close

खेल

खेल

डेब्यू मैच में अफ़गानिस्तान को भारत ने पारी और 262 रनों से पराजित किया, जडेजा मेन अॉफ़ द मैच

India-Afg

डेब्यू मैच में अफ़गानिस्तान को भारत ने पारी और 262 रनों से पराजित किया, जडेजा मेन अॉफ़ द मैच

बैंगलौर-  भारत ने डेब्यू क्रिकेट टेस्ट मैच में अफ़गानिस्तान को पारी और 262 रनों से पराजित कर दिया भारत की यह जीत क्रिकेट इतिहास की सबसे बड़ी जीत है।6 विकेट हासिल करने वाले रवीन्द्र जडेजा मेन अॉफ़ द मैच रहे,खास बात हैं भारत ने मैच के दूसरे दिन अफ़गानिस्तान को दो बार अॉल आउट किया।

भारत ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी चुनी और शिखर धवन (107रन) और मुरली विजय (105 रन) के शतको की बदौलत 474 रन का स्कोर बनाया इनके अलावा हार्दिक पान्ड्या ने 71 रन और केएल राहुल ने 55 रनो का योगदान दिया।खास रहा शिखर ने लंच से पहले ही अपना शतक पूरा किया। अफ़गानिस्तान के बॉलर यासीन अमजद जई ने भारत के तीन बफ़ादार ने दो विकेट लिये।

अफ़गानिस्तान ने पहली इनिंग में 109 रन बनाये जिसमें नबी ने सबसे अधिक 24 रन और 15 रन की पारी मुजीब उल रहमान ने खेली अन्य बल्लेबाज कुछ खास नही कर सके, भारत के स्पिन गैदबाज रविचन्द्रन अश्विन ने अफ़गानिस्तान के सबसे अधिक चार विकेट चटकाये,इसके अलावा इशान्त शर्मा और रवीन्द्र जडेजा ने दो दो और एक विकेट उमेश यादव ने लिया और एक खिलाड़ी रन आउट हुआ।

अफ़गानिस्तान को फ़ॉलोआन मिला दूसरी पारी में वह केवल 103 रन ही बना सका।जिसमे उसके कप्तान असगर स्टानिक कजई ने 25 रन और हशमत उल्ला शाहिदी ने नाबाद रहते हुए सबसे अधिक 36 रन बनाये,भारत के स्पिनर रवीन्द्र जडेजा ने इस इनिंग में केवल 17 रन देकर 4 विकेट लिये और उमेश यादव ने 3 ,इशान्त शर्मा ने 2 और 1 विकेट अश्विन ने लिया। अफ़गानिस्तान 38.4 ओवर में 103 रन पर अॉल आउट हो गया और भारत ने एक पारी और 262 रन से अफ़गानिस्तान को शिकश्त देकर टेस्ट मैच में लगातार नवीं जीत हासिल की।

खास बात हैं टेस्ट मैच में भारत दुनिया में नम्बर एक की पायदान पर हैं जबकि अफ़गानिस्तान को आई सी सी ने अभी टेस्ट मैच खेलने की अनुमति प्रदान की हैं और भारत के साथ उसका डेब्यू मैच था इस तरह यह पहले और बारहवें नम्बर की टीमों के बीच मैच था, लेकिन अफ़गानिस्तान को अभी बहुत कुछ सीखना है भारत भी 20 साल बाद अपना पहला टेस्ट जीता था। जबकि भारत के कप्तान आजिक्य रहाणे ने खेल भावना का परिचय देते हुए कप के साथ जीत का जश्न अफ़गानिस्तान के साथ मनाया और दौनो टीमो ने फ़ोटो सेशन में भाग लिया।

read more
खेल

धोनी के धुरंधरो ने हैदराबाद को धोया, आईपीएल के फ़ाइनल में हासिल की जीत, तीसरी बार चैन्नई बनी चैम्पियन, वाटसन का नाबाद शतक्

csk
  • धोनी के धुरंधरो ने हैदराबाद को धोया, आईपीएल के फ़ाइनल में हासिल की जीत,
  • तीसरी बार चैनई बनी चैम्पियन ,वाटसन का नाबाद शतक्

