close

केरल

एर्नाकुलम

केरल के एर्नाकुलम में प्रार्थना सभा में आईईडी विस्फोट, एक महिला की मौत 52 घायल 18 की हालत नाजुक, हमलावर ने किया सरेंडर, की विस्फोट की पुष्टि

Convention center kerela

एर्नाकुलम / केरल राज्य के एर्नाकुलम में आज सुबह एक कांवेक्शन सेंटर में प्रार्थना सभा के दौरान एक के बाद एक तीन धमाके हुए इन विस्फोटों में एक महिला की मौत हो गई जबकि 52 लोग जख्मी हो गए है जिसमें 18 की हालत काफी गंभीर बताई जा रही है। घटना के बाद मौके पर एटीएस और पुलिस पहुंच गई थी उनके मुताबिक इन विस्फोट में आईईडी का इस्तेमाल किया गया है जबकि एक हमलावर ने पुलिस के सामने आत्मसनर्पण कर दिया है जिसने विस्फोट करने की बात मानी है।

एर्नाकुलम के कलामासेरी इलाके में स्थित इस कांवेक्शन सेंटर में आज सुबह साढ़े नो बजे यह घटना तब हुई जब इसके हॉल में एक प्रार्थना सभा का कार्यक्रम चल रहा था और पूरा हॉल महिला पुरुषो से भरा हुआ था घटना के समय दो हजार से ज्यादा लोग हॉल में इकट्ठा थे एकाएक एक के बाद एक करके तीन तेज धमाके हुए पहला विस्फोट बीच में हुआ जो सबसे तेज था विस्फोट के बाद पूरे हॉल में चीख पुकार मच गई हॉल में आग लग गई और वह धुएं के गुबार से भर गया, घटना बड़ी थी खबर मिलने पर तुरंत स्थानीय पुलिस और प्रशासन और एटीएस के अधिकारी घटना स्थल पर जा पहुंचे, और राहत बचाव कार्य शुरू कराया गया।

इस विस्फोट में एक महिला की घटना स्थल पर ही मौत हो गई करीब 52 लोग घायल हुए है जिसमें से 18 की हालत गंभीर है घायलों को गांधी मेडिकल कॉलेज और स्थानीय अन्य अस्पतालों में भर्ती कराया गया है सभी गंभीर 18 घायलों को आईसीयू में भर्ती कराया गया है।

केरल के एडीजीपी लॉ एंड ऑर्डर अजीत कुमार का कहना है कि एक महिला की मौत हुई है और घायलों को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती करा दिया गया है इन धमाकों में आईईडी विस्फोटक का इस्तेमाल किया गया है जो टिफन बम के रूप में हॉल में रखे गए थे।

इस घटना के बाद कोडकारा पुलिस थाने में एक व्यक्ति ने सरेंडर किया है जिसका नाम डोमेनिक मर्टिन है। पुलिस ने उससे पूछताछ की तो उसने विस्फोट करने की बात कबूल कर ली है। केरल के डीजीपी शेक दरवेश ने कहा है कि यह विस्फोट आईईडी टिफन बम से किए गए है जांच के लिए 8 टीमें बना दी गई है एक शख्स ने आत्मसमर्पण किया है और उसने इन विस्फोट की बात स्वीकार की है।

केरल पुलिस ने सरेंडर करने वाले डोमेनिक मार्टिन के द्वारा बम लगाने की पुष्टि की है पुलिस को जांच में उसके फोन से आईईडी ब्लास्ट करने के लिए इस्तैमाल किए गए रिमोट कंट्रोल के विजुअल मिले है पुलिस ने बताया डोमेनिक ने आत्मसमर्पण करने से पहले फेसबुक लाइव किया था उसमें उसने ब्लास्ट की बात कबूली है। खास बात है फोमेटिक ने ऐसा करने का कारण भी बताया है उसने लाइव में कहा है कि वह ईसाई धर्म के यहोवा के साक्षी ग्रुप से संबंधित है लेकिन उसे उनकी विचाराधारा पसंद नही है उसे वह देश के लिए खतरा मानता हैं क्योंकि यह लोग देश के युवाओं के दिमाक में जहर घोल रहे है इसलिए उसने प्रार्थना सभा में बम ब्लास्ट किया।

read more
केरलकोच्चि

कोच्चि तट पर नौसेना और एनसीबी का ऑपरेशन समुद्रगुप्त, 15 हजार करोड़ कीमत की 2525 kg ड्रग पकड़ी

Drugs Seized in Kochi Port

कोच्चि / भारत के कोच्चि बंदरगाह के तट पर नोसेना और एनसीबी के ज्वॉइंट ऑपरेशन में अभी तक की सबसे बड़ी ड्रग्स की खैप पकड़ी गई है बताया जाता है 2525 किलो की यह ड्रग्स समुद्र के जरिए अफगानिस्तान से आ रही थी अंतराष्ट्रीय बाजार में जिसकी कीमत 1500 हजार करोड़ हैं।

एनसीबी के डीडीजी ऑपरेशन संजय सिंह के मुताबिक पिछले 40 दिन से हिंद महासागर में नोसेना और एनसीबी की टीमें ऑपरेशन समुद्रगुप्त के तहत समुद्री जहाज और छोटी नोकाओ पर नजर रखे थी पिछले दिन संदिग्ध लगने पर कुछ नोकाओं की जब जांच की गई तो भारी मात्रा में बोरो में पैक ड्रग्स पाई गई इस बरामद 2525 केजी भार की इस ड्रग्स में हीरोइन हशीश की मात्रा भी मिली है इस ड्रग्स की अंतराष्ट्रीय बाजार में कीमत 1500 करोड़ आंकी गई हैं।

