्बर 1972 में ज्ञानसागर जी द्वारा आचार्य पद दिया गया था, केवल विद्यासागर जी के बड़े भाई ग्रहस्थ है। उनके अलावा सभी घर के लोग संन्यास ले चुके है।उनके भाई अनंतनाथ और शांतिनाथ ने आचार्य विद्यासागर जी से दीक्षा ग्रहण की और मुनि योगसागर जी और मुनि समयसागर जी कहलाये।

आचार्य श्री का बौद्धिक ज्ञान …

आचार्य विद्यासागर जी संस्कृत, प्राकृत सहित विभिन्न आधुनिक भाषाओं हिन्दी, मराठी और कन्नड़ में विशेषज्ञ स्तर का ज्ञान रखते हैं। उन्होंने हिन्दी और संस्कृत के विशाल मात्रा में रचनाएँ की हैं। सौ से अधिक शोधार्थियों ने उनके कार्य का मास्टर्स और डॉक्ट्रेट के लिए अध्ययन किया है।उनके कार्य में निरंजना शतक, भावना शतक, परीषह जाया शतक, सुनीति शतक और शरमाना शतक शामिल हैं। उन्होंने काव्य मूक माटी की भी रचना की है। विभिन्न संस्थानों में यह स्नातकोत्तर के हिन्दी पाठ्यक्रम में पढ़ाया जाता है। आचार्य विद्यासागर जी कई धार्मिक कार्यों में प्रेरणास्रोत रहे हैं। आचार्य विद्यासागर जी के शिष्य मुनि क्षमासागर जी ने उन पर आत्मान्वेषी नामक जीवनी लिखी है। इस पुस्तक का अंग्रेज़ी अनुवाद भारतीय ज्ञानपीठ द्वारा प्रकाशित हो चुका है। मुनि प्रणम्यसागर जी ने उनके जीवन पर अनासक्त महायोगी नामक काव्य की रचना की है।

आचार्यश्री का जीवन …

कोई बैंक खाता नही कोई ट्रस्ट नही, कोई जेब नही , कोई मोह माया नही, अरबो रुपये जिनके ऊपर न्योछावर होते है उन गुरुदेव के कभी धन को स्पर्श नही किया।

आचार्य श्री की सादगी और त्याग …

आजीवन चीनी और नमक का त्याग ,आजीवन चटाई का त्याग, आजीवन हरी सब्जी फल का अंग्रेजी औषधि का त्याग, आजीवन दही, सूखे मेवा, तेल का त्याग, थूकने के साथ सभी प्रकार के भौतिक साधनो का त्याग, आप एक करवट में बिना चादर, गद्दे, तकिए के सिर्फ तखत पर शयन करते थे खास बात सभी मौसम में।

आचार्य श्री सबसे ज्यादा दीक्षा देने वाले संत…

आचार्य श्री पूरे भारत में सबसे ज्यादा दीक्षा देने वाले एक ऐसे संत जो सभी धर्मो में पूजनीय, भारत में एक ऐसे आचार्य जिनका लगभग पूरा परिवार ही संयम के साथ मोक्षमार्ग पर चल रहा है शहर से दूर खुले मैदानों में नदी के किनारो पर या पहाड़ो पर अपनी साधना करना अनियत विहारी यानि बिना बताये विहार करना प्रचार प्रसार से दूर- मुनि दीक्षाएं, पीछी परिवर्तन इसका उदाहरण,आचार्य देशभूषण जी महाराज जब ब्रह्मचारी व्रत से लिए स्वीकृति नहीं मिली तो गुरुवर ने व्रत के लिए 3 दिवस निर्जला उपवास किया और स्वीकृति लेकर माने, ब्रह्मचारी अवस्था में भी परिवार जनो से चर्चा करने अपने गुरु से स्वीकृति लेते थे और परिजनों को पहले अपने गुरु के पास स्वीकृति लेने भेजते थे, करुण ह्रदय शरीर तेजपूर्ण, प्रधानमंत्री, राष्ट्रपति सभी के पद से अप्रभावित साधना में रत गुरुदेव जिन्होंने हजारो गाय की रक्षा, गौशाला समाज ने बनाई। हजारो बालिकाओ को संस्कारित आधुनिक स्कूल आचार्य श्री के संरक्षण में बने।

read more
छत्तीसगढ़रायपुर

छत्तीसगढ़ के नए मुख्यमंत्री बने विष्णुदेव साय, विधायक दल का नेता चुने जाने के बाद सरकार बनाने का किया दावा