मुंबई / आईपीएल – 11 के फ़ाइनल में महेन्द्र सिंह धोनी के जांबाजो ने सनराईजर्स हैदराबाद को 8 विकेट से करारी शिकश्त दे दी इस जीत में शैन वाटसन ने नाबाद शतकीय पारी खेली जो चैनई को चेम्पियन बनाने का आधार बना। खास बात रही कि सीएसके नौ में से सात बार आईपीएल के फ़ाइनल में पहुँची और तीसरी बार आईपीएल की चेम्पियन बनी हैं।

चेन्नई सुपर किंग के कप्तान महेन्द्र सिंह धोनी ने आईपीएल 2018 के फ़ाइनल में टांस जीता और सनराइजर्स हैदराबाद को पहले बल्लेबाजी करके का न्योता दिया,शिखर धवन और विकेट कीपर बल्लेबाज श्रीमंत गोस्वामी ने पारी की शुरूआत की लेकिन तेजी से रन चुराने के चक्कर में गोस्वामी 9 रन पर रन आउट हो गये उस समय हैदराबाद का स्कोर सिर्फ़ 13 रन था,इसके बाद आये कप्तान केन विलियम्सन ने धवन ले साथ तेजी से रन बनाना शुरू किया लेकिन नवें ओवर में जब टीम का स्कोर 64 रन था तब रविन्द्र जड़ेजा की वाल् पर धवन 26 रन (25 वाल) बनाकर क्लीन बोल्ड हो गये,लेकिन वही कप्तान ने शाकिब उल हसन के साथ पारी कि आगे बढ़ाया लेकिन विलियम्सन को कर्ण शर्मा की बाल पर धोनी ने स्टम्प आउट कर दिया और हैदराबाद ने पारी के 13 वें ओवर में 101 रन पर तीसरा विकेट खो दिया।

विलियम्सन ने 47 रन (36 बाल)बनाये,शाकिब का साथ देने आये युसुफ़ पठान ने तेजी से रन बनाना शुरू किया दौनो के बीच 32 रन की साझेदारी हुई तब शाकिब (23 रन, 15 बाल) को ब्राबो ने सुरेश रैना के हाथों कैच करा दिया, 133 रन पर यह चौथा विकेट गिरा,पर इसके बाद आये दीपक हुडडा 3 रन पर एनगिडी की बाल पर कैच आउट हो गये। हैदराबाद का चौथा विकेट 144 रन पर गिरा। लेकिन दूसरे छोर पर युसुफ़ जमे रहे और ब्रेथवेट के साथ मिलकर उन्होंने हैदराबाद का स्कोर 178 रन पर पहुंचा दिया लेकिन ब्रेथवेट 20 वे ओवर की अंतिम गैंद पर पर 21 रन (11 बाल) बनाकर शार्दुल ठाकुर की बाल पर रायडू के हाथो कैच आउट हो गये,युसुफ़ ने नाबाद रहकर सिर्फ़ 25 बाल में 45 रन की पारी खेली और हैदराबाद की पारी 6 विकेट पर 178 पर खत्म हो गई।सीएसके के एनगिडी ,कर्ण शर्मा,जडेजा ,शार्दुल और ब्राबो ने हैदराबाद का एक एक विकेट चटकाया एक बल्लेबाज रन आउट हुआ।हैदराबाद की पारी में कुल 5 छक्के लगे।

चैन्नई की शुरुआत काफ़ी धीमी रही, शैन वाटसन और डुप्लेसिस ओंपनिग करने उतरे भुवनेश्वर ने पहला ओवर मेडिन किया,दूसरे ओवर में संदीप शर्मा मे केवल 5 रन दिये चौथे ओवर में संदीप शर्मा ने डुप्लेसिस को अपने बाल पर कैच कर लिया और 14 रन पर सीएसके ने अपना पहला विकेट खो दिया इसके बाद आये रैना और वाटसन ने सधी हुई बल्लेबाजी की और जमने लगे उसके वाटसन ने जोरदार बल्लेवाजी की और धुरंधर स्पिनर राशिद खान् सहित सभी गैन्दबाजो की खूब धुनाई की और स्कोर को तेजी से आगे बढाया, और संदीप शर्मा ने पारी के तेरहवें ओवर में 27 रन लुटा दिये और वाटसन ने उसमे तीन छक्के उडाये।जब स्कोर 133 था तब ब्रेथवेट ने रैना को विकेट कीपर गोस्वामी ले हाथो केच करा दिया रैना ने 32 रन (24 बाल) बनाये।