एनसीबी के अधिकारी संजय सिंह के अनुसार इस ड्रग्स के साथ एक पास्किस्तानी आईएसआई एजेंट भी पकड़ा गया है जो पाकिस्तानी ड्रग्स माफिया हाजी सलीम का आदमी है हाजी सलीम पाकिस्तानी एजेंसी आईएसआई और ड्रग सिंडीकेट दाऊद इब्राहीम के लिए काम करता है ड्रग्स से जो पैसा मिलता है आईएसआई उसका उपयोग अपने नापाक इरादों को पूरा करने के लिए करती है बताया जाता है यह ड्रग्स की खैप अफगानिस्तान से यहां लाई गई थी जिसके बेगो पर खुफिया कोड 777,999, और 555 के अंक दर्ज पाएं गए है जिसे केरल और तमिलनाडु के रास्ते आगे खपाने की योजना थी।

read more
केरलकोच्चि

केरल के पथनमथिट्टा में दो महिलाओं की नरबलि, तांत्रिक सहित तीन गिरफ्तार, पुलिस ने तंत्रमंत्र के दौरान मांस भक्षण की संभावना जताई

kerala brutally case

कोच्चि / केरल के पथनमथिट्टा में धन संपदा प्राप्त करने के चक्कर में दो महिलाओं की नर बलि देने का दिल दहलाने वाला मामला सामने आया है पुलिस ने एक डॉक्टर दंपत्ति सहित तांत्रिक को गिरफ्तार कर लिया है लेकिन पुलिस कमिश्नर ने नर बलि और तंत्र मंत्र के दौरान मानव मांस भक्षण करने की भी संभावना जताई है जिससे अंधविश्वास के साथ साथ आरोपियों की विकृत मानसिकता का भी पता चलता हैं।

पुलिस कैसे पहुंची आरोपियों तक …

मथनमथिट्टा जिले के थिरुविल्ला इलाके में यह दर्दनाक घटना सामने आई है बताया जाता है करीब 50 साल उम्र की दो महिलाएं बारी बारी से लापता हो जाती है पहले कलाडी की रहने वाली रोजलिन नाम की महिला गायब होती है उसके परिजन उसकी पुलिस में रिपोर्ट करते है जिसपर पुलिस गुमशुदगी दर्ज करती है। उसके बाद सितंबर में कदावंतरा की पदमा नाम की महिला भी लापता हो जाती है उसकी बहन की रिपोर्ट पर पुलिस इस महिला की भी गुमशुदगी दर्ज करती है। लगातार हमउम्र महिलाओं के लापता हो जाने से पुलिस अधिकारी इसे चैलेंज के रूप में स्वीकार पूरी तैयारी से खोजबीन के साथ पड़ताल शुरू करते है। लेकिन पुलिस को शुरूआत में कोई सफलता नहीं मिलती लेकिन जब पुलिस तफ्तीश से अपनी जांच को आगे बढ़ाती है तो सूत्र जुड़ते जाते है और वह महिलाओं की फ़ोन लोकेशन के आधार पर त्रिरुवल्ला पहुंचती हैं और सीसीटीवी फुटेज के आधार पर वह धीरे धीरे डॉक्टर दंपत्ति के घर पर धावा बोलती है और शुरूआत में डॉक्टर भगावल सिंह और उसकी पत्नी लैला पुलिस को गुमराह करते है लेकिन जब पुलिस कड़ाई से पूछताछ करते है तो वे पूरा खुलासा कर देते है और तांत्रिक मोहम्मद शफी के बारे में बताते है तब पुलिस डॉक्टर दंपत्ति के साथ तांत्रिक शफी को भी गिरफ्तार कर लेती है।

Kerala brutally murdered case
Kerala brutally murdered case

डॉक्टर दंपत्ति और तांत्रिक का गठजोड़ बना इस नर बलि का कारण …

जानकारी के मुताबिकन त्रिरुवल्ला में रहने वाले मसाज थेरेपिस्ट डॉ भगावल सिंह दंपत्ति आर्थिक रूप से परेशान थे उनकी पत्नी लैला ने जानकारी मिलने पर पेरूबवूर के तांत्रिक मोहम्मद शफी से संपर्क कर जब अपनी व्यथा बताई तो उसने उन्हें धन प्राप्ति के लिए नरबलि और वह भी महिला की देने का सुझाव दिया उसके उकसाने पर डॉक्टर दंपत्ति सहमत हो गए शफी जो मानव तस्कर भी था उसने यह भी कहा बलि के लिए महिलाओ का इंतजाम वह कर लेगा।