Vishnudev Sai

रायपुर / बीजेपी के आदिवासी नेता विष्णुदेव साय छत्तीसगढ़ के अगले मुख्यमंत्री होंगे आज विधायक दल की बैठक में उन्हें नेता चुना गया। उसके बाद विष्णुदेव साय राजभवन पहुंचे और सरकार बनाने का दावा पेश किया राज्यपाल ने उन्हें केबीनेट गठन के लिए आमंत्रित किया है।

बीजेपी के अंदरूनी सूत्रों के मुताबिक पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह को विधानसभा अध्यक्ष बनाया जायेगा जबकि बीजेपी नेतृत्व छत्तीसगढ़ में दो डिप्टी सीएम बनाएगा जिसके लिए अरुण साव और विजय शर्मा का नाम सामने आया है यह दोनों ही नेता पहली बार विधायक चुने गए है। जबकि अरुण साव सांसद भी रह चुके है। विधायक दल की बैठक में केंद्रीय पर्वेक्षक अर्जुन मुंडा सर्वानंद दोनेवाल और दुष्यंत कुमार गोतम मोजूद रहे।

इस मौके पर विष्णुदेव साय ने कहा उनकी पहली प्राथमिकता आवास योजना के तहत 18 लाख आवास बनाना और 25 दिसंबर तक किसानों का बकाया 2 साल का बोनस देना होगा।

जैसा कि छत्तीसगढ़ के नए मुख्यमंत्री विष्णुदेव साय कुनकुनी से विधायक चुने गए है और बड़े आदिवासी नेता हैं जो दो बार छत्तीसगढ़ के बीजेपी अध्यक्ष रहे है साथ ही अटल बिहारी बाजपेई के कार्यकाल में केंद्रीय मंत्री भी रह चुके है। चुनाव के दौरान केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने एक सभा में कहा था आप इन्हें जिताए मैं इनको बड़ा आदमी बनाऊंगा।

विधायक दल का नेता चुने जाने के बाद छत्तीसगढ़ के प्रभारी ओम माथुर ने कहा एक अनुभवी कार्यकर्ता जो अटल जी के कार्यकाल में मंत्री रहे उन्हें मुख्यमंत्री बनाया इससे अच्छा और क्या हो सकता है। जबकि पूर्व मुख्यमत्री भूपेश बघेल ने कहा विष्णुदेव साय जी को विधायक दल का नेता चुने जाने पर बधाई, नवा छत्तीसगढ़ की न्याय और प्रगति यात्रा को मुख्यमंत्री के रूप में आगे बढ़ाये ऐसी मेरी कामना हैं।

विष्णुदेव साय की माताजी जसमनी देवी ने कहा कि मेरे बेटे को छत्तीसगढ़ की सेवा करने का मौका मिला है इससे बड़ी बात और क्या हो सकती है मुझे विश्वास ही नहीं हो रहा कि बेटा मुख्यमंत्री बन गया है

read more
छत्तीसगढ़देशरायपुर

छत्तीसगढ़ में 5 बजे तक 68.15 फीसदी मतदान, गरियाबंद में नक्सली हमला, आईईडी विस्फोट में एक ITBP जवान शहीद

Election On

रायपुर/ छत्तीसगढ़ में दूसरे चरण में आज बाकी 70 विधानसभा सीटों पर मतदान हुआ, और 5 बजे तक मतदान के को आंकड़े आते है उसके मुताबिक यहां 68.15 फीसदी मतदान हुआ है। जिसके बड़ने के आसार है। जैसा कि 3 दिसंबर को मतगणना होगी और नतीजे घोषित होंगे। लेकिन गरियाबंद के मेनपुर केंद्र के बाहर नक्सली विस्फोट में आइटीबीपी के एक जवान के शहीद होने की खबर है।

छत्तीसगढ़ में कुल 90 विधानसभा सीटें है पहले चरण में 7 नवंबर को यहां की 20 सीटों पर मतदान हुआ था दूसरे चरण में 70 सीटों पर आज 17 नवंबर को मतदान हुआ जो सुबह 7 बजे से शुरु होकर शाम 5 बजे तक चला। जो जानकारी सामने आई है उसके मुताबिक छत्तीसगढ़ में 68.15 प्रतिशत मतदान हुआ फायनल टोटल में उसके बढ़ने के आसार हैं।