इसके बाद आये अवन्ति रायडू और वाटसन ने मिलकर बिना विकेट खोये 48 रन की साझेदारी की और 2 विकेट पर 181 बनाकर फ़ाइनल जीत लिया, खास रहा धीमी शुरूआत करने वाले वाटसन ने हैदराबाद के बालरो ली खूब धुनाई की और सिर्फ़ 57 बाल खेलकर नाबाद 117 बनाये इस आईपीएल 2018 में वाटसन का यह दूसरा शतक है रायडू ने नाबाद 16 रन (19 बाल) बनाये। फ़ाइनल के मेन अॉफ़ द मैच ताबड़तोड़ बल्लेबाजी कर चैनई को जीत दिलाने वाले वाटसन रहे। हैदराबाद के गैन्दबाज संदीप शर्मा ने 4 ओवर में 52 रन देकर एक और ब्रेथवेट मे 2.3 ओवर में 27 रन देकर एक विकेट हासिल किया जबकि उसका और कोई गैन्दबाज आज नही चला।

read more
खेलविदेश

काँमन वेल्थ गेम- भारत ने आज तीन गोल्ड मेडल जीते, मनु ,पूनम के साथ महिला टेबल टेनिस टीम ने सोने पर जमाया कब्जा

Common Wealth Games

काँमन वेल्थ गेम- भारत ने आज तीन गोल्ड मेडल जीते, मनु , पूनम के साथ महिला टेबल टेनिस टीम ने सोने पर जमाया कब्जा

आस्ट्रेलिया / काँमन वेल्थ गेम में भारत ने आज तीन गोल्ड मेडल और प्राप्त किये इस तरह सात गोल्ड मेडल लेकर भारत पदक तालिका में चौथे स्थान पर पहुंच गया है। भारत की मनु भाकर ने 10 एम एयर पिस्टल के फ़ाइनल में गोल्ड मेडल पर कब्जा जमाया तो पूनम यादव ने वेट लिफ़्टिन्ग में गोल्ड मेडल जीता।

वही भारत की टेबल टेनिस की महिला टीम ने सिंगापुर की महिला टीम को 3-1 से शिकश्त देकर गोल्ड मेडल प्राप्त किया। खास रहा आज भारतीय महिला हाँकी टीम ने अपना तेज तर्रार खेल दिखाते हुए इंगलेण्ड जैसी धाकड टीम को 2-1 से पराजित कर दिया और पूल में बड़त बनाली है।

अब 7 गोल्ड 2 सिल्वर और 3 व्रोन्ज मेडल के साथ भारत ने 12 पदक प्राप्त कर लिये है और वह काँमन वेल्थ गेम की पदक तालिका में चौथे स्थान पर आ गया है।

read more
खेल

काँमन वेल्थ गेम- वेट लिफ़्टिन्ग में चानू ने गोल्ड और गुरुराजा ने सिल्वर मेडल हासिल किया

Common Wealth Games

काँमन वेल्थ गेम- वेट लिफ़्टिन्ग में चानू ने गोल्ड और गुरुराजा ने सिल्वर मेडल हासिल किया

आस्ट्रेलिया / काँमन वेल्थ गेम में आज भारत की खिलाड़ी मीरा बाई चानू ने वेट लिफ़्टिन्ग में देश के लिये पहला गोल्ड मेडल जीता वही पुरुष वर्ग में पी गुरुराजा ने सिल्वर मेडल जीतकर देश का नाम रोशन किया।

मीराबाई चानू ने 48 किलो वर्ग में 196 केजी बजन उठाकर गोल्ड मेडल प्राप्त किया, 23 वर्षीय मीरा मणिपुर की रहने वाली है। खास बात है मीरा ने चारों चक्र में लगातार वेट को बढाकर नया रिकार्ड भी बनाया जबकि भारत के पी गुरुराजा ने 56 किलो वर्ग में 249 किलो बजन उठाकर सिल्वर मेडल जीता।

read more
खेल

भारत ने कार्तिक के छक्के से टी 20 ट्राइ सीरीज अपने नाम की, फ़ाइनल में बंगलादेश को 4 विकेट से पीटा

Indian team Second
  • भारत ने कार्तिक के छक्के से टी 20 ट्राइ सीरीज अपने नाम की,
  • फ़ाइनल में बंगलादेश को 4 विकेट से पीटा