डॉक्टर दंपत्ति और तांत्रिक का गठजोड़ बना इस नर बलि का कारण …

जानकारी के मुताबिकन त्रिरुवल्ला में रहने वाले मसाज थेरेपिस्ट डॉ भगावल सिंह दंपत्ति आर्थिक रूप से परेशान थे उनकी पत्नी लैला ने जानकारी मिलने पर पेरूबवूर के तांत्रिक मोहम्मद शफी से संपर्क कर जब अपनी व्यथा बताई तो उसने उन्हें धन प्राप्ति के लिए नरबलि और वह भी महिला की देने का सुझाव दिया उसके उकसाने पर डॉक्टर दंपत्ति सहमत हो गए शफी जो मानव तस्कर भी था उसने यह भी कहा बलि के लिए महिलाओ का इंतजाम वह कर लेगा तब शफी कलाड़ी और कदवंतरा में रहने वाली इन दोनों महिलाओं को काम और पैसा देने के नाम पर बगला फुसला कर त्रिरुवल्ला डॉक्टर दंपत्ति के पास ले आया।

महिलाओं की हत्या की दर्दनाक दास्तां …

इसके बाद इन तीनों के बीच गोपनीय रूप से नरबलि देने की स्कीम बनी जिसके तहत यह लोग इन दोनों महिलाओं को त्रिरुवल्ला से पथनमथिट्टा जिले के एलथून ले आए जहां एक घर में लाकर दोनों को बंधक बना लिया। और तांत्रिक शफी के साथ मिलकर डॉक्टर दंपत्ति ने एक एक कर चाकुओं से इन दोनो के शरीर पर जख्म दे देकर इन्हें पहले मार डाला फिर इनके शरीर के 56 छोटे छोटे टुकड़े किए और इस दौरान इन महिलाओं के दोनों ब्रेस्ट भी काट लिए। बाद में इनके शरीर के टुकड़ों को एलथूर के जिस मकान में बलि दी वही जमीन में दफ्न कर दिया। इस दौरान तांत्रिक शफी कुछ बुदबुदाने का नाटक भी करता रहा।

पुलिस ने महिलाओ के मांस खाने की जताई संभावना …

त्रिरुवाल्ला के पुलिस कमिश्नर नागराजू ने इस नरबलि से जुड़े हत्याकांड की मीडिया को जानकारी देते हुए बताया कि तांत्रिक मोहम्मद शफी एक वीभत्स मानसिकता का मनोरोगी है उसे मुख्य आरोपी बनाया है तीनों को गिरफ्तार कर उनपर हत्या सहित अन्य धाराओं में प्रकरण दर्ज किया गया है पुलिस के मुताबिक इन्होंने महिलाओ को बांधकर उनकी हत्या की कई अंग गायब होने से शुरूआती जांच से पता चलता है कि इन्होंने महिलाओं के शरीर के अंग के मांस को खाया भी है जो महिलाएं मिली वह सितंबर माह से लापता थी जिनकी गुमशुदगी भी दर्ज हैं। पुलिस ने आज बुद्धवार को तीनों आरोपियों को सेशन कोर्ट में पेश किया जहां से उन्हें 2 हफ्ते के लिए जेल भेजा दिया गया है।

मनोरोगी तांत्रिक शफी योन पूर्ति के महिलाओं को फुसला कर शिकार बनाता था …

मुख्य आरोपी मोहम्मद शफी एक आदतन अपराधी है जिसने योन सुख के लिए इस घटना को अंजाम दिया जो सोशल मीडिया और फेस बुक पर ऐसे लोगों को ढूंढता था तो आर्थिक तंगी से जूझ रहे है और उनसे संपर्क कर अमीर होने के लिए नरबलि के लिए उकसाता था और ऐसे लोग जान उसके बुने जाल में फंस जाते थे तो वह नरबलि देकर अपनी खूनी और जिस्मानी प्यास बुझाता था साथ ही वह अंग भंग कर मृतकों के शरीर से पूजा के नाम पर मानव अंग लेकर उसकी तस्करी भी करता था। उसपर 2020 में एक 75 साल की महिला से रेप का भी आरोप है जबकि जून 22 में एक लापता महिला की दरियाफ्त भी पुलिस उससे करेगी। कुल मिलाकर
उसपर पहले के 8 अपराधिक मामले दर्ज है।

read more
केरलतिरुवनंतपुरम

भारत जोड़ों यात्रा में नया विवाद, खाकी हॉफ पेंट से जुड़ा ट्वीट करने से आरएसएस बीजेपी नाराज

BJP and Congress Election

तिरुवनंतपुरम/ कांग्रेस की भारत जोड़ो यात्रा तामिलनाडू के बाद अब केरल से गुजर रही है इस दौरान यात्रा में काफी लोग साथ है। लेकिन इस बीच कांग्रेस के खाकी हॉप पेंट के सुलगती तस्वीर और केपशन के साथ एक ट्वीट से वह आरएसएस और बीजेपी के निशाने पर आ गई है।

कांग्रेस की भारत जोड़ो यात्रा ने एक तरफ जहां लगता है बीजेपी को खासी परेशानी में डाल रखा है उसी बीच बीजेपी ने पहले राहुल गांधी की विदेशी टी शर्ट और उसकी कीमत को लेकर सवाल उठाए थे उसके बाद केरल में एक विवादित पादरी के साथ राहुल गांधी की मुलाकात पर बीजेपी ने बबाल किया और अब तामिलनाडू से प्रारंभ यह कांग्रेस की भारत जोड़ों यात्रा केरल में प्रवेश कर गई है लेकिन केरल में आने के दूसरे दिन 12 सितंबर को कांग्रेस के एक ट्वीट ने हंगामा खड़ा कर दिया और आरएसएस और बीजेपी उसपर हमलावर हो गई हैं।