छत्तीसगढ़ में 5 बजे तक जो आंकड़े सामने आए है उसके मुताबिक कोरिया विधानसभा सीट पर 71.62 फीसदी, महासमुद्र में 70.07 फीसदी मनेद्रगड़ में 68.79 फीसदी, मुंगेली में 57.78 फीसदी, बालोदा में 77.67 फीसदी बालोदाबाजार में 77.67 फीसदी बिलासपुर में 61.43 फीसदी धमतरी में 79.89 फीसदी, दुर्ग में 75.07 फीसदी, गरियाबंद में 71.13 फीसदी, पेंड्रा में 71.20 फीसदी, जांजगीर में 65.67 फीसदी, जशपुर 71.41 फीसदी, कोरवा में 71.62 फीसदी, रायगढ़ 71.84 फीसदी, रायपुर में 58.83 फीसदी, सक्ति 73.82 फीसदी, सारंगगढ़ में 65.66 फीसदी, बलरामपुर में 77.67 फीसदी और बेमेतरा में 77.67 फीसदी मतदान हुआ।

छत्तीसगढ़ के कुछ विधानसभा क्षेत्रों में टकराव और विवाद की स्थिति भी उत्पन्न हुई लेकिन नक्सली प्रभावित गरियाबंद विधानसभा के बोदरी क्षेत्र की दहड़ा पोलिंग बूथ के बाहर मतदान दल पर नक्सली हमला हुआ है जिसमें नक्सलियों ने आईईडी विस्फोट किया है जिसमें सुरक्षा बल के एक जवान के शहीद होने की जानकारी सामने आई हैं। जबकि बिलासपुर में मतदान दल को बंधक बनाने की घटना सामने आई है जबकि करवधा विधानसभा में भी दो पक्षों में विवाद की खबरें सामने आई हैं।

read more
छत्तीसगढ़

छत्तीसगढ़ में कांग्रेस सरकार के जाने का काउंट डाउन शुरू, देश में गरीबी के लिए कांग्रेस जिम्मेदार, 5 साल फ्री राशन देने का ऐलान किया प्रधानमंत्री मोदी ने

Narendra modi

महासमुद्र / प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा है कि छत्तीसगढ़ की कांग्रेस सरकार की विदाई का समय आ गया है और कांग्रेस भी यह समझ गई है कि अब उसका चला चली का मेला है पीएम ने देश में गरीबी के लिए कांग्रेस को दोषी बताते हुए अगले 5 साल तक गरीबों को मुफ्त अनाज देने का ऐलान भी किया।

छत्तीसगढ़ के मुंगेल में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भूपेश बघेल सरकार को कटघरे में खड़ा करते हुए कहा कि कांग्रेस सरकार और उसके नेताओं ने छत्तीसगढ़ के लोगों को 5 साल लूटा है जिससे कांग्रेस सरकार के जाने का काउंट डाउन शुरू हो गया है और उसकी विदाई का समय आ गया हैं उन्होंने कहा कांग्रेस भी समझ गई है कि अब चला चली का मेला है।

पीएम ने कहा कि छत्तीसगढ़ की कांग्रेस सरकार भ्रष्टाचार में डूब चुकी है और उसने गोबर में भी घोटाला कर दिया कुछ राजनेतिक दल के नेता मेरा नाम लेकर ओबीसी वर्ग को बदनाम कर रहे हैं तो प्रदेश के आदिवासियों की इस बदहाली के लिए कांग्रेस सरकार दोषी है उन्होंने कहा तुष्टीकरण के लालच में कांग्रेस कुछ भी कर सकती है कांग्रेस ने गरीब एससी एसटी और ओबीसी वर्ग को कभी भी सम्मान नहीं दिया उल्टा आजकल कुछ दलों के नेता मेरा नाम लेकर ओबीसी वर्ग को बदनाम करने में लगे हुए है।

प्रधानमंत्री मोदी ने देश की गरीबी के लिए कांग्रेस को दोषी बताते हुए कहा कि कांग्रेस ने 5 दशक से ज्यादा सरकार चलाई और गरीबी हटाओ का नारा दिया लेकिन उसका क्या हुआ इससे पूछना चाहिए आज जो गरीब और गरीबी है उसे लिए कांग्रेस पूरी तरह से जिम्मेंदार है हमने यह देखते हुए देश के 80 करोड़ लोगों को अगले 5 साल तक राशन देने का फैसला लिया हैं।

प्रधानमंत्री ने कहा छत्तीसगढ़ से भाजपा का दिली नाता रहा है बीजेपी ने छत्तीसगढ़ को बनाने में अहम भूमिका अदा की यहां उद्धोगो की अपार संभावना है यहां जो माहौल है और आपका साथ मिल रहा है तो इस चुनाव में आप लोगों के सहयोग से बीजेपी की सरकार निश्चित रूप से बनेगी।

read more
छत्तीसगढ़बिलासपुर

राहुल गांधी ने ट्रेन से किया सफर महिला खिलाड़ी और पैसेंजर से मिलकर की बातचीत, बिलासपुर में किया गरीब आवास न्याय योजना का शुभारंभ