कोलम्बो / कोलम्बो के प्रेमदासा स्टेडियम पर आज भारत के विकेट कीपर बल्लेबाज दिनेश कार्तिक ने इतिहास रच दिया। केवल 8 बाल में 29 रन और खेल की अन्तिम बाल पर छक्के की बदौलत भारत ने बंगला देश को 4 विकेट से हराकर निदास त्रिकोणीय सीरीज ट्राफ़ी अपने नाम करली।मेन आँफ़ द मैच दिनेश कार्तिक रहे।

भारत ने टाँस जीतकर पहले बाँलिंग का निर्णय लिया,बंगला देश ने सधी हुई बल्लेबाजी की परन्तु भारत के स्पिनरों का सामना करने वे सफ़ल नही हो पाये पहले वाशिंगटन सुन्दर ने ओपनर लिटन दास (12 रन) का विकेट लिया उसके बाद युजवेन्द्र चहल ने तीन विकेट चटकाकर बंगलादेश को बेक फ़ुट पर धकेल दिया और बंगलादेश का स्कोर 4 विकेट पर 68 रन हो गया,जिसमें तमीम इकबाल 15 रन,सोम्य सरकार 1 रन और मिसफ़िकुर रहीम 9 रन सस्ते में आउट हो गये, लेकिन दूसरे छोर पर सब्बीर रहमान खासकर तेज गैन्दबाजों की जोरदार धुनाई करते रहे उनका मेहदुल्लाह ने अच्छा साथ दिया लेकिन गलत फ़हमी के चलते मेहदुल्लाह 21 रन पर रन आउट हो गये इस तरह बंगलादेश ने 104 रन 5 विकेट खो दिये,तेजी से बनाने के चक्कर में कप्तान शकीब उल हसन रन आउट हो गये,परन्तु मेंहदी हसन ने सब्बीर का अच्छा साथ दिया, लेकिन उनादकट ने अपने आखिरी ओवरो मे सब्बीर को 77 रन पर और रूबल हुसैन को शून्य पर आउट कर दिया परन्तु बंगला देश 8 विकेट पर 166 रन बनाने में सफ़ल रहा।वही मैहदी 19 रन पर नोट आउट लौटे इस तरह भारत को बंगला देश ने जीत के लिये 167 रन का लक्ष्य दिया।

भारतीय कप्तान रोहित शर्मा ने तेज शुरूआत की लेकिन आज शिखर धवन और सुरेश रैना उनका साथ नही दे सके धवन को 10 रन पर कप्तान सकीब उल हसन ने और रैना को रुबेल ने शून्य पर चलता कर दिया भारत का स्कोर 33 रन पर 2 विकेट हो गया। इसके बाद आये के. एल. राहुल, रोहित का साथ देने आये लेकिन 24 रन पर वे रूबेल का शिकार हो गये बड़ते दबाव के चलते रोहित छक्का मारने के चक्कर में नजमुल की बाल पर 56 रन पर आउट हो गये और भारत का स्कोर 4 विकेट पर 98 हो गये,वही मनीष पांडे ने तेज रन बनाये लेकिन दूसरे छोर पर विजय शंकर के डाट बाल खेलने से भारत पर दबाव बन गया और इसी के चलते मनीष पांडे 28 रन पर सब्बीर की बाल पर आउट हो गये।

उसके बाद आये दिनेश कार्तिक ने 19 वे रूबेल के ओवर में धुंआधार पारी खेली और दो छक्के और एक चौके के 18 रन बनाये भारत को अन्तिम ओवर में 12 रन की जरूरत थी और बालर थे सोम्य सरकार इस बीच विजय (17 रन) सोम्य की बाल पर कैच आउट हो गये भारत को अंतिम दो बाल में 9 रन चाहिये थे, और स्ट्राइक पर थे दिनेश कार्तिक सोम्य की पाँचवी बाल पर कार्तिक ने चौका जड़ दिया, सोम्य सरकार ने आखिरी बाल यार्कर लेन्थ पर की जिस पर कार्तिक ने छक्का जड़ दिया और भारत ने इस रोमांचक मैच को कार्तिक के अंतिम बाल पर लगाये छक्के से 4 विकेट से जीत लिया और इस त्रिकोणीय सीरीज पर कब्जा जमा लिया।