कांग्रेस के ट्वीट में जो केपशन लगा है उसमें एक खाकी कलर की हॉफ पेंट को दर्शाया है जिसमें आग सुलगती दिखाई गई है और अंग्रेजी भाषा में केपशन ने लिखा हैं “145 day more to go” अर्थात भारत को नफरत से मुक्ति में 145 दिन बकाया है। चूकि खाकी हॉफ पेंट या नेकर आरएसएस की ड्रेस कोड में शामिल था हालाकि अब खाकी फुल पेंट गई है सो हंगामा होना ही था और हुआ भी खूब।

आरएसएस के सर सह कार्यवाह डॉ मनमोहन वैद्य ने एक प्रेस कान्फ्रेस में कहा कि कांग्रेस देश के लोगों को नफरत से जोड़ना चाहती हैं इनके मां बाप ने संघ का बहुत तिरस्कार किया लेकिन संघ रुका नहीं और वह लगातार आगे बढ़ता जा रहा है। जबकि बीजेपी सांसद तेजस्वी सूर्या ने आरोप लगाया कि कांग्रेस ने 1984 में सिख विरोधी दंगे करवाए और 2002 में कार सेवकों को जिंदा जला दिया और उसमें 59 लोगों की मौत हो गई साफ है वह खुद क्या है इन घटनाओं से साफ होता हैं। वही भाजपा प्रवक्ता संवित पात्रा ने कहा है कि कांग्रेस की यह यात्रा भारत को जोड़ने की नही बल्कि आग लगाने की यात्रा हैं।

जबकि इसके जबाब में कांग्रेस प्रवक्ता जयराम नरेश का कहना है बीजेपी पहले राहुल गांधी की टीशर्ट को लेकर उनके जूतों को लेकर फिर कंटेनर को लेकर मुद्दा बना रही है इससे साफ है कि वह कांग्रेस की इस भारत जोड़ो यात्रा को लेकर घबराहट में है।

जैसा कि कांग्रेस की यह “भारत जोड़ों यात्रा” 150 दिन की है जिसमें वह 12 राज्यों और दो केंद्र शासित प्रदेशों से होकर गुजरेगी इस 3570 किलोमीटर की यात्रा का नेतृत्व काग्रेस नेता राहुल गांधी कर रहे हैं। लेकिन कांग्रेस की इस पदयात्रा से कही ना कही लगता है भाजपा में भी बैचेनी देखी जा रही है यही वजह है पहले बीजेपी ने राहुल गांधी की विदेशी टी शर्ट और उसकी कीमत को लेकर आरोप लगाए और उसके बाद जब राहुल गांधी यात्रा के दौरान विवादित बयान देने वाले एक पादरी से मिले तो फिर बीजेपी ने उनपर आरोपों की झड़ी लगादी थी। लेकिन अब कांग्रेस के एक ट्वीट और आरएसएस पर हमले से भाजपा कांग्रेस को घेरने में लगी हैं। लेकिन केरल में यात्रा के दूसरे दिन कांग्रेस के आरएसएस को लेकर किए इस ट्वीट को वहां की स्थानीय राजनीति से जोड़कर भी देखा जा रहा हैं।

read more
केरल

केरल के आधा दर्जन जिलों में बारिश बाढ़ सैलाब लाया बर्बादी

  • केरल के आधा दर्जन जिलों में बारिश बाढ़ सैलाब लाया बर्बादी …

  • मुन्नार में भूस्खलन से 81 लोग मलबे में दबे 49 शव बरामद 20 लापता

इडुक्की ,मुन्नार (केरल) – प्रकति जब देती है तो छप्पर फाड़के और जब कहर बरपाती हैं तो जिंदगी छीनने के साथ सब कुछ तहस नहस कर देती है आजकल केरल कुछ ऐसी ही स्थिति से गुजर रहा हैं पिछले एक सप्ताह से भारी बारिश तूफान के साथ हुए भू स्खलन ने 49 लोगों की जान लेली और 20 लोगों का अभी तक कोई अता पता नही हैं ।

स्थानीय प्रशासन और एमडीआरएफ की कई टीमें राहत और बचाव के काम में लगी हैं लेकिन अभी तक पत्थर के बोल्डर और मलबा हटाने में कामयाब नहीं हो पाई है इससे इस प्राकृतिक प्रकोप की इस विभीषिका का पता चलता हैं। सरकार ने प्रभावित जिलों में रेड एलर्ट जारी कर सभी से इस दौरान घरों में रहने को कहा है।

केरल में आई इस आपदा में सबकुछ तहस नहस करके रख दिया है करीब 7 दिनों से हो रही भीषण बारिश और उंसके साथ आई तेज हवाओं ने शहर हो या गांव सभी को जल प्लावन की स्थिति में ले लिया हैं केरल राज्य के सबसे अधिक प्रभावित जिलों में मुन्नार सबसे ऊपर है इसके अलावा इडुक्की कोझीकोड मल्लपुरम और अल्लापुझा में इस बार बारिश और भूस्खलन आफत बन कर आया हैं।

मुन्नार जिले के राजमाला में गत 6 अगस्त को रात 10.30 बजे तेज बारिश के बाद हुए भूस्खलन ने पहाड़ के नीचे बनी झोपड़ियों को रौंद दिया भूस्खलन के दौरान पानी से साथ पहाड़ से गिरे बड़े बड़े बोल्डर्स और मिट्टी के मलबे में 81 इंसानी जिंदगियां दब गई मालूम होने पर स्थानीय प्रशासन और एनडीआरएफ की 2 टीमें मौके पर पहुंची लेकिन काफी मशक्कत के बाद वे 12 लोगों को ही जिंदा बचा सकें|