Rahul Gandhi at Train

बिलासपुर / कांग्रेस नेता राहुल गांधी आज छत्तीसगढ़ आए बिलासपुर में उन्होंने आवास योजना सम्मेलन का शुभारंभ किया साथ ही मोदी सरकार पर खुलकर हमला बोला। साथ ही उन्होंने बिलासपुर से रायपुर तक 117 किलोमीटर की ट्रेन यात्रा भी की इस दौरान उन्होंने महिला हॉकी खिलाड़ियों के बीच बैठकर बातचीत की और अन्य पैसेंजर्स से भी मिले और उनकी समस्याएं भी जानी।

कांग्रेस नेता राहुल गांधी सोमवार को रायपुर पंहुचे और उन्होंने गरीब आवास न्याय योजना के साथ 669 करोड़ 69 लाख राशि की विभिन्न योजनाओं का लोकार्पण किया। इस मौके पर उन्होंने मोदी सरकार को कटघरे में खड़ा करते हुए कहा कि पीएम मोदी जी अडानी अंबानी के जहाज में उनके साथ विदेश जाते है मैने इस रिश्ते पर सवाल किया तो मेरी लोकसभा की सदस्यता ही रद्द कर दी ऐसा क्यों किस रिश्ते से उनको फायदे पहुंचाए जा रहे है उन्होंने कहा आज केंद्र की सरकार को सांसद विधायक नही चलाते बल्कि केंद्रीय सेकेट्री और सेकेट्री चलाते है 90 सेकेट्री ही योजना डिसाइड करते है और वे ही पैसा कैसे जाएंगे इसे डिसाइड करते है। हमारा रिमोट जनता दबाती है इनका रिमोट चुपचाप दबाया जाता है।

राहुल गांधी ने कहा हम कांग्रेस है जो सच्चाई रखती है लेकिन यह जहां जाते है ओबीसी की बात तो करते है लेकिन उन्हें लाभ नहीं देना चाहते कांग्रेस ने जनगणना कराई थी और हिंदुस्तान हर जाति के कितने लोग है यह भी गणना कराई थी हमने मांग की लेकिन मोदी सरकार उसका डेटा दिखाना नही चाहती नामालूम डरते क्यों है। उन्होंने कहा हम एससी ओबीसी आदिवासी सभी जाति वर्गो को न्याय दिलाना चाहते है और हमारी सरकार आयेगी तो हम जातिगत जनगणना कराएंगे।

राहुल गांधी ने बिलासपुर में ग्रामीण आवास न्याय योजना के साथ 669 करोड़ 69 लाख की राशि के विकास कार्यों का लोकार्पण किया। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि इस आवास योजना के तहत प्रदेश के 47 हजार से ज्यादा लोगों को पक्के आवास प्राप्त होगे जिनके लिए पहली किश्त के रूप में 118 करोड़ की राशि की स्वीकृति मिली है साथ PMAY के जिन हितग्राहियों को आवास नही मिले ऐसे 7 लाख लोगो के लिए 1749 करोड़ राशि की स्वीकृति छत्तीसगढ़ की कांग्रेस सरकार ने दे दी है। उन्होंने कहा हर गरीब के पास खुद का पक्का मकान हो यह कांग्रेस की सोच है।

कांग्रेस नेता राहुल गांधी इन दिनों काफी चर्चा में है कारण है अचानक कही भी पहुंच जाते है और आम लोगों के बीच बैठकर उनसे बात ही नही करते बल्कि उनके साथ उनका काम भी करते नजर आते है। पिछले दिनों राहुल गांधी खेत में पहुंच जाते है और किसानों के साथ खेत में धान रोपते है रेहड़ी वाले को घर बुलाकर उसके साथ खाना खाते है हाल में दिल्ली के रेल्वे स्टेशन पहुंचकर कुली बन जाते है और सामान सिर पर रखकर उसे ढोते देखे जाते है आज भी ऐसा ही एक नजारा देखने को मिला जब उन्होंने आम यात्री की तरह एक ट्रेन में यात्रा की।