कार्तिक ने केवल 8 बाल खेली और 2 चौके और 3 छक्को के साथ नाबाद 29 रन बनाये।आज विजय शंकर को कार्तिक के ऊपर भेजना भारत और रोहित के लिये उल्टा दाँव पड़ गया और विजय ने लगातार चार डाट बाल खेल कर भारत पर दबाव बना दिया था पर भारत की हार को कार्तिक ने अपने बलबूते जीत में बदल दिया।वही भारत के स्पिनर चहल ने 4 ओवर में केवल 18 रन देकर 3 विकेट और सुन्दर के 4 ओवर में 20 रन देकर 1 विकेट लेने से बंगला देश 166 रन ही बना सका। सुन्दर ने पूरी सीरीज में 8 विकेट लिये और मेन आँफ़ द सीरीज रहे।

read more
खेल

भारत ने बंगलादेश को 17 रनों से हराकर निदान ट्राँफ़ी के फ़ाइनल में प्रवेश किया, तूफ़ानी 89 रन बनाने वाले रोहित बने मेन आँफ़ द मैच

Indian team Second
  • भारत ने बंगलादेश को 17 रनों से हराकर निदान ट्राँफ़ी के फ़ाइनल में प्रवेश किया…
  • तूफ़ानी 89 रन बनाने वाले रोहित बने मेन आँफ़ द मैच…

कोलम्बो / भारत ने बंगला देश को 17 रनों से हराकर निदास ट्राँफ़ी के फ़ाइनल में प्रवेश कर लिया। भारत ने कप्तान रोहित शर्मा के 89 रनों की बदौलत 176 का स्कोर बनाया ,लेकिन बंगला देश निर्धारित ओवर्स में 159 रन ही बना सका। अब इस टी 20 त्रिकोणीय ट्राफ़ी के फ़ाइनल में भारत का मुकाबला श्रीलंका और बंगलादेश के बीच मैच के विजेता से होगा। रोहित मेन आँफ़ द मैच रहे।

टास जीतकर बंगलादेश ने भारत से पहले बल्लेबाजी करने को कहा।भारतीय कप्तान रोहित और शिखर धवन ने सम्हलकर लेकिन तेज शुरूआत की 70 रन के स्कोर पर धवन 36 रन बनाकर आउट हो गये परन्तु सुरेश रैना के साथ रोहित ने स्कोर को आगे बढाना जारी रखा रैना ने भी उनका अच्छा साथ दिया दूसरे विकेट के रूप में दौनो केबीच 102 रन की साझेदारी हुई रैना 30 बाल में 47 रन बनाकर आउट हो गये यह दौनो विकेट बंगलादेश के तेज गैन्दबाज रूबेल हुसैन के खाते में गये,20 वें ओवर की अन्तिम बाल पर रोहित 89 रन (61बाल) पर रन आउट हो गये और भारत ने 3 विकेट पर 176 रन पर पारी समाप्त की, दिनेश कार्तिक 2 रन पर नाबाद रहे।

बंगलादेश को जीत के लिये 177 रन बनाने की चुनौती मिली लेकिन वह वाशिंगटन सुन्दर और की युजवेन्द्र चहल की धातक गैन्दवाजी के सामने 159 रन ही बना सका और 17 रन से बंगलादेश को पराजित कर भारत इस त्रिकोणीय सीरीज के फ़ाइनल में पहुँच गया, बंगलादेश की शुरुआत तमीम इकबाल और लिटन दास ने की लेकिन दास सुन्दर की बाल पर 7 रन बनाकर आउट हो गये इसके बाद सुन्दर ने तमीम ( 27 रन) और सोम्य सरकार (7 रन) को भी चलता किया और बंगला देश ने 3 विकेट 40 रन पर गंवा दिये,परन्तु दूसरे छोर पर श्रीलंका के खिलाफ जीत दिलाने वाले मुशफ़िकुर रहीम जमे रहे उन्होने नाबाद 72 रन (56 बाल) की बेहतरीन पारी खेली पर वे भी अपनी टीम को जीत नही दिला सके, रहमान के 27 रन पर शार्दुल ठाकुर की बाल आउट होने के बाद कोई भी बंगला देशी बल्लेबाज नही चला और बंगलादेश निर्धारित 20 ओवर्स में 6 विकेट पर 159 रन ही बना सकी,सुन्दर ने 4 ओवर में सिर्फ़ 22 रन देकर 3 और चहल ने 21 रन देकर 1 विकेट लिया वही शार्दुल और सिराज ने बंगलादेश के एक एक बल्लेबाज को आउट किया,मेन आँफ़ द मैच 89 रन की पारी खेलने वाले भारत के कप्तान रोहित शर्मा रहे।

read more
खेल

भारतीय महिला क्रिकेट टीम ने अंतिम टी 20 में दक्षिण अफ़्रीका को 54 रन से करारी शिकश्त दी, 3-1 से सीरीज पर जमाया कब्जा