जबकि अभी तक 49 शवों को बमुश्किल मिट्टी पत्थर और गारे के मलबे से बाहर निकाला जा सका जबकि 20 लोगो का आज तक पता नही चला वे मलबे में कहा दफ्न हुए पड़े हैं। एनडीआरएफ अपनी कोशिशों में जुटा हैं। इस स्पॉट के पास एक नदी बहती है बताया जाता है तेज बारिश के बहाव में कुछ शव उसमें भी बह गये।

बताया जाता है अपने झोपड़ों में जब मजदूर अंदर थे कुछ सो रहे थे तभी यह मिट्टी पत्थरों का सैलाब आया और वे कुछ समझ ही नही सकें और ये झोपड़ियां मिट्टी मलबा और पत्थरों से भर गई।

उत्त्तर से दक्षिण तक बारिश बाढ़ तबाही जारी हैं केरल के कोझीकोड मल्लपुरम अल्लापुझ पोट्टायन एर्नाकुलम में भी हालात ठीक नही हैं पम्पा डेम उफान पर हैं औऱ खतरे के निशान से ऊपर है उंसके सभी गेट खोले गये करीब 2 हजार लोग विस्थापित कर दिये हैं।

read more
केरल

कोझीकोड विमान हादसा, दो पायलट सहित 18 की मौत

  • कोझीकोड विमान हादसा, दो पायलट सहित 18 की मौत

  • 127 घायल 15 गंभीर, जांच के आदेश

कोझीकोड – केरल के कोझीकोड में हुए विमान हादसे में दो पायलटों सहित 18 लोगों की मौत हो गई हैं जबकि करीब 127 लोग घायल हुए हैं। जिसमें 15 की हालत गंभीर बताई जा रही हैं गनीमत रही कि विमान में आग नही लगी यदि ऐसा होता तो और बड़ा हादसा हो सकता था। जबकि एयर एक्सीडेंट इन्वेस्टीगेशन ब्यूरो को जांच की जिम्मेदारी दी गई हैं।

वंदे भारत मिशन के तहत कोरोना काल के चलते देश के बाहर फंसे लोगो को भारत लाने की कवायद देश के प्रधानमंत्री ने शुरू की थी इसी के तहत यह विमान भी दुबई से केरल लौटा था जो कि कल रात हादसे का शिकार हो गया।
कोझीकोड विमानतल का रनवे इस हादसे की मुख्य वजह था साथ ही केरल में दो दिन से लगातार हो रही बारिश इस हादसे की दूसरा बड़ा कारण सामने आया है। रनवे पर भरे पानी की बजह से विमान लेंडिंग के दौरान तेजी से फिसलता हुआ आगे बढ़ता गया सभवतः पायलट ने रोकने की कोशिश की होगी लेकिन विनान नियंत्रण से बाहर हो गया । बताया जाता है इस यात्री विमान में 2 पायलट 4 क्रू मैम्बर, 184 यात्री सहित कुल 190 लोग सबार थे।

इस विमान दुर्घटना में विमान तीन टुकड़ों में तब्दील हो गया और अगला कॉकपिट वाला हिस्सा जो रनवे के आगे करीब 35 फुट गहरे गड्डे में गिरा जिससे उसमें सबार पायलट दीपक बसंत सांठे और को – पायलट अखिलेश कुमार सहित 16 अन्य यात्रियों की दर्दनाक मौत हो गई।

फिलहाल दुर्घटना में घायल 127 यात्रियों को कोझीकोड और मल्लपुरम स्थित अस्पतालों में भर्ती कराया गया हैं। बाकी मामूली रूप से घायलों को प्राथमिक उपचार के बाद छुट्टी दे दी गई हैं।

एयर फोर्स अकादमी के बेहतरीन और अनुभवी पायलट थे बसंत सांठे जिन्होंने रिटायर्ड होने के बाद एयर लाइंस ज्वाइन की थी। जबकि 33 वर्षीय अखिलेश कुमार भी काफी सिद्धहस्त पायलट थे इस तरह भारत ने दो होनहार पायलटों को खो दिया।

खास बात हैं कोझीकोड के इस विमान तल का रनवे काफी खतरनाक बताया जाता है जब वेदर ठीक हो उस दौरान भी यहां विमान लेंड कराते समय पायलट को परेशानी होती है और उसे काफी सावधानी रखना पड़ती जबकि कल तो मौसम काफी खराब था।

बताया जाता है यह रनवे टैबलेटाप स्टाइल में है रनवे की साइड पट्टी छोटी है इधर उड्डयन मंत्रालय ने इस हादसे की जांच के आदेश दिये है और एयर एक्सीडेंटल इंवेस्टिगेशन ब्यूरो इस हादसे की जांच करेंगा। केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप पुरी भी आज कोझीकोड पहुंच रहे हैं जो दुर्घटना स्थल का जायजा लेने के साथ उंसके कारणों की जानकारी भी लेंगे।

read more
केरलदेश

केरल में बड़ा विमान हादसा, कोझीकोड एयरपोर्ट पर यात्री विमान दुर्घटनाग्रस्त, दो हिस्सों में बटा विमान, पायलट और क्रो पायलट की मौत