छत्तीसगढ़ के इस कार्यक्रम के बाद राहुल गांधी इंटरसिटी एक्सप्रेस से 117 किलोमीटर का सफर कर बिलासपुर से रायपुर पहुंचे इस दौरान स्लीपर कोच में उन्होंने महिला हॉकी खिलाड़ियों के बीच बैठकर उनसे चर्चा की और खेल और उसके दौरान आने वाली समस्याओं पर भी बातचीत की। राहुल गांधी को देखकर खिलाड़ी पहले अचरज में पड़ गए लेकिन बाद में उनके साथ सेल्फी ली और उनके ओटोग्राफ भी लिए राहुल गांधी ने ट्रेन में बैठे अन्य पेसेंजरो से भी बात की और उनकी परेशानियों को भी जाना। उनके साथ छत्तीसगढ़ की प्रभारी कु शैलजा मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष दीपक बैज प्रमुख रूप से मोजूद थे। जब राहुल गांधी रायपुर पहुंचे तो स्टेशन पर भारी भीड़ ने उनका स्वागत किया।

read more
छत्तीसगढ़

आर्मी के अफसरों की शहादत के दौरान पीएम मोदी अपना स्वागत करा रहे थे इन्हें देश से लेना देना नही, केजरीवाल बोले छत्तीसगढ़ में

Arvind Kejriwal

जगदलपुर / आम आदमी पार्टी के संयोजक एवं दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने आज छत्तीसगढ़ में हुंकार भरते हुए पीएम नरेंद्र मोदी और बीजेपी पर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि एक तरफ कश्मीर में चार आर्मी और पुलिस अफसरो की शहादत हो गई इसी समय पीएम मोदी अपना स्वागत करा रहे थे।

आप नेता अरविंद केजरीवाल और पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने आज छत्तीसगढ़ के जगदलपुर से चुनावी शंखनाद किया। मुख्यमंत्री केजरीवाल ने कहा कि छोटी छोटी बातों पर फोरन ट्वीट करने वाले प्रधानमंत्री इतनी बड़ी शहादत पर आज तक कुछ नही बोले क्या उन्हें दुख नहीं होता साफ है इन्हें देश और सेना से कोई लेना देना नही है वोट कैसे मिले इस पर ही ध्यान देते है।

उन्होंने कहा हमने 28 विपक्षी पार्टियों का गठबंधन बनाया इसका नाम रखा इंडिया इसके नाम से इन लोगों को इतनी चिढ़ होती है कि ये भारत का नाम बदलने में लगे है क्या तुम्हारे पिताजी का इंडिया है नही यह भारत 140 करोड़ लोगों का है भारत हमारे दिल में है हिंदुस्तान हमारे दिल में है हम अपनी भारत माता से प्यार करते है हम अपने हिंदुस्तान से प्यार करते है।

उन्होंने कहा मैं बीजेपी वालों को चैलेंज देता हूं आप इंडिया का नाम बदल कर दिखाए। उन्होंने कहा मैं बीजेपी वालों को चैलेंज देता हूं आप इंडिया का नाम बदल कर दिखाए। उन्होंने कहा पहले ये कहते थे डिजीटल इंडिया स्टार्ट अप इंडिया मेकिंग इंडिया स्किल इंडिया खेलों इंडिया इतने प्रोग्राम चलाते रहे है।

read more
छत्तीसगढ़रायपुर

टीएस सिंहदेव छत्तीसगढ़ के डिप्टी सीएम बने, बघेल ने दी बधाई, क्या कांग्रेस ने डेमेज कंट्रोल किया?

TS Singhdev

नई दिल्ली, रायपुर/ कांग्रेस आलाकमान ने टीएस सिंहदेव (बाबा साहेब) को छत्तीसगढ़ का उप मुख्यमंत्री बनाया है जैसा कि लंबे समय से मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और सिंहदेव के बीच कुछ असामान्य स्थिति देखी जा रही थी क्या चुनाव से पहले कांग्रेस ने सिंहदेव को डिप्टी सीएम बनाकर ड्रेमेज कंट्रोल का काम किया है। इधर सिंहदेव के डिप्टी सीएम बनने से छत्तीसगढ़ कांग्रेस में उत्साह देखा जा रहा है और जश्न का माहौल है

2018 के चुनाव में कांग्रेस ने छत्तीसगढ़ में ढाई ढाई साल के मुख्यमंत्री की बात कही थी और भूपेश बघेल को पहले मुख्यमंत्री बनाया था और सिंहदेव को केबिनेट मंत्री बना दिया था लेकिन ढाई साल पूरा होने के बाद सिंहदेव के समर्थकों ने यह मुद्दा उठाया लेकिन बघेल की उपलब्धियों को देखते हुए कांग्रेस ने उन्हें नही हटाया जिससे अंदरूनी तौर पर दोनो के बीच मनमुटाव की खबरें आने लगी थी बीच में यह भी कहा जाने लगा कि सिंहदेव का कांग्रेस से मोहभंग हो गया है और वह बीजेपी में जा रहे है।