Womens Cricket Team
  • भारतीय महिला क्रिकेट टीम ने अंतिम टी 20 में दक्षिण अफ़्रीका को 54 रन से करारी शिकश्त दी…
  • 3-1 से सीरीज पर जमाया कब्जा

केपटाउन / भारतीय महिला क्रिकेट टीम ने अंतिम टी 20 मैच में दक्षिण अफ़्रीकी महिला टीम को 54 रन से करारी शिकश्त दी और भारत ने 3 -1 से सीरीज पर कब्जा जमा लिया,प्लेयर आँफ़ द सीरीज भारतीय बल्लेबाज मिताली राज रही।

पहले बल्लेबाजी करते हुए भारत ने, 4 विकेट पर 166 का स्कोर बनाया 32 रन के कुल स्कोर पर स्मृति मंधाना (13 रन) के रूप में भारत का पहला विकेट गिरा लेकिन मिताली राज और रोडरीज्यूस के बीच दूसरे विकेट की 98 रन की साझेदारी हुई खाका की बाल पर 44 रन (34 बाल) पर रोडरीज्यूस और उसके बाद शबनीम इस्माइल की बाल पर मिताली 62 रन बनाकर चलती बनी और भारत का स्कोर 3 विकेट पर 134 रन हो गया,वही कप्तान हरमनप्रीत कोर 27 रन पर नाबाद रही वही वेदा कृष्णमूर्ति 8 रन पर अंतिम बाल पर रन आउट हो गई और भारत ने 4 विकेट पर 166 रन का स्कोर बना लिया, दक्षिण अफ़्रीका बालर काप, खाका और इस्माइल को एक एक विकेट मिला।

जीत के लिये दक्षिण अफ़्रीका को 167 बनाना थे लेकिन उसकी धीमी रन गति और लगातार विकेट गिरने से वह भारत के सामने कोई चुनोती पेश नही कर सकी, कप्तान वेन निकर्क 10 रन बनाकर पूजा धर की बाल पर आउट हो गई स्कोर 12 रन पर एक विकेट हो गया,उसके बाद सुने लूस 5 रन और ली 3 रन पर आउट हो गई इस तरह दक्षिण अफ़्रीका का स्कोर 3 विकेट पर 20 रन हो गया, मेग्नान डुप्रीज 17 रन, कोले ट्रेयोन 25 रन और मार्जिन काप ने 27 रन बनाकर दक्षिण अफ़्रीका को कुछ राहत दी लेकिन पूरी टीम 112 रन बनाकर आउट हो गई, भारतीय गैंदबाज पूजा धर, शिखा पाण्डे और गायकवाड़ ने 3 – 3 और पूनम यादव ने अफ़्रीका का एक विकेट लिया। और दक्षिण अफ़्रीका की पूरी पारी 112 रन पर ढह गई और भारत ने 54 रन से जीत हासिल कर ली इस तरह भारतीय महिला टीम ने चार मैचों की यह सीरीज 3-1 से अपने नाम कर ली।

read more
खेल

अंतिम टी 20 में भारत ने दक्षिण अफ़्रीका को 7 रन से पराजित किया, सीरीज 2-1 से अपने नाम की भारत ने

kohli-m
  • अंतिम टी 20 में भारत ने दक्षिण अफ़्रीका को 7 रन से पराजित किया,
  • सीरीज 2-1 से अपने नाम की भारत ने

केपटाउन / अंतिम टी 20 क्रिकेट मैच में भारत ने दक्षिण अफ़्रीका को 7 रन से पराजित कर 2- 1 से सीरीज अपने नाम कर ली, पहले खेलते हुए भारत ने 172 रन बनाये जिसके जबाव में दक्षिण अफ़्रीका 6 विकेट पर 165 रन ही बना सका,मेन आँफ़ द मैच एक विकेट लेने के साथ ताबड़तोड़ 43 रन बनाने वाले सुरेश रैना और मेन आँफ़ द सीरीज भुवनेश्वर कुमार रहे।