Air India Plane Crash
  • केरल में बड़ा विमान हादसा, कोझीकोड एयरपोर्ट पर यात्री विमान दुर्घटनाग्रस्त,

  • दो हिस्सों में बटा विमान, पायलट और क्रो पायलट की मौत, कई यात्री घायल

कोझीकोड- केरल के कोझीकोड एयरपोर्ट पर एयर लाइंस का एक विमान लैंडिंग करने के दौरान अचानक रनवे पर फिसल गया और खाई में गिरकर दुर्घटनाग्रस्त हुआ,  और विमान के दो टुकड़े हो गये इस घटना में इस विमान के पायलट और क्रो पायलट की मौत की खबर मिल रही हैं।

जबकि कई लोगो के घायल होने की जानकारी सामने आई है, केरल में भारी बारिश होने के कारण राहत बचाव कार्य मे कुछ देरी हुई लेकिन बाद में एयरपोर्ट प्रशासन ने सभी घायलों को बाहर निकालकर इलाज के लिये भेजा गया हैं।

बताया जाता है इस विमान में 10 बच्चों सहित 184 यात्री और 7 क्रू मैम्बर सबार थे।

बताया जाता है एयर इंडिया एक्सप्रेस का IX1344 विमान दुबई से कालीकट जा रहा था, यह विमान करीब 8 बजकर 20 मिनट पर केरल के कोझीकोट हवाई अड्डे पर जब लेंड कर रहा था, तभी वह रनवे पर अचानक बुरी तरह फिसल गया और एयरपोर्ट के आगे जाकर एक खाई जैसे गड्डे में गिर गया ,और दो हिस्सों में बटे इस विमान का अगला हिस्सा खाई में गिरने से जिसमें पायलट बैठता है वह बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गया, जिससे पायलट और दूसरे क्रो पायलट की मौत की खबर हैं।

यह विमान दुबई से कोझीकोड आया था औऱ यहां से कालीकट जाने वाला था।

केरल सहित कोझीकोड में लगातार भारी बारिश हो रही है संभवतः विमान के फिसलने और दुघटनाग्रस्त होने का यह बड़ा कारण हैं वही इस दौरान बारिश की बजह से विजिबिलटी भी कम थी पायलट ने इस दौरान आकाश में सावधानीवश दो चक्कर भी लगाये थे लेकिन जब वह रनवे पर उतरा तो विमान सम्हल नही सका और तेजी से आगे बढ़ता हुआ रनवे के बाहरी औऱ चला गया और आगे एक खाई में गिरकर दीर्घटनाग्रस्त हो गया।

इस विमान दुर्घटना में काफी यात्रियों के घायल होने की जानकारी सामने आई हैं।जिन्हें स्थानीय प्रशासन और एयरपोर्ट अथॉरिटी ने इलाज के लिये रवाना कर दिया गया हैं।

read more
केरलदेश

केरल में गर्भवती मादा हाथी की हत्या से मानवता हुई शर्मसार

  • केरल में गर्भवती मादा हाथी की हत्या से मानवता हुई शर्मसार

  • जबड़े में हुआ बारूदी विस्फोट असहनीय पीड़ा सहने के बाद हुई हथिनी की मौत 

  • मेनका गांधी ने घेरा केरला सरकार को

  • मुख्यमंत्री आये एक्शन में मामला दर्ज एसआईटी करेगी जांच दो संदिग्ध पकड़े

मलप्पुरम, पलक्कड़ – केरल जैसे देश के सबसे अधिक शिक्षित राज्य में एक मूक प्राणी गर्भवती हथिनी की बारूदी फल खिलाकर हत्या से पूरी मानवता शर्मसार हो गई क्या कसूर था उंसका या उंसके गर्भ में पल रहे उंस के मासूम बच्चे का जिसे उसकी मां के साथ दुनिया में आने से पहले ही खत्म कर दिया गया।

इसको लेकर प्राणिविद जहां चिंतित है तो पेट लवर्स में भारी गुस्सा हैं। इसको लेकर केंद्रीय वन एवं पर्यावरण मंत्रालय ने कहा है जिसने इस वारदात को अंजाम दिया उनको बख्शा नही जायेगा उनके खिलाफ कड़ी कार्यवाही होगी।

27 मई को सोशल मीडिया के जरिए इस मूक प्राणी पर केरल के मलप्पुरम में हुई अत्याचार की यह घटना उजागर हुई जिसमें एक गर्भवती मादा हाथी की बड़े ही वीभत्स तरीक़े से हत्या कर दी गई।

हाल ही में केरल सरकार ने मलप्पुरम में जंगली सूअरों को भगानें के लिये बारूद से पटाखे बनाने की अनुमति कुछ लोगों को दी थी लेकिन उन्होंने इससे बारूदी हथियार बनाना शुरू कर दिया।

इसके तुरंत बाद वहां बड़ी संख्या में अनन्नास और दूसरे फलों में जानवरों को मारने के लिए पटाखे तैयार किए जाने लगे हैवानियत भरा यह खेल वहां मौजूद एक युवक ने अपने मोबाइल कैमरे में कैद किया था जिसमें भूख से व्याकुल एक हथनी जंगल से गांव में भटक गई और जानवरों की तस्करी करने वाले शिकारियों के बनाये जाल में फंस गई।