लेकिन छत्तीसगढ़ में होने वाले विधानसभा चुनाव से ठीक 5 महिने पहले कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने राहुल गांधी और छत्तीसगढ़ की प्रभारी कुमारी शैलजा के साथ विचार विमर्श कर टीएस सिंहदेव को डिप्टी सीएम बनाने का आदेश जारी कर दिया। इस तरह कांग्रेस ने काफी हद तक छत्तीसगढ़ में दो बड़े नेताओं के बीच टकराव और बड़ती खाई को पाटने का काम तो किया ही बल्कि यह भी कहा जा सकता है कि सिंहदेव को डिप्टी सीएम बनाकर कांग्रेस ने डेमेज कंट्रोल भी कर लिया और आगामी चुनाव में इसका फायदा उसे मिलेगा। जबकि डिप्टी सीएम बनने पर सिंहदेव को मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और कांग्रेस प्रभारी कुमारी शैलजा ने बधाई दी है।

लेकिन बीजेपी इसको लेकर कांग्रेस पर हमलावर है पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह ने कहा कि जब चुनाव नजदीक आ गए तो टीएस सिंहदेव को कांग्रेस ने झुनझुना पकड़ा दिया जिसका कोई संवेधानिक ओचित्य ही नही है।

read more
छत्तीसगढ़रायपुर

छत्तीसगढ़ में बीजेपी को करारा झटका, कद्दावर आदिवासी नेता नंदकुमार साय कांग्रेस में शामिल, कहा बीजेपी पहले जैसी पार्टी नही रही

Nandkumar Sai

रायपुर/ बीजेपी के कद्दावर आदिवासी नेता प्रेमकुमार कुमार साय आज कांग्रेस में शामिल हो गए छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने उन्हें पार्टी की सदस्यता दिलाई, इस मौके पर उन्होंने कहा बीजेपी अब पहले जैसी पार्टी नही रही मेरे अंदर अभी बहुत ताप है कांग्रेस में वह छत्तीसगढ़ और आदिवासी समाज की सेवा और अधिक ताकत से करेंगे।

पिछले कई दिनों से बीजेपी के प्रदेश संगठन और हाईकमान से नाराज बीजेपी के कद्दावर आदिवासी नेता नंदकुमार साय आज कांग्रेस में शामिल हो गए प्रदेश मुख्यालय पर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने उन्हें कांग्रेस की सदस्यता दिलाई इस मौके पर कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम सहित अन्य कांग्रेस नेता मोजूद थे। इस अवसर पर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल उनका स्वागत करते हुए कहा कि नंदकुमार साय जनसेवा का एक बड़ा नाम है आपने सदेव सादगी पूर्ण जीवन जिया और छत्तीसगढ़ के लोगों के साथ साथ आदिवासी समाज की उन्नति और खुशहाली के लिए सदेव प्रयासरत रहे आपके कांग्रेस में आने से पार्टी और आदिवासी समाज को काफी मदद मिलेगी।

जबकि कांग्रेस में शामिल नंदकुमार साय ने इस अवसर पर कहा कि दल महत्वपूर्ण नहीं बल्कि लोगों का काम महत्वपूर्ण है पिछले दिनों से मुझे एहसास हो रहा था कि बीजेपी में अब पहले जैसी बात नही रही अटल आडवाणी वाली पहचान वह खो चुकी ही उसमें रहकर अब वह अपने समाज और लोगों की सेवा नही कर पा रहे थे, उल्टा मुझपर आरोप लगाए जा रहे थे। मेरी गरिमा को लगातार चोट पहुंचाई जा रही थी इसलिए अपने समर्थकों के साथ उन्होंने यह निर्णय लिया उन्होंने कहा मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के नेतृत्व में कांग्रेस प्रदेश में अच्छा काम कर रही है, नरवा गरवा घुरया बाड़ी जैसी जनता के हित की कारागार योजनाएं है जबकि राम पथगमन बनाना उनकी एक अच्छी पहल है मैं चाहता हूं छत्तीसगढ़ की देश में एक अलग पहचान बने एक कविता के माध्यम से उन्होंने कहा मेरे मैं अभी बहुत ताप है ऊर्जा है हम सब मिलकर नए जोश और उत्साह से प्रदेश को और अधिक विकासशील और खुशहाल बनाएंगे।

आदिवासी नेता नंदकुमार साय अभिभाजित मध्यप्रदेश के समय से छत्तीसगढ़ की राजनीति में बीजेपी का एक प्रमुख चेहरा रहे है आप तीन बार विधायक और तीन बार लोकसभा के सांसद रहे साथ ही दो बार राज्यसभा के सदस्य भी रहे है। साथ ही आप छत्तीसगढ़ के प्रदेश अध्यक्ष रहने के साथ अनुसूचित जाति जनजाति आयोग के अध्यक्ष भी रहे है आपका पूरा राजनैतिक जीवन सादगीपूर्ण, निर्विवादित और सदाचार वाला रहा रविवार को ही उन्होंने बीजेपी से इस्तीफा दिया था। उनका कांग्रेस में शामिल होना बीजेपी को छत्तीसगढ़ की राजनीति में एक बड़ी क्षति कहा जा सकता है।