अंतिम टी 20 मैच काफ़ी रोमांचक रहा,टास जीतकर दक्षिण अफ़्रीका ने भारत को पहले बल्लेबाजी के लिये आमंत्रित किया, भारत ने शिखर धवन के 47 रन (41बाल) और सुरेश रैना के सिर्फ़ 27 बाल में तेजी से बनाये 43 रन और हार्दिक पान्डया के 21 रन की बदोलत 172 रन का स्कोर किया और जीतने के लिये दक्षिण अफ़्रीका को 173 रन बनाने की चुनौती दी, दक्षिण अफ़्रीकी बालर डाला ने सबसे अधिक तीन विकेट लिये। इसके अलावा क्रिस मोरिस ने 2 और शम्शी ने एक भारतीय बल्लेबाज को आउट किया।

भारत की कसी हुई गैन्दवाजी के सामने दक्षिण अफ़्रीका की शुरुआत काफ़ी धीमी रही,उसका पहला विकेट 12 रन के स्कोर पर गिरा जब रीजा हेन्डिक्स (7 रन) को बुमराह ने शिखर धवन के हाथों कैच आउट करवाया उसके बाद रैना की बाल पर डेविड मिलर 24 रन बनाकर आउट हो गये उसके बाद क्लासेन भी 7 रन पर पान्डया की बाल पर चलते बने और दक्षिण अफ़्रीका का स्कोर 3 विकेट पर 79 रन हो गया परंतु दूसरे छोर पर कप्तान जेपी डुमनी जमे रहे उन्होंने जोइनकर के साथ तेजी से रन बटोरे पर शार्दुल ठाकुर की बाल पर डुमनी 55 रन (41 बाल) को रोहित ने लपक लिया उसके बाद आये क्रिस मोरिस भी 4 रन पर बुमराह की बाल पर आउट हो गये और दक्षिण अफ़्रीका 114 रन पर 5 विकेट खो चुका था, इसके बाद आये बेहरदीन ने जोइनकर का अच्छा साथ दिया और 19 वे ओवर में बुमराह बालिन्ग करने आये पर उनका ओवर पिटने के बाद अंतिम 20 वें ओवर में दक्षिण अफ़्रीका को जीत के लिये 19 रन चाहिये थे लेकिन भुवनेश्वर ने केवल 12 रन देने के साथ ओवर की अंतिम बाल पर जोइनकर को ( 49 रन, 24 बाल) को आउट कर भारत को 7 रन से जीत दिला दी।

read more
खेलग्वालियरमध्य प्रदेश

सिंधिया गोल्ड कप हॅाकी टूर्नामेंट बुधवार से, देशभर की 16 टीमें ले रही है हिस्सा

Hockey

सिंधिया गोल्ड कप हॅाकी टूर्नामेंट बुधवार से, देशभर की 16 टीमें ले रही है हिस्सा

ग्वालियर- ग्वालियर में 14 से 21 फरवरी तक 81 वीं अखिल भारतीय सिंधिया स्वर्ण कप हॉकी टूर्नामेंट आयोजित की जा रही है। इस हॉकी टूर्नामेंट में देश के अलग-अलग राज्यों की 16 टीमें भाग ले रही है, तो वही दो लोकल टीमे हिस्सा ले रही है। जिसमें विजेता टीम को 3 लाख और उपविजेता टीम को 2 लाख रूपए की राशि से पुरस्कृत किया जाएगा।