भूख से व्याकुल उस मादा हाथी ने इन शिकारियों का फेका बारूद भरा अनन्नास का फल खा लिया जैसे ही उसने यह बारूद भरा यह फल खाया वैसे ही उसकी तबीयत बिगड़ने लगी और गले में विस्फोट होने के कारण वह घायल हालत में पानी में जाकर बैठ गई उंसके बाद जहर फैलने से वह बेचैन होकर बुरी तरह तड़फने लगी बाद में पानी मे ही उसकी मौत हो गई।

लगातार पानी मे रहने से उंसके फेफड़ों में पानी भर गया उंसके मुँह में हुए बारूदी विस्फोट से उंसका जबड़ा टूट गया गले मे जख्म हो गये वह कुछ खाने की स्थिति में नही थी और लगातार कमजोर होने और फेफड़ों में पानी भरने से उसकी हिम्मत जबाब दे गई और उस तालाब के पानी मे ही उसकी दुखद मौत हो गई।

साथ में उंसके गर्भ में पल रहा शिशु भी जन्म लेने से पहले चल बसा इस तरह एक नही दो प्राणियों की दर्दनाक हत्या कर दी गई इस बीच लोगों ने उसे बाहर निकालने की तमाम कोशिशें की लेकिन मरने के बाद ही उसे क्रेन से बाहर निकाला गया।

इस घटना की पूर्व केंद्रीय मंत्री मेनका गांधी ने कड़े शब्दों में निंदा करते हुए कहा कि इस गंभीर मामले में केरला संरकार को तुरंत एक्शन लेना चाहिये और जरूरी हो तो कानून में बदलाव भी करना चाहिये।

उन्होंने कहा कि केरला में यह पहली घटना नही है यहां हर तीन दिन में एक हाथी मारा जाता हैं शिकार के अलावा लोग अपने फायदे के लिये पशुओं के साथ क्रूरता करते हैं हाथियों का पहले बीमा कराते है फिर उनके पैरों में जंग लगी कीले ठोक देते है जिससे उन्हें गेंगरिन हो जाता है और मरने पर बीमे की राशि हजम कर जाते है।

उन्होंने कहा यहां हाथियों की कोई मौत स्वाभाविक नही होती केरल में यह मौत की फैक्ट्री बंद करे संरकार। पूर्व मंत्री ने कहा हमने मूक प्राणियों की मौत पर कई बार सबाल उठाये लेकिन सरकार ने आज तक ध्यान नही दिया।

जब इस घटना का वीडियो वॉयरल हुआ तो देश में प्राणियों के चाहने वालों में भारी गुस्सा देखा गया और सोशल मीडिया पर मूक प्राणी की हत्या करने वालों के साथ साथ सरकार पर भी आरोप प्रत्यारोपो की बौछार होने लगी।

तब संरकार जागी और इस घटना को लेकर पशु क्रूरता अधिनियम और एक्सपलोसिव कानून के तहत अपराध दर्ज किया साथ ही केरल के मुख्यमंत्री ने मामले की जांच के लिये एसआईटी का गठन भी किया हैं सूत्रों के मुताबिक कुछ आरोपियों की पहचान के अलावा दो संदिग्ध लोगों को गिरफ्तार करने की जानकारी भी सामने आई है।

भारत मे 10 साल पहले करीब 10 लाख हाथी थे लेकिन आज केवल 27 हजार हाथी जंगल में या निजी तौर विचरण कर रहे है वह दिन दूर नही जब यह विलुप्तप्राय प्राणी हो जायेगा हालात यह है कि अकेले केरला में 7 साल पहले 11 हजार हाथी थे लेकिन यहां आज आधे हाथी भी नही रहे जिसमें सिर्फ मेल हाथी 800 हैं।

केरल में हाथियों की काफी दुर्दशा हो रही हैं जिनका धार्मिक और राजनीतिक बतौर काफी उपयोग हो रहा हैं 1800 हाथी मंदिरों में बंधक हैं तो 500 हाथी निजी तौर पर बंधक हैं। हाथी दांत काफी महंगा बिकता हैं। इसलियें भी यह मानव क्रूरता के शिकार हो रहे हैं। यदि इसपर केंद्र और प्रदेश सरकारों ने ध्यान नही दिया तो एक दिन यह भारी भरकम दुनिया का सबसे बड़ा भीमकाय जानवर इतिहास के पन्नों में सिमट जायेगा।

read more
केरल

राहुल ने केरल की वरनाड लोकसभा से नामांकन दाखिल किया

priyanka-rahul
  • राहुल ने केरल की वरनाड लोकसभा से नामांकन दाखिल किया

  • प्रियंका के साथ रोड शो कर किया शक्ति प्रदर्शन, कहा एकता का संदेश देने आया

वरनाड (केरल)- कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने आज केरल की वरनाड लोकसभा सीट से अपना नामांकन पर्चा दाखिल किया, इस मौके पर उनकी बहिन और कांग्रेस की महासचिव प्रियंका गांधी भी मौजूद थी इस दौरान उन्होंने कहा भारत एक है और वे एकता का संदेश देने वरनाड आये हैं। नामांकन भरने के बाद राहुल गांधी ने रोड शो किया जिसमें भारी तादाद में कांग्रेस और अन्य सहयोगी पार्टीयों के कार्यकर्ता शामिल थे।