इधर मध्यप्रदेश के कांग्रेस अध्यक्ष पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने एक ट्वीट कर आदिवासी नेता नंदकुमार साय के कांग्रेस में शामिल होने का स्वागत करते हुए कहा छत्तीसगढ़ में ट्रेलर है एमपी में पिक्चर बाकी है जिससे बीजेपी में हलचल मच गई है क्योंकि चर्चा है कि पूर्व मुख्यमंत्री कैलाश जोशी के पुत्र दीपक जोशी कांग्रेस में शामिल हो सकते है जबकि बीजेपी इससे इंकार कर रही है लेकिन चुनावी साल में दलबदल की पुरानी परंपरा रही है इससे इंकार भी नहीं किया जा सकता।

read more
छत्तीसगढ़दंतेवाड़ा

घिरने से बोखला गए है नक्सली बख्शें नही जायेंगे कहा सीएम बघेल ने, PLGA ने ली हमले की जिम्मेदारी

Bhupesh Bhagel

दंतेवाड़ा / छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा के अरनपुर मार्ग पर हुए नक्सली हमले की जिम्मेदारी PLGA ने ली है दरभा डिवीजन के सचिव ने एक प्रेस नोट जारी कर इसकी पुष्टि की है। जबकि आज मुख्यमंत्री भूपेश बघेल दंतेवाड़ा पहुंचे और उन्होंने शहीद जवानों को पुष्पांजलि अर्पित कर उन्हें कंधा देकर अंतिम विदाई दी इस मौके पर उन्होंने कहा कि डीजीआर के जवानों की शहादत बेकार नहीं जायेगी नक्सलियों को नेस्तनाबूद करने की कार्यवाही जारी रहेगी और उन्हें इसका कड़ा जवाब जरूर दिया जायेगा।

बुद्धवार को अरनपुर क्षेत्र के जब डीजीआर के यह 10 जवान एक सर्चिंग मिशन पूरा करके जब कैंप में लौट रहे थे तो वे जिस पिकअप वाहन में बैठकर यह आ रहे थे उसे नक्सलियों ने आईईडी ब्लास्ट से उड़ा दिया यह करीब 40 किलो आईईडी का यह विस्फोट काफी ताकतवर था जिसमें सड़क पर 7 फूट गहरा गड्ढा होने के साथ 10 मीटर वर्ग में सड़क उखड़ गई थी और गाड़ी के परखच्चे उड़ गए थे इस घातक विस्फोट में DRG (डिस्ट्रिक रिजर्व गार्डस) के सुरक्षा बल के 10 जवान और वाहन का ड्राइवर मारा गया था छत्तीसगढ़ के इतिहास में यह नक्सलियों व्दारा अभी तक की दूसरी सबसे बड़ी घटना बताई जाती हैं।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल कर्नाटक का चुनावी दौरा रद्द कर आज दंतेवाड़ा पहुंचे और उन्होंने पुलिस लाइन में सभी शहीदों को पुष्पचक्र अर्पित कर अपनी श्रद्धांजलि दी साथ ही शहीद जवानों को कंधा देकर अंतिम विदाई दी। इस अवसर पर मोजूद छत्तीसगढ़ के डीजीपी अशोक जुनेजा और एडीजी नक्सल ऑपरेशन विवेकानंद सिंहा ने भी शहीदों को श्रद्धासुमन अर्पित किए।

इस मौके मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि हमारे जवानों ने नक्सलियों से लड़ते हुए अपनी शहादत दी जो भुलाई नही जायेगी,चूकि हमारे सुरक्षा बलों की कार्यवाही से नक्सली हताश हो गए है और लगातार पीछे हटते जा रहे है और उनका सरगना हिडमा पूरी तरह से घिर गया है इसलिए नक्सली अब इस तरह की कायराना हरकत कर रहे है लेकिन हमारे जवानो के हौसले बुलंद है जो उन्हें इसका कड़ा जवाब देंगे। मुख्यमंत्री ने बताया कि केंद्र सरकार की सहायता से नक्सली प्रभावित इलाकों में और कैंप खोले जायेंगे और जल्द नक्सलियों के खात्मे के लिए बड़ी मुहिम चलाई जायेगी।