गौरतलब है कि अखिल भारतीय सिंधिया स्वर्ण कप हॉकी टूर्नामेंट की शुरुआत सन् 1923 मे हुई थी। किन्ही कारणों के चलते यह प्रतियोगिता 1947 से 1959 तक बंद रही। लेकिन सन् 1960 से ग्वालियर नगर निगम ने इस प्रतियोगिता का आयोजन का दायित्व संभाला और यह सिलसिला आज तक चला आ रहा है…। महापौर विवेक शेजवलकर ने यहां बताया कि इस 21वी सिंधिया गोल्ड कप हॅाकी प्रतियोगिता को कंपू स्थित हॅाकी अकादमी में आयोजित किया जाएगा। यहां हाल ही में नया टर्फ बिछाया गया है। महापौर का यह भी कहना है कि पिछले कुछ सालों में हॅाकी के प्रति लोगो में रूझान बढा है। यहां की महिला हॅाकी अकादमी से राष्ट्रीय स्तर पर खिलाडी निकली है। उन्होंने बताया कि इस प्रतियोगिता में हॅाकी इंडिया का विशेष सहयोग मिल रहा है। गौरतलब है कि ग्वालियर के विख्यात खिलाडी स्वर्गीय शिवाजीराव पवार आलंपियन रह चुके है।

read more
खेल

भारत ने अंडर 19 वर्ड कप जीता, ऑस्ट्रेलिया को 8 विकेट से दी करारी शिकश्त

India Wins WorldCUp 2018
  • भारत ने अंडर 19 वर्ड कप जीता ऑस्ट्रेलिया को 8 विकेट से दी करारी शिकश्त,
  • नाबाद शतक बनाने वाले मनजोत मेन आफ़ द मैच तो गिल बने मेन आफ़ द सीरीज।

टौरांग (न्यूजीलैंड) – भारत ने अंडर 19 वर्ड कप क्रिकेट टूर्नामेंट के फ़ाइनल में आष्ट्रेलिया को 8 विकेट के बड़े अंतर से करारी शिकश्त देकर वर्ड कप पर अपना कब्जा कर लिया भारत ने चौथी बार यह खिताब अपने नाम किया है।

नाबाद शतक बनाने वाले भारत के बल्लेबाज मनजोत कालरा मेन आँफ़ द मैच और टूर्नामेंट में 372 रन बनाने वाले शुभमन गिल मेन आँफ़ सीरीज बने। खास बात रही भारत ने 38.5 ओवर्स में जीत का लक्ष्य प्राप्त किया।

भारत की धारदार बांलिग के सामने आस्ट्रेलिया की टीम पूरे ओवर्स भी नही खेल सकी पहले बल्लेबाजी करते हुए आष्ट्रेलिया 47.2 ओवर्स में 216 रन बनाये और आँल आउट हो गई। उनके शुरुआती तीन विकेट केवल 59 रन पर गिर गये थे उनके बल्लेबाज जोनाथन मेर्लो ने सबसे अधिक 76 रन (102 बाल) बनाये उन्होंने परम उप्पल के साथ चौथे विकेट के लिये 75 रन की साखेदारी भी की लेकिन उप्पल को 34 रन पर अनुकूल ने अपनी बाल पर कैच कर आउट कर दिया उसके बाद मेक्स वेनरे (23 रन) ही कुछ समय टिककर बल्लेबाजी कर सके ओपनर एडवर्ड्स ने 28 रन की पारी खेली, इसके अलावा कोई भी बल्लेबाज भारत की धातक गैन्दवाजी के सामने टिक नही सके और पूरी टीम 216 रन पर सिमट गई। भारत के बालर कमलेश नागरकोटी, इशान,शिवा और अनुकूल राय ने 2 – 2 और मावी ने एक विकेट लिया और आष्ट्रेलिया का एक खिलाड़ी रन आउट हुआ।

भारत की शुरूआत काफ़ी ठीक ठाक रही, कप्तान प्रथ्वी शाँ और मनजोत कालरा ने तेजी से रन बनाये भारत का पहला विकेट 71 रन पर गिरा अच्छा खेल रहे प्रथ्वी सदरलेंड की एक सीधी बाल पर बोल्ड हो गये इसके बाद आये शुभमन गिल ने मनजोत के साथ भारत की पारी को आगे बढाया, लेकिन 131 के स्कोर पर गिल परम उप्पल की बाल पर 31 रन पर आउट हो गये लेकिन दूसरे छोर पर जमे मनजोत ने शतक ही नही बनाया बल्कि हार्दिक देसाई के साथ भारत को जीत दिलादी भारत ने दो विकेट पर 220 रन बनाये जिसमें मनजोत ने 102 बाल में नाबाद 101 रन बनाये तो हार्दिक ने नाबाद 47 रन( 61 बाल) की पारी खेली,और भारत ने मैच 8 विकेट से जीतकर चौथी बार वर्ड कप पर कब्जा कर लिया ।

read more