राहुल गांधी आज प्रियंका गांधी के साथ वरनाड पहुंचे और सीधे डी एम ऑफिस जाकर स्थानीय नेताओं के साथ अपना नामांकन दाखिल किया,इस दौरान राहुल की एक झलक देखने के लिये कार्यालय के बाहर हजारों लोग जुट आये थे। इसके बाद राहुल और प्रियंका एक खुले ट्रक में सबार हुए और शहर में रोड शो किया इस मौके पर कांग्रेस कार्यकर्ताओं के साथ स्थानीय भारतीय मुस्लिम लीग सहित अन्य सहयोगी पार्टीयों के हजारों कार्यकर्ता शामिल थे राहुल का रोड शो के दौरान ऐतिहासिक स्वागत हुआ राहुल प्रियंका ने भी हाथ हिलाकर लोगों का अभिवादन स्वीकार किया। साफ था कि राहुल ने यहां रैली कर कांग्रेस की ताकत का बखूबी इजहार किया और कांग्रेस के पक्ष में माहौल बनाने में काफी हद तक सफल भी रहे।

जैसा कि वरनाड संसदीय सीट का गठन 2008 में हुआ और यहां अभी तक दो चुनाव ही हुए है यह तीसरा चुनाव हैं,पिछले दोनों चुनावो में कांग्रेस को जीत मिली, और जहां तक जातिगत समीकरण पर नजर डाली जाये तो इस लोकसभा में 48 फीसदी मुस्लिम वोटर हैं और 41 फीसदी हिन्दू मतदाता हैं शेष 11 प्रतिशत अन्य वर्ग के मतदाता शामिल हैं। जहां तक राजनीतिक नफा नुकसान पर गौर की जाये तो वरनाड लोकसभा का क्षेत्र तामिलनाडु और कर्नाटक राज्य से जुड़ा है और राहुल गांधी के यहां से चुनाव लड़ने से केरल सहित तीन राज्यों में कांग्रेस का बर्चस्व बड़ने के प्रबल आसार नजर आते हैं। जो लगता है कांग्रेस की रणनीति का हिस्सा हैं।

जैसा कि इस सीट पर 23 अप्रेल को मतदान होना हैं। लेकिन राहुल गांधी का यहां से चुनाव में उतरना मॉर्कसवादी कम्युनिस्ट पार्टी को रास नही आ रहा वामपंथी इससे नाराज भी है क्योंकि वे कांग्रेस के साथ महागठबंधन में शामिल हैं।उसका कहना है कि राहुल के आने से बीजेपी के खिलाफ लड़ाई कमजोर होगी।

इधर बीजेपी के नजरिये से देखा जाये तो वह राहुल को रणछोड़ मानती है अमेठी की भाजपा प्रत्याशी स्मृति ईरानी राहुल पर तंज कसने से पीछे नही हैं उनके मुताबिक राहुल गांधी ने अमेठी की जनता के साथ धोखा किया है जो भगोड़े हैं। हार की संभावना से बे यहां से भाग गये।लेकिन स्मृति को याद रखना चाहिये कि उनकी पार्टी के नेता अटल बिहारी वाजपेयी ने तीन लोकसभा सीटो और नरेंद्र मोदी ने खुद 2014 में दो जगहों से चुनाव लड़ा था इंदिरा सहित अन्य कई नेता भी इस फेहरिश्त में शामिल रहे हैं फिर राहुल का अमेठी और वरनाड दो जगहो से चुनाव में उतारना कोई नई बात नही हैं।लेकिन लगता हैं बीजेपी इसे पचा नही पा रही।

read more
केरल

केरल में बाढ़ का प्रकोप, मरने वालों की संख्या 350 के पार

Kerela Flood
  • केरल में बाढ़ का प्रकोप, मरने वालों की संख्या 350 के पार,
  • केरल के मंत्री के मुताबिक केन्द्रीय मदद नाकाफ़ी 20 हजार करोड़ का हुआ है नुकसान

तिरुवनंतपुरम/ केरल में भीषण बारिश और बाढ़ की बजह से मौत का अॉकड़ा लगातार बढ़ता जा रहा है यही बजह है कि मरने वालों की संख्या 350 को पार कर गई हैं वहीं केरल के मंत्री विजयन का कहना हैं प्रान्त में आई इस प्राकृतिक आपदा से करीब 20 हजार करोड़ का नुकसान हुआ हैं लोग सड़कों पर आ गये हैं और केन्द्रीय सरकार ने जो मदद की हैं वह काफ़ी कम हैं। इधर कई राज्य भी केरल के आपदाग्रस्त लोगों की सहायता के लिये आगे आये हैं।जबकि राहत की बात है केरल में रेड अलर्ट हट गया है।

केरल में बारिश बाढ़ से आये कहर के चलते 9 लाख लोग राहत शिविरो में शरण लिये हुए है वही लोगों को सकुशल निकालने के लिए वायु सेना ने 67 हेलीकॉप्टर और 23 हवाई जहाज लगाये हैं इस तरह थलसेना, नौसेना और वायु सेना के करीब 150 दल और एनडीआरएफ़ की 58 टीमे पानी भरे इलाकों से लोगों को सुरक्षित निकालने के लिये युद्ध स्तर पर रेस्क्यू अॉपरेशन में जुटी हुई हैं। सेंना ने 13 अस्थायी पुल भी बनाये हैं।

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने केरल के बाढ़ पीडितो की सहायतार्थ 10 करोड़ की आर्थिक सहायता देने की घोषणा की है।

read more
error: Content is protected !!