इधर एक प्रेस नोट के जरिए इस बारूदी हमले की जिम्मेदारी नक्सली ग्रुप PLGA ने ली है उनके दरभा डिवीजन के सचिव ने प्रेस नोट जारी किया है जिसमें कहा गया कि यह हमला सरकार की हमारे खिलाफ कार्यवाही का जबाव है। इससे साफ है पिछले दिनों से बस्तर संभाग में नक्सली विरोधी अभियान के तहत सुरक्षा बल काफी सक्रिय है हाल में मप्र में चौदह चौदह लाख की दो महिला नकस्लियों को भी मुठभेड़ में मार गिराया था जो छत्तीसगढ़ में भी सक्रिय थी जिससे लगता है नक्सली बौखला गए है और उन्होंने बदला लेने के लिए इस हमले को अंजाम दिया।

read more
दंतेवाड़ा

छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा में नक्सलियों ने किया आईईडी ब्लास्ट,डीआरजी के 11 जवान शहीद

Dantewada Naxal attack chattisgarh

दंतेवाड़ा/ छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा इलाके के अरनपुर मार्ग पर एक पिकअप वाहन को नक्सलियों ने आईईडी विस्फोट से उड़ा दिया माओवादियों के इस हमले में इस वाहन में सबार डिस्ट्रिक रिजर्व गार्डस (DRG) फोर्स के 10 जवान और एक ड्राइवर शहीद हो गया। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने इस हमले पर चेतावनी देते हुए कहा कि हमलावर नक्सलियों को छोड़ा नहीं जायेगा जबकि गृहमंत्री अमित शाह ने सीएम से बातचीत कर घटना की जानकारी ली है। बताया जाता है यह जवान गश्त के बाद अपने कैंप में लौट रहे थे।

जानकारी के मुताबिक दंतेवाड़ा के अरनपुर मार्ग पर यह विस्फोट हुआ है आज दोपहर ढाई बजे करीब डीआरजी के यह जवान पेट्रोलिंग करने के बाद एक पिकअप वाहन में बैठकर जब लौट रहे थे तभी अचानक आसपास मोजूद नक्सलियों ने जमीन में प्लांट आईईडी बम में विस्फोट किया विस्फोट इतना ताकतवर था कि गाड़ी उड़ गई और 50 मीटर दूर जाकर गिरी और और उसमें आग लग गई वही रोड पर करीब 5 फुट गहरा गड्ढा हो गया इस नक्सली हमले में DRG के 10 जवान और पिकअप गाड़ी चला रहे ड्राईवर की घटना स्थल पर ही दुखद मौत हो गई जबकि गाड़ी के परखच्चे उड़ गए और वह पूरी तरह खाक हो गई। बताया जाता है यह जवान पैदल सर्चिंग गश्त के बाद एक पिकअप वाहन में बैठकर जब कैंप में लौट रहे थे इस समय यह विस्फोट हुआ।

घटना को लेकर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने गहरा दुख व्यक्त करते हुए कहा कि नक्सलियों को किसी भी हालत में छोड़ा नहीं जायेंगे इनके खिलाफ कड़ी कार्यवाही होगी। जबकि गृहमंत्री अमित शाह ने सीएम बघेल से बातचीत कर इस हमले की जानकारी ली और कहा मैं नक्सलियों की इस कायराना हरकत से दुखी हूं और इस वक्त शहीद जवानों के परिवारजनों के साथ हूं और जो भी मदद की जरूरत होगी हम मुहैया कराएंगे। वही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने घटना पर गहरा दुख व्यक्त करते हुए इसकी निंदा करते हुए कहा कि जवानों की शहादत देश हमेशा याद रखेंगा।

आईजी बस्तर के मुताबिक यह नक्सली हमला घात लगाकर किया गया है जिसमें 10 जवान और एक ड्राइवर की मौत हुई है। घटना स्थल पर आईजी और एसपी सहित अन्य वरिष्ठ पुलिस अधिकारी पहुंचे और उन्होंने घटना स्थल का निरीक्षण किया। साथ ही घटना को लेकर पुलिस प्रशासन की एक उच्च स्तरीय बैठक भी हुई जिसमें छत्तीसगढ़ के डीजीपी एजीपी सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी मोजूद रहे।

शहीद हुए जवानों में हेड कांस्टेबल संतोष तामो जवान जयराम पेडियाम लखमू मरकाम मुन्नाराम कड़वी, राजूराम करतम जगदीश कवासी हरीराम मंडावी जोगा कवासी दुल्गी मंडावी जोगा सोढ़ी के अलावा वाहन का ड्राइवर धनीराम यादव शामिल है जबकि तीन जवान घायल भी हुए हैं।

read more
error: Content is protected !!